Breaking News
Home / Uttatakhand Districts / Dehradun / केएचईपी कोटेश्वर में अग्निशमन सेवा सप्ताह का समापन

केएचईपी कोटेश्वर में अग्निशमन सेवा सप्ताह का समापन

सीआईएसएफ के दमकल कर्मियों ने किया राहत व बचाव अभियान का मूक प्रदर्शन
देहरादून। केएचईपी कोटेश्वर में के औद्योगिक सुरक्षा बल की अग्निशमन शाखा की ओर से आयोजित अग्निशमन सेवा सप्ताह का समापन हो गया। समापन समारोह के मुख्य अतिथि कार्यकारी निदेशक एवं महाप्रबंधक केएचईपी कोटेश्वर पीके अग्रवाल थे। इस मौके पर सीआईएसएफ के दमकल कर्मियों ने आग की घटनाओं में राहत व बचाओ कार्यों का मूक प्रदर्शन किया। सहायक उपनिरीक्षक अग्नि विनय कुमार के नेतृत्व में हुए इस प्रदर्शन में आग की विभिन्न घटनाओं और परिस्थितियों में जानमाल के नुकसान को थामने समेत राहत व बचाव के तरीकों को दिखाया गया। समापन समारोह को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित करते हुए कार्यकारी निदेशक एवं महाप्रबंधक प्रोजेक्ट पीके अग्रवाल केऔसुब अग्निशमन शाखा के कार्यो की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि यह हर्ष का विषय है कि केएचईपी कोटेश्वर की पिछले 3 सालो में कोई भी मेजर फायर काॅल नहीं हुई है।यह केएचईपी कोटेश्वर और अग्निशमन शाखा केऔसुब के संयुक्त प्रयासांे का ही परिणाम है।

उन्हांेने अग्निशमन शाखा केऔसुब केएचईपी कोटेश्वर को अत्याधुनिक उपकरणों से सुसज्जित करने का आश्वासन दिया। पीके अग्रवाल ने अग्निश्मन सप्ताह की विभिन्न गतिविधियों में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले विधार्थियों, ग्रहणियों, कोटेश्वर परियोजना के कर्मचारियों आदि को पुरस्कार देकर सम्मानित भी किया।
सीआईएसएफ के सहायक समादेष्टा जेपी गोस्वामी ने मुख्य अतिथी अग्निश्मन सेवा सप्ताह की गतिविधियों पर प्रकाश डाला। उन्होंने बताया कि अग्नि दुर्घटनाआंे मंे शहीद हुए कर्मियों ं को श्रद्धांजलि देकर इस सप्ताह का शुभारंभ 14 अप्रैल को किया गया था। अग्निशमन सेवा सप्ताह का उद्देश्य संयंत्र के कर्मचारियों, आम नागरिकों, स्कूली बच्चों व अन्य को अग्नि सुरक्षा के प्रति जागरुक करना है। सप्ताहभर अग्नि दुर्घटनाआंे के प्रति जागरुकता बढाने के लिए विभिन्न शिक्षण संस्थानों अग्निशमन प्रशिक्षण, आपदा प्रबन्धन से जुड़े विशेष जागरुकता सत्रों का आयोजन किया गया। निबंध व चित्रकला प्रतियोगिता के माध्यम से भी बच्चों को जागरुक किया गया। इसके साथ ही केएचईपी कोटेश्वर परियोजना व आसपास की ग्राम सभाओं मंे भी प्रशिक्षण गतिविधियां संचालित की गईं। ग्रहणियों को भी गृह सुरक्षा के बारे में बताया गया तथा घरो मे आग लगने के कारण व उनको अपने स्तर पर बुझाने के बारे में जानकारी दी गयी। समापन समरोह का संचालन निरीक्षक/अग्नि अरशद अली खान ने किया।

About madan lakhera

Check Also

दून के निर्माता की मराठी फिल्म ‘टकाटक’ हुई रिलीज, तोड़ा रिकॉर्ड, पहले 3 दिनों में 3.08 करोड़ की कमाई

देहरादून। दून निवासी फिल्म निर्माता और पर्पल बुल एंटरटेनमेंट के संस्थापक ओम प्रकाश भट्ट की …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *