Home / Breaking News / अक्षय पात्र योजना को लेकर एमओयू साइन

अक्षय पात्र योजना को लेकर एमओयू साइन

 

देहरादून। प्रदेश के स्कूली बच्चों को केंद्रीयकृत किचन से तैयार मिड-डे-मील उपलब्ध कराने की दिशा में कदम आगे बढ़ा रही सरकार ने शुक्रवार को समझौता पत्र पर हस्ताक्षर किए। विधानसभा सभा स्थित स्कूली शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय के कार्यालय कक्ष में इस बाबत अक्षय पात्र योजना के लिए हंस फाउंडेशन, अक्षय पात्र फाउंडेशन और प्रदेश सरकार के बीच एमओयू साइन किया गया।
इस मौके पर शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय ने कहा कि इस अनुबन्ध से स्कूली छात्रों को गर्मा गरम गुणवत्ता युक्त पौष्टिक भोजन मिलेगा। उन्होंने बताया कि देहरादून, ऊधमसिंह नगर, नैनीताल व हरिद्वार जिलों में नौ केंद्रीयकृत किचन के लिए लगभग 70 करोड़ रुपये का आर्थिक अंशदान हंस फाउंडेशन करेगा। गढ़वाल मंडल के देहरादून के बाद शीघ्र कुमाऊं में भी दूसरे केंद्रीयकृत स्कूली किचन का शिलान्यास किया जाएगा।
उन्होंने कहा कि इस योजना से सरकार पर बजट का भार कम होगा। उन्होंने बताया कि केन्द्र सरकार की ओर से प्रति छात्र 6 रुपये प्रतिदिन का बजट मिड-डे-मील के लिए मिल रहा था है और यह बजट पौष्टिक भोजन देने के लिए अपर्याप्त था। हंस फाउंडेशन इस बजट में 4 रुपये अतिरिक्त अंशदान करेगा और इसके बाद कुल 10 रुपये में गुणवत्ता युक्त पौष्टिक भोजन छात्रों को उपलब्ध होगा। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि स्कूलों में गुणवत्ता युक्त शिक्षा पर बल दिया जायेगा। जल्द ही फीस एक्ट लाया जाएगा। अभी तक एनसीआरटी पाठ्य पुस्तक के रूप में मुद्रित की जा चुकी है। 60 प्रतिशत तक पुस्तकें बाजार में सप्लाई हो चुकी है। इस अवसर पर शिक्षा सचिव भूपेन्द्र कौर औलख व महानिदेशक शिक्षा कैप्टन आलोक शेखर तिवारी आदि भी मौजूद थे।

About saket aggarwal

Check Also

पूर्व स्वास्थ्य मंत्री बेहड़ प्रकरण में एसएसपी सख्त

रुद्रपुर। पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तिलक राज बेहड़ को फोन पर जान से मारने की धमकी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *