Home / Breaking News / अल्मोड़ा बाजारा कमला ना मारा लटका…
नैनीताल जीजीआईसी में सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करती कलाकार।

अल्मोड़ा बाजारा कमला ना मारा लटका…

नैनीताल। नारी सेवा समिति नैनीताल के द्वारा भारत सरकार के संस्कृति मंत्रालय के सहयोग से आदर्श राजकीय कन्या इंटर कालेज में लोकगीत व नृत्य के माध्यम से हिमालय की सांस्कृतिक विरासत के संरक्षण व विकास का संकल्प लिया गया। इस दौरान समिति के कलाकारों ने अपनी प्रतिभा के बलबूते देवभूमि उत्तराखंड की लोक संस्कृति का खुलकर प्रदर्शन किया। कलाकारों ने अल्मोड़ा बाजारा कमला ना मारा लटका…, मोहना तू बैठी रै छे म्यरा दिल मां…,गीतों में नृत्य की प्रस्तुति देकर मौजूद लोगों को झूमने से मजबूर कर दिया। मुख्य अतिथि भाजपा जिलाध्यक्ष प्रदीप बिष्ट ने कहा कि लोक संस्कृति के संरक्षण व संवर्धन के लिए हम सभी को सामूहिक प्रयास करने होंगे। उन्होंने समिति के कलाकारों के प्रयासों की सराहना की। विशिष्ट अतिथि अपर जिलाधिकारी (प्रशासन) हरबीर सिंह ने कहा कि संस्कृति और समाज का आपस में घनिष्ठ सम्बंध है। सिंह ने कहा कि देवभूमि उत्तराखंड का लोक गीत व संगीत न केवल भारत में वरन् विश्व के कई देशों में अपनी अलग पहचान बना रहा है। मकसद संस्था के निदेशक भरत सिंह बिष्ट ने कहा कि किसी भी समाज की पहचान उसकी संस्कृति से होती है। कहा उत्तराखण्डी संस्कृति के संरक्षण व संवर्धन के लिए समिति के कलाकार जिस लगन और मेहनत से कार्य कर रहे हैं वह वाकई काबिले तारीफ है। इससे पूर्व नारी सेवा समिति की अध्यक्ष सरोज हर्ष ने सभी अतिथियों व आमंत्रित जनों का स्वागत कर समिति की गतिविधियों पर प्रकाश डाला। समारोह का शुभारंभ अतिथियों ने दीप प्रज्जवलित कर किया। उसके बाद कलाकारों ने विनोद कुमार के निर्देशन में हुड़किया बौल का संजीव मंचन किया। उन्होंने शाबास मेरो मोतिया बलदा…के अलावा गोविंदी त्यर मैतको जोगी एरो छ चिमटी छमाछम…, गोपुलि तेहुणि धमेली लाऊ…, ललिता मेहरा ने अल्मोड़ा बाजारा कमला ना मारा लटका…, मोहना तू बैठी रे छे म्यरा दिल मां…, हिट मेरी लछिमा पहाड़ नैं जानू हिट समेत कई लोक गीतों पर नृत्य प्रस्तुत किया। इस मौके पर विद्यालय की प्रधानाचार्या सावित्री दुग्ताल, वरिष्ठ कलाकार किशन लाल, क्षेत्रीय अभिलेख अधिकारी अजय कुमार, लता मिश्रा, चंचला बिष्ट, वंदना गिल, तरुण पांडे, आरसी दुबे, मनीषा, भगवती बिष्ट, हेमा साह, ललिता मेहरा, लक्ष्मण प्रसाद, सतीश, अजय, शुभम कुमार, संतोष, राधा, कविता, मंजू, अजय, भगवती बिष्ट, हेमा बिष्ट, मनीष, इंदू आदि मौजूद थे। संचालन विनोद कुमार ने किया।

 
लग जा गले की फिर हंसी रात…
नैनीताल। समारोह का संचालन कर रहे वरिष्ठ कलाकार विनोद कुमार ने जब विशिष्ट अतिथि एडीएम हरबीर सिंह से एक गाना सुनाने की फरमाइश की तो सिंह ने विनोद के इस आग्रह को तुरंत स्वीकार किया। उन्होंने लग जा गले की फिर हंसी रात हो ना हो शायद फिर इस जनम में मुलाकात हो ना हो… गीत गाकर समारोह में समा बांध दिया। सभी ने एडीएम के द्वारा गाये गये गीत को काफी सराहा।

About saket aggarwal

Check Also

हल्द्वानी:नेत्र शिविर 27 अक्टूबर से

हल्द्वानी। ज्वाला दत्त बेलवाल स्मृजि नेत्र रोग शिविर का इस वर्ष भी आयोजन किया जा …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *