Breaking News
Home / Uttatakhand Districts / Almora / देवभूमि के मतदाताओं ने तोड़ा रिकार्ड,नई सरकार चुनने को 68 फीसद से अधिक मतदाता आए आगे,- उत्तरकाशी, यूएसनगर, हरिद्वार में सबसे अधिक वोट पड़े

देवभूमि के मतदाताओं ने तोड़ा रिकार्ड,नई सरकार चुनने को 68 फीसद से अधिक मतदाता आए आगे,- उत्तरकाशी, यूएसनगर, हरिद्वार में सबसे अधिक वोट पड़े

देहरादून। देवभूमि उत्तराखंड के मतदाताओं ने इस बार विधानसभा के पिछले तीन चुनावों का रिकार्ड तोड़ दिया है। बुधवार को हुए मतदान में शाम पांच बजे तक प्रदेशभर में 68 फीसद मतदान हो चुका था, जबकि डेढ़ से दो लाख के बीच लोग वोट डालने के लिए पोलिंग बूथों पर लाइन में खड़े थे। साफ है कि मतदान का प्रतिशत और बढ़ेगा। इस बीच, उत्तराखंड विधानसभा चुनाव का मतदान छिटपुट घटनाओं को छोड़कर शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न हो गया। प्रदेश में हुई इन छुटपुट घटनाओं पर सुरक्षा बलों से समय रहते काबू पाकर स्थिति को सामान्य कर दिया। रुद्रपुर में महिला की पिटाई के मामले में चुनाव आयोग ने जांच कराने की बात कही है। लक्सर में एक लाख की नगदी पकड़ी गई है। प्रदेश में दर्जनों स्थानों पर ईवीएम मशीन में खराबी के कारण मतदान में व्यवधान भी पहुंचा। सहसपुर में आचार संहिता के उल्लंघन का मामला सामने आया। एक युवक द्वारा बेरोजगारी भत्ता कार्ड बांटे जा रहे थे। उत्तरकाशी के पुरोला में चार पोलिंग बूथों पर मतदान का बहिष्कार किया गया। इस क्षेत्र के लोग सड़क न बनने से नाराज थे। रुड़की ढाढ़ेकी गांव में दो ईवीएम मशीन खराब होने से करीब एक घंटे मतदान बाधित रहा।
मुख्य चुनाव अधिकारी राधा रतूड़ी के अनुसार राज्य में विधानसभा की 69 सीटों के लिए शाम पांच बजे तक औसतन 68 प्रतिशत मतदान हुआ। कर्णप्रयाग सीट के लिए मतदान नौ मार्च को होगा। मतदाता जागरुकता अभियान के चलते इस बार मतदान को लेकर लोगों में खासा उत्साह देखने को मिला। उन्होंने बताया कि पांच बजे के बाद भी करीब डेढ़ लाख से अधिक लोग मतदान के लिए लाइनों में खड़े थे। उन्होंने मतदान प्रतिशत के 70 प्रतिशत तक जाने की उम्मीद जताई है। गुरुवार तक मतदान की सही तस्वीर सामने आ जाएगी।
इस बीच, शाम पांच बजे की रिपोर्ट के अनुसार प्रदेश में उत्तरकाशी में सबसे अधिक 73 फीसद मतदान होने की सूचना है। हालांकि, हरिद्वार और यूएसनगर में भी अच्छा-खासा मतदान होने के चलते इन जिलों के आगे निकलने की उम्मीद है। उन्होंने बताया कि नारी निकेतन की 68 संवासिनियों ने पहली बार मतदान किया। नारी निकेतन के लिए पहली बार आदर्श बूथ बनाया गया था। उन्होंने बताया कि मतदान के लिए 10685 मतदान केंद्र बनाए गए थे। जिनमें 1424 संवेदनशील और 1409 मतदान केंद्र अतिसंवेदनशील केंद्र के रूप में चिन्हित किए गए थे।
श्रीमती रतूड़ी ने बताया कि इस बार मतदान प्रतिशत पिछले चुनावों के आंकड़ों से बेहतर हैं। निर्वाचन आयोग द्वारा चलाए गए मतदाता शिक्षा कार्यक्रम की सफलता से कुछ क्षेत्रों में मतदान प्रतिशत बढ़ा है। उन्होंने बताया कि  गुरुवार तक सभी पोलिंग पार्टियां वापस आ जाएंगी। कहीं से किसी भी प्रकार की पुनर्मतदान की मांग नहीं की गयी है। न ही किसी के द्वारा किसी प्रकार की कोई शिकायत की गयी है। सीमावर्ती क्षेत्रों में भी कहीं से कोई फर्जी मतदान की घटना की सूचना नहीं मिली हैं।
पुलिस महानिरीक्षक एवं राज्य पुलिस नोडल अधिकारी दीपम सेठ ने बताया कि मतदान प्रक्रिया में छुटपुट घटनाओं के सिवा कोई बड़ी घटना दर्ज नहीं की गयी है। लक्सर में एक वाहन से एक लाख रूपये बरामद किये गए हैं। इस पर कार्यवाही करते हुए एफआईआर दर्ज कर ली गयी है। यह वाहन किसी राजनैतिक दल से संबंधित होने की जानकारी मिली है परन्तु इसकी अभी पुष्टि नहीं हो पाई है। रुद्रपुर में एक महिला की पिटाई होने की सूचना मिली है।

शाम पांच बजे तक मतदान का औसत
जनपद        प्रतिशत
देहरादून-     67
पौड़ी –      62
टिहरी – 60
उत्तरकाशी-  73
रुद्रप्रयाग – 63
अल्मोड़ा –  52
यूएसनगर- 70
हरिद्वार- 70
नैनीताल- 70
पिथौरागढ़- 60
चमोली- 61
बागेश्वर-  62
चम्पावत- 62
००
अब तक हुए चुनाव के आंकड़े
वर्ष             मतदान प्रतिशत
2002-          54.34
2007-          59.45
2012-        67.22
2017-        68 से अधिक

628 प्रत्याशियों का भाग्य ईवीएम में बंद
– 69 विभिन्न विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रों के लिए कुल 628 प्रत्याशियों का भाग्य ईवीएम में बंद हो गया है, जो आगामी 11 मार्च को परिणाम के रूप में बाहर आएगा। इस बार 69 सीटों के लिए चुनाव में 566 पुरुष प्रत्याशी, 60 महिला प्रत्याशी एवं दा ेअन्य प्रत्याशी चुनावी दंगल में हैं। इंडियन नेशनल कांग्रेस से 69 उम्मीदवार, बीजेपी से 69 उम्मीदवार, उत्तराखंड क्रांति दल से 51 उम्मीदवार, यूकेडी डेमोक्रेटिक से 7 उम्मीदवार, बहुजन समाज पार्टी से 68 उम्मीदवार, समाजवादी पार्टी से 21 उम्मीदवार,  भारतीय सर्वोदय पार्टी से 3 उम्मीदवार, राष्ट्रीय लोकदल से 8, उत्तराखंड परिवर्तन पार्टी से 8, हमारी जनमंच से 3 उम्मीदवार, सीपीआई से 5 उम्मीदवार, सीपीआई एमआईएल से 1 उम्मीदवार, सीपीएम से 4 उम्मीदवार मैदान में हैं। इसके अलावा अन्य छोटे दलों के और निर्दलीय प्रत्याशी भी बड़ी संख्या में चुनाव मैदान में हैं।
००

About saket aggarwal

Check Also

फिल्मी सितारों से चहका तुलाज इंस्टीट्यूट

रमेश सिप्पी, शरमन जोशी ने कि छात्रों से ख़ास मुलाक़ात देहरादून। राजधानी में चल रहे …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *