Breaking News
Home / Uttatakhand Districts / Almora / अल्मोड़ा: ठिठुरन से जन जीवन हुआ प्रभावित
कोहरे की चादर में लिपटा अल्मोड़ा, फोटो कमाल खॉवर (किट्टी) के सौजन्य से

अल्मोड़ा: ठिठुरन से जन जीवन हुआ प्रभावित

अल्मोड़ा। नगर में कड़ाके की ठंड के चलते जनजीवन अस्त व्यस्त हो चला है। ठंड के चलते लोग घरो में दुबकने पर मजबूर हो रहे है। सुबह शाम को जबरदस्त ठंड पड़ रही है। बीते शुक्रवार को पूरे दिन भर बदली छायी रही। हालत यह है कि घाटी से लगे कोसी, विश्वनाथ, क्वारब, सोमेश्वर, पेटशाल आदि क्षेत्रो मे घना कोहरा छाने लगा है। रात को न्यूनतम तापमान माइनस 1 डिग्री और दिन में अधिकतम 22 डिग्री तक पहुच रहा है। टैम्प्रेचर वेरीेयेशन के कारण लोगों को स्वांस संबधी समस्याये हो रही है। हर दिन सैकड़ो मरीज अस्पताल में इस प्रकार की समस्या लेकर आ रहे है। सूखी ठंड के चलते सांसो से संबधित बीमारियो के मामले बढ़ गये है। चिकित्सकों ने लोगों को ठंड मे ना निकलने, और गर्म कपड़े पहनने की सलाह दी है। आज दिन में धूप तो निकली लेकिन उसमे वैसी तपिश नही देखी गयी जो कुछ दिन पहले देखी जाती थी। हालत यह है कि बारिश हुए लगभग साढ़े तीन महीने से ज्यादा का समय हो चला है । वही काश्तकार भी बारिश की बाट जोहते जोहते थक चुके हैै।

ठंड से निराश्रितों को राहत दे रहे है रैन बसैरे
अल्मोड़ा। नगर में पड़ रही ठंड से निराश्रितों को राहत दिलाने के लिये नगर पालिका द्वारा खोले गये रैन बसैरे का शनिवार को उपजिलाधिकारी विवेक राय ने निरीक्षण कर व्यवस्थाओं का जायजा लिया। गौरतलब है कि पालिकाध्यक्ष प्रकाश चन्द्र जोशी की पहल पर पालिका ने नगरपालिका कार्यालय में कक्ष आवंटित कर रैन बसैरे की व्यवस्था ही गयी है। इससे निराश्रितों को ठंड से बचाव के लिये इधर उधर नही भटकना पड़ेगा। उपजिलाधिकारी के साथ निरीक्षण में पालिकाध्यक्ष प्रकाश चन्द्र जोश पालिका, अधिशासी अधिकारी श्याम सुंदर और सभासद अशोक पाण्डे भी मौजूद रहे।
बाक्स

About saket aggarwal

Check Also

किच्छा:गुस्साये लोगों ने रुकवाया निर्माण कार्य

किच्छा। एनएच विभाग व गल्फार कंपनी द्वारा करीब डेढ़ वर्ष पूर्व नगर के बाईपास स्थित …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *