Home / Breaking News / हल्द्वानी : बैंक में सेंधमारी से पुलिस की किरकिरी

हल्द्वानी : बैंक में सेंधमारी से पुलिस की किरकिरी

हल्द्वानी। भोटिया पड़ाव चौकी से चंद कदमों की दूरी पर स्थित नैनीताल बैंक की शाखा की दीवार काटकर सेंधमारी करनेे के मामले में पुुलिस के हाथ अभी भी खाली ही हैैं। नगर में चर्चा आम है कि बैंक प्रकरण सेे जनता का ध्यान हटानेे के लिए पुलिस नेे 19 दरोगाओं के स्थानांतरण किये हंैै। जबकि भोटिया पड़ाव चौकी में तैनात दरोगा तो दूर एक सिपाही का भी स्थानान्तरण नहीं किया गया।
रविवार की रात चोरों ने भोटिया पड़ाव चौकी सेे चंद कदमों की दूरी पर स्थित एमबीपीजी महाविद्यालय के ठीक बगल में स्थित द नैैनीताल बैैैंक की शाखा की पीछे की दीवार काटकर सेंध लगा दी थी। चोरों ने बैंक का लॉकर तोडऩे का भी प्रयास किया था। जिसमें वह सफल नहीं हो पायेे थे। मौका मुआयनेे के दौरान सीसीटीवी कैमरेे की फुटेज के आधार पर पुुलिस ने चोरों की जल्द गिरफ्तारी का दावा किया था। लेकिन एक सप्ताह बीत जाने के बाद भी इस मामले में पुुलिस के हाथ कोई सुराग नहीं लग पाया है। पुलिस पूरे मामले में सिर्फ हवा में तीर छोड़ रही है। वहीं शहर में चर्चा है कि यदि चोर बैंक में चोरी करने में सफल हो जाते तो पुलिस की बहुत किरकिरी होती। इसके पीछे यह कारण बताया जा रहा है कि एक तो बैंक नैनीताल हाईवेे पर स्थित हैै और दूसरा बैंक से कुछ ही दूरी पर भोटिया पड़ाव पुलिस चौकी है। जहां पर 24 घंटे पुुलिस के सिपाही मौजूूद रहते हैं। फिर ऐसा क्या हुआ कि पुुलिस की नजर बैंक की दीवार काटने वाले चोरों पर नहीं पड़ी। और न ही दीवार काटने के दौरान आने वाली आवाज ही पुलिस के कानों तक पहुुंची। यह मामला जनता के जेहन में अभी तैर ही रहा था कि पुलिस कप्तान नेे शहर के 19 दरोगाओं को इधर से उधर कर दिया। जबकि चर्चा मेें आई भोटिया पड़ाव चौकी के दरोगा तो दूर एक सिपाही के भी कामकाज में बदलाव नहीं किया गया। पुुलिस महकमा इसेे रणनीति के रूप में देख रहा हो, लेकिन जनता में कयास और चर्चाओं का दौर बेहद गर्म है।

About saket aggarwal

Check Also

हल्द्वानी: पुलिस कर्मियों के सामने ‘बेघर’  होने का संकट

कोतवाली में बैरक खाली करने के फरमान से मची खलबली सलीम खान हल्द्वानी। जहां एक …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *