Home / Breaking News / नैनीताल: भाजपा व कांग्रेस के पैनल में कोश्यारी व पाल पर मुहर लगभग तय

नैनीताल: भाजपा व कांग्रेस के पैनल में कोश्यारी व पाल पर मुहर लगभग तय

चुनाव मैदान में उक्रांद के काशी सिंह व बसपा के राजीव दुबे भी होंगे

बसपा के आने से सीट के मैदानी क्षेत्रों में त्रिकोणीय संघर्ष के आसार

चन्द्रेक बिष्ट, नैनीताल। प्रतिष्ठित नैनीताल-उधमसिंह नगर लोकसभा सीट के लिए इस बार प्रमुख पार्टियों ने अपने प्रत्याशियों के नामों का पैनल हाई कमान को भेज दिये है। इस सीट पर इस बार भी भाजपा व कांग्रेस के बीच घमासान होना तय है। इस बीच उत्तराखंड क्रांति दल से वरिष्ठ नेता काशी सिंह ऐरी व बहुजन समाजवादी पार्टी के राजीव दुबे भी चुनाव मैदान में होंगे। इस सीट पर सपा-बसपा गठबंधन चुनाव लड़ रहा है। इस सीट के मैदानी क्षेत्रों में त्रिकोणीय संघर्ष होना भी तय है। अब तक समझा जा रहा है कि भाजपा की ओर से गये पैनल के आधा दर्जन नामों में वर्तमान सांसद भगत सिंह कोश्यारी व कांग्रेस की ओर से गये पैनल में पूर्व सांसद डॉ. महेन्द्र सिंह पाल के नामों पर हाईकमान की मुहर लगना तय है। हालांकि दोनों पार्टियों की ओर से अन्यों ने भी अभी दावेदारी नहीं छोड़ी है लेकिन इन दोनों नामों पर राज्य इकाइयों ने अपनी मौन स्वीकृति एक तरह से दे दी है। अब केवल हाईकमान की घोषणा का इंतजार है। नैनीताल-उधमसिंह नगर लोकसभा सीट से भाजपा के सांसद भगत सिंह कोश्यारी व कांग्रेस से फिलहाल पूर्व सांसद डॉ. महेन्द्र सिंह पाल का नाम पैनल में प्रमुखता से शामिल किया गया है। कांग्रेस से डॉ. पाल के नाम को पूर्व सीएम हरीश रावत, नेता प्रतिपक्ष डॉ. इंदिरा हृदयेश, पूर्व सांसद केसी सिंह बाबा आगे कर चुके हैं। हरीश रावत को हरिद्वार से उम्मीदवार बनाये जाने की अटकलों के बाद नैनीताल से डॉ. पाल का नाम अब पहले पायदान में है। नैनीताल-उधमसिंह नगर लोकसभा सीट से कांग्रेस की ओर से पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत, नेता प्रतिपक्ष इंदिरा ह्दयेश, पूर्व सांसद केसी सिंह बाबा द्वारा चुनाव नहीं लडऩे व डॉ. पाल के पक्ष में अपनी बात रखने से इस समय डॉ. पाल की दावेदारी मजबूत दिखाई दे रही है। कांग्रेस की ओर से भेजे गये पैनल में प्रयाग भट्ट, हुकम सिंह कुंवर व पूर्व सांसद डॉ. महेन्द्र सिंह पाल, तिलकराज बेहड़ के नाम भी भेजे गये हैं। अब केवल हाईकमान की घोषणा होना ही शेष है। भाजपा की ओर से भेजे गये पैनल में वर्तमान सांसद भगत सिंह कोश्यारी का नाम प्रमुखता से शामिल है। भाजपा प्रदेश इकाई भी उनके पक्ष में अपनी मौन स्वीकृति देती नजर आ रही है। 2014 के चुनावों में इस सीट पर कांग्रेस के केसी सिंह बाबा को हराकर पूर्व मुख्यमंत्री भगत सिंह कोश्यारी सांसद बने थे। चुनाव की घोषणा के बाद कोश्यारी फिर सक्रिय हो गये हैं। इस सीट से भाजपा हाईकमान को जो पैनल भेजा गया है उनमें भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट, काबिना मंत्री यशपाल आर्य, विधायक पुष्कर सिंह धामी, बंशीधर भगत, गजराज बिष्ट व पूर्व सांसद बलराज पासी के नाम शामिल हैं। भाजपा से कोश्यारी के अलावा पूर्व सांसद बलराज पासी व विधायक बंशीधर को भी प्रबल दावेदार माना जा रहा है। लेकिन प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट द्वारा भी यह साफ कर दिया है कि प्रदेश की पांचों सीटों से वर्तमान सांसद ही चुनाव मैदान में उतरेंगे। ऐसे में नैनीताल-उधमसिंह नगर लोक सभा सीट से भाजपा के उम्मीदवार कोश्यारी ही होंगे। अब केवल हाई कमान की ओर से उम्मीदवार की घोषणा का इंतजार है। कुल मिलाकर इस बार नैनीताल-उधमसिंह नगर लोक सभा सीट पर भाजपा व कांग्रेस के बीच ही सीधा मुकाबला होना है। इस बार बसपा-सपा गठबंधन भी मैदानी क्षेत्रों में कांग्रेस व भाजपा के लिए मुसीबत बनने जा रहा है। मैदानी क्षेत्रों में त्रिकोणीय संघर्ष की स्थिति बनना भी तय माना जा रहा है। विगत चुनावों में बसपा व सपा इस सीट पर तीसरे व चौथे नम्बर पर रही है। इन्हें कम आंकना भी गलत होगा। इस बार बसपा-सपा गठबंधन की मौजूदगी भाजपा व कांग्रेस के लिए मुसीबत ही होगी।

About saket aggarwal

Check Also

नैनीताल सीट: 2014 का इतिहास दोहरा रही भाजपा

पिछले लोकसभा चुनाव से अधिक वोटों से जीत की ओर बढ़ रहे कदम नैनीताल सीट …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *