Breaking News
Home / Breaking News / हल्द्वानी: कार्य बहिष्कार से अमृत योजना पर पडऩे लगा असर

हल्द्वानी: कार्य बहिष्कार से अमृत योजना पर पडऩे लगा असर

तीन माह से वेतन न मिलने से गुस्साये जल निगम कर्मियों का बेमियादी धरना जारी

हल्द्वानी। उत्तराखंड पेयजल निगम कर्मचारी महासंघ के आह्वïान पर कर्मचारियों का बेमियादी कार्य बहिष्कार जारी है। कर्मचारियों के कामकाज ठप रखने से पेयजल व सीवर संबंधी महत्वपूर्ण योजनाओं पर असर पडऩे लगा है।
तीन माह से वेतन न मिलने से गुस्साये जल निगम कर्मचारियों का कार्य बहिष्कार पांचवें दिन भी जारी रहा। शुक्रवार को जल निगम कर्मी नैनीताल रोड स्थित कार्यालय परिसर में धरने पर डटे रहे। इस बीच महासंघ के कुमाऊं प्रचार मंत्री शीतल साह ने बताया कि निगम कर्मियों के वेतन के साथ ही रिटायर कर्मचारियों को भी पेंशन नहीं मिला है। ऐसे में कर्मचारियों के समक्ष आर्थिक संकट खड़ा हो गया है। वहीं निगम के आलाधिकारी उनकी लगातार अनदेखी कर रहे हैं। निगम कर्मियों के अनुसार प्रदेश भर में कार्य बहिष्कार से जल व सीवर संबंधी योजनाओं पर असर पड़ रहा है। उन्होंने बताया कि यदि समय पर वेतन न मिला तो स्थिति और खराब हो सकती है। वहीं ठेकेदार भी भुगतान आदि को लेकर निगम के आला अफसरों पर दबाव बना रहे हैं। कार्य बहिष्कार करने वालों में महासंघ के जिलाध्यक्ष दीपेश सिंह स्वार, नरेंद्र सिंह, गोविंद राम, हीरा बल्लभ परगाई, पीएस मेहरा, डीके पाठक, रवींद्र फत्र्याल, सुरेंद्र सिंह बिष्टï, देवी दत्त जोशी, कृष्णानंद पांडे, मोहन राम, संजय चौधरी, चंद्र बल्लभ, दीपा जोशी, हेमा देवी, प्रीति बिष्टï, पार्वती, गिरीश चंद्र, लक्ष्मण सिंह, कमला लोहनी, हर्षा पांडे, विशनी देवी आदि शामिल हैं।

About saket aggarwal

Check Also

रुद्रपुर : सैनिक की तरह करें अपने बूथ की ‘चौकीदारी’

रुद्रपुर। भाजपा प्रत्याशी अजय भट्ट ने नामांकन के दौरान शक्ति प्रदर्शन किया। जुलूस से पहले …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *