Breaking News
Home / Uttatakhand Districts / Dehradun / उत्तराखंड में 27 लाख परिवारों का बनेगा आयुष्मान कार्ड, आप भी बनवाएं ये कार्ड

उत्तराखंड में 27 लाख परिवारों का बनेगा आयुष्मान कार्ड, आप भी बनवाएं ये कार्ड

डोईवाला/ब्यूरो। सरकार आयुष्मान भारत योजना (एबीवाई) शुरू कर चुकी है। इस योजना को प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (पीएम-जेएवाई) भी कहा जाता है। यह वास्तव में हेल्थ इंश्योरेंस स्कीम है। जिसके तहत देश के 10 करोड़ परिवारों को सालाना 5 लाख रुपये का स्वास्थ्य बीमा उपलब्ध होगा।

एबीवाई योजना को पंडित दीन दयाल उपाध्याय की जयंती पर 25 सितंबर से देशभर में लागू कर दिया गया है। सरकार इस योजना के माध्यम से गरीब, उपेक्षित परिवार और शहरी गरीब लोगों के परिवारों को स्वास्थ्य बीमा उपलब्ध कराना चाहती है। सामाजिक-आर्थिक जाति जनगणना 2011 के हिसाब से ग्रामीण इलाके के 8.03 करोड़ परिवार और शहरी इलाके के 2.33 करोड़ परिवार आयुष्मान भारत योजना के दायरे में आयेंगे। इस तरह एबीवाई के दायरे में 50 करोड़ लोग आएंगे। आयुष्मान भारत योजना में हर परिवार को सालाना पांच लाख रुपये का मेडिकल इंश्योरेंस मिलेगा।

इन्हे मिलेगा लाभ

डोईवाला। केंद्र सरकार का प्रयास है कि महिला, बच्चे और सीनियर सिटीजन को एबीवाई में खास तौर पर शामिल किया जाए। आयुष्मान भारत योजना में शामिल होने के लिए परिवार के आकार और उम्र का कोई बंधन नहीं है। सरकारी अस्पताल और पैनल में शामिल अस्पताल में आयुष्मान भारत योजना के लाभार्थियों का कैशलेस/पेपरलेस इलाज हो सकेगा।

इन बिमारियों का होगा ईलाज

डोईवाला। आयुष्मान योजना में शामिल करीब दस हजार अस्पतालों में 13 सौ से ज्यादा बीमारियों और इससे संबंधित पैकेज को इलाज में शामिल किया गया है। जिसमें कैंसर की सर्जरी, हार्ट की बाइपास सर्जरी, आंख-दांत का ऑपरेशन, सीटी स्कैन, एमआरआई जैसी तमाम चीजें शामिल हैं। सरकार लोगों की सुविधा के लिए हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया है। 14555 पर फोन कर योजना से जुड़ी कोई भी जानकारी, सलाह या सुझाव ले सकते हैं।

योजना में कौन हैं शामिल, ऐसे करें पता

डोईवाला। योजना में आप शामिल हैं या नहीं, यह पता करना बहुत आसान है। सबसे पहले आयुष्मान भारत की वेबसाइट https://mera.pmjay.gov.in खोलें। यहां अपना मोबाइल नंबर डालना होगा। उसके बाद एक ओटीपी आएगा। इस ओटीपी को वेबसाइट पर डालकर वेरीफाई करने के बाद एक पेज खुल जाएगा,जहां आप देख सकते हैं कि योजना में शामिल हैं या नहीं।
दुधली कॉमन सर्विस सेंटर के संचालक विपिन कुमार ने बताया है कि उत्तराखंड में 27 लाख परिवारों का आयुष्मान कार्ड बनेगा, योजना में आप शामिल है या नही इसके लिए आप www.atalayushmanuttarakhand.org पर अपना राशन कार्ड नम्बर,वोटर आई डी नम्बर या मुख्यमंत्री स्वास्थ्य बीमा योजना के कार्ड एमएसबीवाई नम्बर डाल कर मालूम कर सकते हैं। इस योजना का लाभ उठाने के लिए कोई भी लाभार्थी अपने पास के स्थित कॉमन सर्विस सेंटर पर अपना राशन कार्ड ले जाकर अपना नाम देख सकता है।
राजेश तिवारी डिस्ट्रिक्ट मैनेजर सीएससी ई गवर्नेंस सर्विस इंडिया लिमिटेड ने बताया कि डोईवाला सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, महंत इंद्रेश अस्पताल और एम्स ऋषिकेष में भी आयुष्मान कार्ड बनवा सकते हैं इसके अलावा अपने निकटतम सीएससी कॉमन सर्विस सेंटर में जाकर भी कार्ड बनवाये जा सकते हैं। लाभार्थी की सहायता, पहचान, दस्तावेज अपलोड और लैमिनेटेड कार्ड मुद्रित करने के लिए सामान्य सेवा केंद्रों को 30 रुपये देने हैं । उत्तराखंड में इस योजना का नाम अटल आयुष्मान उत्तराखंड योजना रखा गया है। उत्तराखंड में 104 निःशुल्क हेल्पलाइन से भी मदद ली जा सकती है।

 

 

 

 

 

About madan lakhera

Check Also

देहरादून: शाह की ‘क्लास’ के लिए कड़ा होमवर्क

मदन मोहन लखेड़ा,देहरादून। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह का दो फरवरी को दून का …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *