Home / Breaking News / हल्द्वानी:बेस अस्पताल में रैबीज के इंजेक्शन के लिए भटक रहे मरीज

हल्द्वानी:बेस अस्पताल में रैबीज के इंजेक्शन के लिए भटक रहे मरीज

हल्द्वानी। सोबन सिंह जीना बेस चिकित्सालय में व्यवस्थाएं आयुक्त के निर्देशों के बाद भी नहीं सुधर रही हैं। यहां आने वाले मरीजों को रैबीज के इंजेक्शन बाहर से मांगने पड़ रहे हैं। इतना ही नहीं चिकित्सालय में दवाइयों का टोटा भी बना हुआ है। जिसके चलते गरीब तबके के मरीजों को महंगा इलाज कराने को विवश होना पड़ रहा है। गौरतलब है कि सोबन सिंह जीना बेस चिकित्सालय में अव्यवस्थाओं का बोलबाला चला आ रहा है। चिकित्सालय में चिकित्सा उपकरण होने के बाद भी मरीजों को उनका लाभ नहीं मिल पा रहा है। जिसका कारण चिकित्सकों व विशेषज्ञों की कमी बताया जा रहा है। इसके साथ ही चिकित्सालय में दवाइयों का टोटा भी बना हुआ है। बेस चिकित्सालय में प्रतिदिन कुमाऊं भर से सैकड़ों की संख्या में मरीज अपना उपचार कराने आते हैं। लेकिन यहां सुविधाओं के अभाव में मरीजों को सस्ता इलाज नहीं मिल पा रहा है। मजबूरन मरीजों को महंगा इलाज कराने को विवश होना पड़ रहा है। बीते दिनों मंडलायुक्त ने अस्पताल का औचक निरीक्षण कर व्यवस्थाओं का जायजा लिया था। साथ ही अस्पताल प्रशासन को व्यवस्थाएं जल्द सुधारने के निर्देश दिए थे। आयुक्त ने अस्पताल प्रशासन को रैबीज के इंजेक्शन की व्यवस्था करने के भी निर्देश दिए थे, जो पखवाड़ा भर बीतने के बाद भी पूरी नहीं हुई है। चिकित्सालय में प्रतिदिन रैबीज का इंजेक्शन लगाने के लिए कई मरीज आ रहे हैं, लेकिन उन्हें रैबीज के इंजेक्शन बाहर से खरीदने पड़ रहे हैं। सोमवार को भी चिकित्सालय में आधा दर्जन से अधिक मरीज रैबीज के इंजेक्शन लगाने आए लेकिन अस्पताल में रैबीज के इंजेक्शन मौजूद नहीं थे। जिसके चलते मरीजों को बाहर से 350 रुपये में एक इंजेक्शन खरीदकर मंगाना पड़ा। अधिकांश दवाइयां भी चिकित्सालय में मौजूद नहीं हैं लेकिन अस्पताल प्रशासन इस कमी को दूर करने की दिशा में कोई कदम उठाता नहीं दिख रहा है।

About saket aggarwal

Check Also

किच्छा:गोल्ड मेडल जीतकर पहुंचे कराटे चैम्पियनों का स्वागत

किच्छा। ऑल इंडिया एंड इंडो नेपाल इंटरैनेशनल ओपन कराटे चैम्पियनशिप 2018 प्रतियोगिता में गोल्ड मैडल …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *