Home / Breaking News / बोर्ड परीक्षा कल से, परीक्षा में 2,81,826 परीक्षार्थी पंजीकृत

बोर्ड परीक्षा कल से, परीक्षा में 2,81,826 परीक्षार्थी पंजीकृत

रामनगर। शिक्षा विभाग ने 5 मार्च से शुरु हो रही हाईस्कूल व इंटर मीडिएट बोर्ड परीक्षाओं को नकलविहीन कराने के लिए पूरी तरह कमर कस ली है। इसके लिए राज्य, बोर्ड, मंडल, जनपद व ब्लाक स्तर पर सचल दल का गठन किया गया है। परीक्षा केन्द्रों के आस-पास रैली, सभा व लाउड स्पीकर बजाना भी पूरी तरह प्रतिबंधित रहेगा।
5 मार्च को प्रदेश में प्रथम दिवस इंटरमीडिएट की हिन्दी विषय की परीक्षा होगी। परीक्षाओं को लेकर सभी परीक्षा केंद्रों के आसपास निषेधाज्ञा लगा दी गई है तथा परीक्षा केन्द्र के अन्दर और बाहर हुड़दंग मचाने वालों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही करने के निर्देश दिए गये हैं।
उत्तराखंड विद्यालयी शिक्षा परिषद सचिव डा. नीता तिवारी ने बताया कि बोर्ड परीक्षाओं को लेकर सचलदलों का भी गठन कर दिया गया है। सचल दल में राज्य स्तर पर 2, मंडल स्तर पर 4, बोर्ड स्तर पर 3 तथा जिला स्तर पर मुख्य शिक्षा अधिकारी द्वारा आवश्यकता के अनुसार सचलदल का गठन किया गया है। नकलविहीन परीक्षा कराने के लिये पूरी तैयारी की गई है।
परिषद सचिव डॉ. तिवारी के अनुसार इस वर्ष बोर्ड परीक्षा में कुल 2,81,826 परीक्षार्थी पंजीकृत हुये हैं जिसमें इस वर्ष हाईस्कूल में संस्थागत में 144518 व व्यक्तिगत में 4927 कुल 149445 तथा इंटरमीडिएट संस्थागत में 124888 व व्यक्तिगत में 7493 परीक्षार्थी पंजीकृत हुए हैं। परीक्षा के लिये प्रदेश में कुल 1,309 परीक्षा केन्द्र बनाये गये हैं, जिसमें 230 संवेदनशील व 28 अतिसंवेदनशील की श्रेणी में हैं। उत्तरपुस्तिकाओं के संकलन के लिये 13 मुख्य संकलन केन्द्र तथा 23 उपसंकलन केन्द्र बनाये गये हैं। उत्तरपुस्तिकाओं का मूल्यांकन कार्य 30 मूल्यांकन केन्द्रों पर 1 अप्रेल से आरम्भ होगा जो कि 15 अप्रेल तक जारी रहेगा। मूल्यांकन के लिये 6,000 परीक्षकों को लगाया जायेगा।

 
परीक्षा केन्द्रों के आसपास निषेधाज्ञा लागू
रामनगर एसडीएम परितोष वर्मा ने बताया कि 5 मार्च से शुरू होने वाली बोर्ड परीक्षाओं को लेकर सभी परीक्षा केंद्रो के आसपास निषेधाज्ञा कर दी गई है तथा अब बिना प्रशासन की अनुमति के रैली, सभा व लाउड स्पीकर बजाना भी पूरी तरह प्रतिबंधित रहेगा। इसके लिये प्रशासन से अनुमति लेनी आवश्यक होगी।

 

About saket aggarwal

Check Also

हल्द्वानी: सरकारी अस्पतालों को पीपीपी मोड पर देने का विरोध

नर्सेज की सरकारी नियुक्तियों की मांग, सीएम का फूंका पुतला हल्द्वानी। उत्तराखंड नर्सेज एसोसिएशन सदस्यों …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *