Home / Uttatakhand Districts / Almora / अल्मोड़ा: बदहाल स्वास्थ्य सेवाओं को दुरुस्त करो

अल्मोड़ा: बदहाल स्वास्थ्य सेवाओं को दुरुस्त करो

अल्मोड़ा। बदहाल स्वास्थ्य सेवाओं को दुरुस्त करने सहित प्रमुख छह सूत्रीय मांगों को लेकर जन स्वास्थ्य संघर्ष मोर्चा के सदस्यों ने बुधवार को जिलाधिकारी के माध्यम से मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत को ज्ञापन भेजा। मोर्चेे के सदस्यों ने कहा कि प्रदेश में लगातार हर मोर्चे पर लचर स्वास्थ्य सेवाओं के चलते आम जनता को भारी खामियाजा भुगतना पड़ रहा है। इस दौरान डीएम के समक्ष प्रत्येक माह में एक दिन स्वास्थ्य सेवाओं को लेकर जन सुनवाई करने की मांग भी रखी।
जन स्वास्थ्य संघर्ष मोर्चा के सदस्यों ने स्वास्थ्य सेवाओं में बरती जा रही लापरवाही एवं स्वास्थ्य सेवाओं के बाजारीकरण पर रोक लगाने सहित छह सूत्रीय मांगों को जिलाधिकारी के सामने रखा। साथ ही प्रदेश के मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन में मोर्चा के सदस्यों ने कहा कि प्रदेश में स्वास्थ्य सेवाओं का व्यापारीकरण किया जा रहा है जिस कारण गरीब तबके के ग्रामीणों को इसका खामियाजा भुगतना पड़ रहा है। उन्होंने मुख्यमंत्री से प्रदेश की लचर स्वास्थ्य सेवाओं को दुरुस्त करने, चिकित्सालयों में तकनीकी कर्मचारियों एवं उपकरणों की समुचित व्यवस्था करने की मांग भी की है। साथ ही अस्पतालों में महंगे उपकरणों सीटी स्कैन, टीएमटी और डायलेसिस मशीनों का प्रयोग नहीं करने पर सवाल भी उठाया है। उन्होंने उपचार में डॉक्टरों द्वारा बरती जा रही लापरवाही पर विशेष मॉनिटरिंग करने की मांग दोहराई है। जन स्वास्थ्य मोर्चा के सदस्यों ने जिलाधिकारी से भी माह में एक दिन स्वास्थ्य सेवाओं पर जन सुनवाई कराने की बात दोहराई है।
ज्ञापन सौंपने वालों में जन संघर्श मोर्चे के सदस्य पालिकाध्यक्ष प्रकाश जोशी, उपपा के केंद्रीय अध्यक्ष पीसी तिवारी, शिवदत्त पांडे, केवल सती, शिवराज बनौला, दीप सिंह डांगी, गोपाल राम, रेखा धस्माना, विमला देवी, जीवन चंद्र, दयाकृश्ण कांडपाल, महेश परिहार, पंकज कुमार, हयाद सिंह रावत, हेम तिवारी सहित अनेक सदस्य मौजूद रहे।

About saket aggarwal

Check Also

महिला का जेवरात से भरा बैग लेकर रिक्शा चालक फरार

हल्द्वानी। रिक्शा चालकों का आतंक सवारियों के सिर पर चढक़र बोल रहा है। आये दिन …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *