Home / Breaking News / मंत्री अरविंद के बोल, तस्वीर ले ली है सबकी लूंगा खबर

मंत्री अरविंद के बोल, तस्वीर ले ली है सबकी लूंगा खबर

हरिद्वार।  हरकी पैड़ी पर प्रदेश सरकार की ओर आयोजित पंचायत महाकुंभ हंगामें की भेंट चढ़ गया। करीब घंटे भर देरी से पहुंचे पंचायती राज मंत्री अरविंद पाण्डेय जैसे ही मंच पर पहुंचे कुछ सदस्य पानी की मांग करने लगे। जिस पर कैबिनेट मंत्री का पारा चढ़ गया और उन्होंने जमकर सभी को फटकार लगाते हुए, कई नसीहतें दे डाली। नाराज सदस्यों ने मंत्री के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी। नाराज मंत्री ने भी कह दिया सबकी तस्वीरें ले ली गई है, उनके ग्राम पंचायतों में आकर हिसाब लूंगा। बेहद नाराज मंत्री ने यहां तक बोला, दलाल टाइप लोगों के दबाव में ये सरकार कार्य नहीं करेगी। बमुश्किल हंगामा शांत होने के बाद महाकुंभ का कार्यक्रम आगे बढ़ सका।
हरिद्वार में हरकी पैड़ी पर पंचायत महाकुंभ का आयोजन किया गया था। जिसमें सैकड़ों की तादाद में पंचायत के जनप्रतिनिधि पहुंचे थे। कैबिनेट मंत्री अरविंद पाण्डेय जैसे मंच पर पहुंचे कुछ लोग प्यास लगने की वजह से मंच के करीब आकर पानी की मांग करने लगे। अचानक मंत्री को गुस्सा आया और उन्होंने माइक पकड़ लिया और पंचायत प्रतिनिधियों को नसीहत देने लगे। कहा कि मैं गरीब का बेटा हूं। यहां विकास के लिये आया हूं, जो लोग विरोध और हंगामा कर रहे हैं वे यहां से चले जाएं। मंत्री ने हंगामा करने वाले लोगों को बाहर करने की बात भी कही। जिस पर प्रतिनिधि नाराज हो गये और अपनी कुर्सी से उठकर जाने लगे। तभी मंत्री बोले, सबकी तस्वीर ले ली है, एक-एक का हिसाब पंचायत में आकर लूंगा। जिस पर कुछ लोग बैठ गये। उन्होंने कहा कि सरकार पंचायतों के उत्थान को लेकर कटिबद्ध है। ग्रामीण व पिछड़े क्षेत्रों के विकास को लेकर जन कल्याणकारी योजनायें चलाई जा रही है। उन्होंने कहा कि हर स्तर पर ग्राम पंचायतों को मजबूत बनाया जायेगा। ग्रामीण क्षेत्रों के समग्र विकास को लेकर रणनीति के तहत कार्य किये जा रहे हैं। पंचायत महाकुंभ में विभिन्न क्षेत्रों से पहुंचे जिला पंचायत सदस्य, ग्राम प्रधान, क्षेत्र पंचायत सदस्यों एवं जिला पंचायत सदस्य भारी संख्या में समारोह में पहुंचे। पंचायत महाकुंभ में सांसद रमेश पोखरियाल निशंक, मेयर मनोज गर्ग, रानीपुर विधायक आदेश चौहान, ग्रामीण विधायक यतीश्वरानंद, लक्सर विधायक संजय गुप्ता, रुड़की विधायक प्रदीप बत्रा, ज्वालापुर विधायक सुरेश राठौर कार्यक्रम में उपस्थित रहे। उन्होंने भी जनप्रतिनिधियों को काफी समझाया, लेकिन पानी के मांगने पर बुरी तरह से हंगामा खड़ा होने पर पंचायत महाकुंभ हंगामे की भेंट चढ़ा।

About saket aggarwal

Check Also

तीन माह में भी पुलिस के हाथ खाली

किच्छा। 3 माह पूर्व ग्राम छिनकी में पुलिया के नीचे मिले युवक की हत्या का …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *