Home / Breaking News / जानें बजट 2018 की स्पीच का शेयर बाजार पर पड़ेगा क्या असर!

जानें बजट 2018 की स्पीच का शेयर बाजार पर पड़ेगा क्या असर!

नई दिल्ली (एजेंसी)। भारतीय शेयर बाजार का नया रिकॉर्ड स्तर अगले 15 दिनों तक बजट 2018 की अहम आर्थिक घोषणाओं पर निर्भर है। आगामी बजट 2018 में वित्त मंत्री अरुण जेटली जैसे-जैसे संसद में अपनी पांचवी बजट स्पीच पढ़ते जाएंगे भारतीय शेयर बाजार रिकॉर्ड स्तर से उतार और चढ़ाव करता दिखाई देगा। लेकिन अहम होगा बजट स्पीच के बाद शेयर बाजार के प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स और निफ्टी किस रफ्तार से आगे बढ़ते हैं?
शेयर बाजार के आंकड़ों के मुताबिक केन्द्रीय बजट के बाद के महीनों में सेंसेक्स और निफ्टी अच्छी उछाल लेते दिखाई देते हैं। आंकड़े कहते हैं कि बीते 9 केन्द्रीय बजटों के बाद के महीनों में कम से कम 6 बार सेसेक्स और निफ्टी उछाल ले चुके हैं। हालांकि आंकड़े ये भी कहते हैं कि बजट से पहले के महीने में सेंसेक्स और निफ्टी अपने स्तर में गिरावट दर्ज करते हैं।
बहरहाल, आगामी बजट से पहले भारतीय शेयर बाजार रिकॉर्ड स्तर पर कारोबार कर रहा है। अब इंतजार 1 फरवरी का रहेगा जिस दिन अरुण जेटली संसद में बजट 2018 पेश करेंगे। खास बात है कि 1 फरवरी गुरुवार को पड़ेगा लिहाजा, बजट से पहले तीन दिन और बजट के बाद एक दिन भारतीय शेयर बाजार पर कारोबारी दिन है।
शेयर बाजार के जानकारों के मुताबिक बजट से पहले के दिनों में निवेशक उम्मीदों पर दांव लगाते हुए ऐसी कंपनियों के शेयर खरीदते हैं जिनमें बजट घोषणाएं फायदा पहुंचा सकती हैं। हालांकि यह खरीदारी बजट से ठीक पहले के कारोबारी सत्र में थम जाती है और ज्यादातर निवेशक उम्मीदों पर फुलस्टॉप लगाते हुए खरीदे हुए शेयरों को बेचकर मुनाफाखोरी कर लेते हैं।
जानकारों के मुताबिक यह अहम कारण है कि बजट से पहले के हफ्ते के दौरान भरपूर खरीदारी के बीच शेयर बाजार नया स्तर छूता है लेकिन बजट ऐलान से ठीक पहले मुनाफाखोरी के बीच बाजार में गिरावट दर्ज होती है। एक बार बजट का ऐलान हो जाने के बाद फिर निवेशक हो चुकी घोषणाओं के आधार पर फायदे में रहने वाली कंपनियों के शेयर्स में निवेश करते हैं।
देश में पेट्रोल और डीजल के दाम काफी ज्यादा ऊंचे स्तर पर पहुंच गए हैं। देश के कुछ हिस्सों में डीजल 67 रुपये के पार पहुंच गया है। वहीं, मुंबई में पेट्रोल एकबार फिर 80 के करीब पहुंच गया है। आंध्र प्रदेश और तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद में डीजल 67.08 रुपये प्रति लीटर मिल रहा है। केरल के त्रिवेंद्रम में भी डीजल 67.05 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच चुका है। पेट्रोल की बात करें, तो फिलहाल मुंबई में यह 79.06 रुपये प्रति लीटर के स्तर पर पहुंच चुका है। दिल्ली में फिलहाल एक लीटर पेट्रोल के लिए 71.06 रुपये चुकाने पड़ रहे हैं। डीजल के लिए यहां लोगों को 61.74 रुपये देने पड़ रहे हैं।

About saket aggarwal

Check Also

रुद्रपुर:अटलजी के आदर्शों पर चलने का लें संकल्प

रुद्रपुर। भाजपा जिला इकाई द्वारा पूर्व अटल बिहारी वाजपेयी को श्रद्धांजलि दी गई। इसके लिए …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *