Home / Breaking News / चीन-यूएस नहीं, भारत में बनेगी दुनिया की सबसे बड़ी मोबाइल फैक्ट्री, पढ़ें क्या है खास

चीन-यूएस नहीं, भारत में बनेगी दुनिया की सबसे बड़ी मोबाइल फैक्ट्री, पढ़ें क्या है खास

नई दिल्ली (एजेंसी)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे इन आज नोएडा को दुनिया की सबसे बड़ी मोबाइल फैक्ट्री की सौगात देंगे। पीएम शाम करीब 4 बजे नोएडा पहुंचेंगे, इस दौरान योगी आदित्यनाथ भी उनके साथ रहेंगे। दुनिया की सबसे बड़ी मोबाइल फैक्ट्री का तमगा अब भारत के हाथ में है। इस मेगा फैक्ट्री से जुड़ी कुछ बातें यहां पढ़ें…
-नोएडा के सेक्टर 81 में स्थित सैमसंग इलेक्ट्रॉनिक्स की 35 एकड़ में फैली है।
-देश में 1990 के दशक की शुरुआत में पहला इलेक्ट्रॉनिक विनिर्माण केंद्र स्थापित हुआ जिसमें 1997 में टीवी बनना शुरू हुआ। मौजूदा मोबाइल फैक्ट्री 2005 में लगाई गई।
– पिछले साल जून में दक्षिण कोरियाई कंपनी ने 4,915 करोड़ रुपये का निवेश कर नोएडा प्लांट में विस्तार करने का ऐलान किया, जिसके एक साल बाद नई फैक्ट्री अब दोगुना उत्पादन करने के लिए तैयार है।
– भारत में कंपनी इस समय 6.7 करोड़ स्मार्टफोन बना रही है और नए प्लांट के चालू हो जाने पर तकरीबन 12 करोड़ मोबाइल फोन की मैन्यूफैक्चरिंग होने की संभावना है।
– नई फैक्ट्री में न सिर्फ मोबाइल बल्कि सैमसंग के कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक सामान जैसे रेफ्रिजरेटर और फ्लैट पैनल वाले टेलीविजन का उत्पादन भी दोगुना हो जाएगा और कंपनी इन सारे सेगमेंट में नंबर वन की भूमिका में बनी रहेगी।
– सैमसंग के भारत में दो विनिर्माण संयंत्र, नोएडा और तमिलनाडु के श्रीपेरुं बदूर में हैं। इसके अलावा पांच रिसर्च एंड डेवलेपमेंट सेंटर और नोएडा में एक डिजाइन केंद्र हैं जिनमें 70 हजार लोग काम करते हैं। कंपनी ने अपने नेटवर्क को बढ़ाया है और 1.5 लाख रिटेल आउटलेट खोले हैं।
गौरतलब है कि यहां सैमसंग दुनिया की सबसे बड़ी मोबाइल फैक्ट्री लगाने जा रहा है। कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक्स के मामले में दुनिया के मैप पर सबसे बड़ी मोबाइल फैक्ट्री होने का टैग चीन या दक्षिण कोरिया के पास नहीं है और अमेरिका के पास भी नहीं है, बल्कि अब उत्तर प्रदेश के शहर नोएडा को यह उपलब्धि हासिल होने जा रही है।
नोएडा के सेक्टर 81 में स्थित सैमसंग इलेक्ट्रॉनिक्स की 35 एकड़ में फैली इस फैक्ट्री का उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे-इन सोमवार को करेंगे। उनके हेलीकाप्टर को उतारने के लिए फैक्ट्री के पास ही हेलीपैड बनाया गया है।

About saket aggarwal

Check Also

हल्द्वानी:21 को देहरादून कूच का ऐलान

हल्द्वानी। उत्तराखंड कार्मिक, शिक्षक, आउटसोर्स संयुक्त मोर्चा 21 जुलाई को देहरादून कूच करेगा। इस मौके …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *