Home / Uttatakhand Districts / Bageshwar / बागेश्वर:केंद्रीय राज्य मंत्री के समक्ष लोगों ने रखीं समस्याएं

बागेश्वर:केंद्रीय राज्य मंत्री के समक्ष लोगों ने रखीं समस्याएं

बागेश्वर। केन्द्रीय राज्य मंत्री अजय टम्टा ने तहसील कपकोट के अन्तर्गत असों, महाविद्यालय कपकोट, पनौरा, उतरौड़ा, गैनाड़ ग्राम पंचायतों के आपदा प्रभावित क्षेत्रों का पैदल भ्रमण किया। उन्होंने असों के सडक़ का निरीक्षण करने पर पाया कि सडक़ का कलमठ बंद है। जिसे यथाशीघ्र सम्बन्धित विभाग को कलमठ खोलने के निर्देश दिये। नवनिर्मित महाविद्यालय कपकोट का भी निरीक्षण किया निरीक्षण में उन्होंने महाविद्यालय में फर्नीचर देने का आश्वासन दिया। वहीं असों के ग्रामीणों ने कहा कि अत्यधिक वर्षा के कारण मकान टूटा है मुआवजा एवं मकान दिलाने की मांग की। इस सम्बन्ध में मंत्री ने तहसीलदार से जानकारी प्राप्त करने पर बताया कि सम्बन्धित को आंशिक क्षति हुई थी, जिसका मुआवजा वितरण कर दिया गया है।
टम्टा ने विवेकानन्द इंटर कालेज हिचौड़ी का भी निरीक्षण किया। जिसमें प्रबन्धक दयाल ऐठानी ने अवगत कराया कि विद्यालय में एक बैठक हॉल का निर्माण किया जाना है। विद्यालय के आंगन के नीचे की ओर वर्षा के कारण अधिक जलभराव से विद्यालय के आंगन को खतरा पैदा हो रहा है। उन्होंने आंगन के आगे चैक डाम बनाने की मांग की। इस सम्बन्ध में केंद्रीय राज्य मंत्री ने सांसद निधि एवं विधायक निधि दोनों मिलकर बैठक हॉल कक्ष का निर्माण करवाने के आश्वासन दिया। साथ ही विद्यालय के ऑगन को सुरक्षा की इस अवसर पर पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर दो मिनट मौन धारण कर शोक मनाया गया।
क्षेत्रीय विधायक बलवंत सिंह भौर्याल ने कहा कि प्रधानमंत्री ग्राम सडक़ योजनाओं हेतु एक अरब तथा विद्युतीकरण हेतु 19 करोड़ की धनराशि विधानसभा कपकोट के लिए स्वीकृति प्रदान हुई है। दूरस्थ क्षेत्रों हेतु 20 दूरभाष टॉवर भी क्षेत्र को मिले हैं। उन्होंने कहा कि सरकार की मंशा प्रत्येक ग्राम को सडक़ से जोडऩे तथा प्रत्येक घर में विद्युतीकरण करने हेतु सरकार कार्य कर रही है।
केंद्रीय राज्य मंत्री अजय टम्टा ने तहसील कपकोट के अन्तर्गत पनौरा के सडक़ का निरीक्षण करने पर पाया कि सडक़ टूटी हुई है। जिस कारण यातायात व्यवस्था बन्द है। ग्रामीणों को आने-जाने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। इस सम्बन्ध में संबंधित विभाग को तीन दिन के भीतर टूटी सडक़ को ठीक करने के निर्देश दिए। साथ ही छूरिया गधेरे का निरीक्षण करने पर पाया कि गधेरे में अत्यधिक पानी आने के कारण पानी एवं मलबा ग्रामीणों के घरों में घुसा है जिस कारण ग्रामीणों के लिए भय बना हुआ है। इस सम्बन्ध में उन्होंने संबंधित विभागीय अधिकारी को को छूरिया गधेरे के दोनों तरफ सुरक्षा दीवार एवं चैक डाम बनाने के निर्देश दिये। उन्होंने तहसीलदार कपकोट को निर्देश दिये कि आपदा पीडि़त परिवारों को यथाशीघ्र मुआवजा प्रदान करने तथा नव निर्माण किये जाने हेतु आगणन तैयार करने को कहा।
उन्होंने ग्राम पंचायत गैनाड़ के पंचायत घर में चौपाल लगाकर ग्रामीणों की समस्यायें सुनीं। केंद्रीय मंत्री ने इस दौरान नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि पीएमजीएसवाई अधिकारी के द्वारा कार्यों में रूचि नहीं ली जा रही है जो गम्भीर विषय है उन्होंने लोनिवि एवं पीएमजीएसवाई दोनों को आपस में तालमेल से कार्य करने के निर्देश दिए। जिससे लोगों की परेशानियां कम हो सकें।
विधायक ने केंद्रीय मंत्री को अवगत कराया कि एक ही ठेकेदार पीएमजीएसवाई एवं लोनिवि सहित कई जगह ठेका ले रहा है। उन्होंने कहा कि विभागीय अधिकारियों के द्वारा गलत तरीके से जेसीबी हायर की है। इस सम्बन्ध में टम्टा ने ने मुख्य विकास अधिकारी को जॉच करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि क्षेत्र में आपदाकाल के दौरान पेयजल, विद्युत, राशन, स्वास्थ्य आदि सुविधा सभी जनमानस को मिलनी चाहिए। इस अवसर पर सीडीओ एसएसएस पांगती, एडीएम राहुल कुमार गोयल, तहसीलदार कपकोट मैनपाल सिंह, मुख्य कृषि अधिकारी बीपी मौर्या, खड विकास अधिकारी कपकोट गंगा गिरी गोस्वामी, अधि अभि लोनिवि कपकोट संजय कुमार पाण्डेय, पीएमजीएसवाई पंकज कुमार, भाजपा जिलाध्यक्ष शेर सिंह गढिय़ा, दयाल ऐठानी, सुरेश काण्डपाल सहित विभागीय अधिकारी एवं ग्रामीण मौजूद थे।

About saket aggarwal

Check Also

रुद्रपुर: नजूल मुद्दे पर प्रदर्शन को ऐतिहासिक बनाने की तैयारियां

रुद्रपुर। बस्ती बचाओ संघर्ष समिति द्वारा एक अक्टूबर को प्रस्तावित प्रदर्शन की तैयारियां जोर-शोर से …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *