Home / Business / पीएम करेंगे ’डेस्टिनेशन उत्तराखंड: इन्वेस्टर्स समिट’ का उद्घाटन

पीएम करेंगे ’डेस्टिनेशन उत्तराखंड: इन्वेस्टर्स समिट’ का उद्घाटन

अक्टूबर के प्रथम सप्ताह में आयोजित होगा इन्वेस्टर्स समिट
मुख्यमंत्री ने समिट के लिए ब्रांड लोगो व वेबसाईट लाॅन्च की
निवेश के लिए 12 मुख्य क्षेत्रों पर रहेगा फोकस।
देहरादून। अक्टूबर के प्रथम सप्ताह में आयोजित होने वाले ‘डेस्टिनेशन उत्तराखण्ड: इन्वेस्टर्स समिट 2018’ का उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे। मुख्य कार्यक्रम का आयोजन देहरादून के महाराणा प्रताप स्पोर्ट्स स्टेडियम में किया जाएगा। समिट के लिए अभी 4 व 5 अक्टूबर की तिथि प्रस्तावित है। परंतु सम्भवतः 4 अक्टूबर को रूस के राष्ट्रपति भारत आएंगे। ऐसी स्थिति में समिट का मुख्य कार्यक्रम प्रधानमंत्री के समय के अनुसार एक-दो दिन आगे भी खिसक सकता है।
सोमवार को मुख्यमंत्री आवास में आयेाजित संक्षिप्त कायक्रम में मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने इन्वेस्टर्स समिट के लिए ब्रांड लोगो व वेबसाईट ूूूण्कमेजपदंजपवदनजजंतंाींदकण्पद को लाॅन्च किया। ‘डेस्टिनेशन उत्तराखंड: इन्वेस्टर्स समिट 2018’ का लाॅन्च किया गया लोगो, फूलों की घाटी से पे्ररित है। इसमें उगते सूरज का चित्रण किया गया है जो कि उत्तराखंड में उभरते अवसरों व औद्योगिक विकास को बताता है। समिट के लिए चिन्हित किए गए 12 क्षेत्रों को इसमें 12 फूलों की रंगबिरंगी पत्तियों के रूप में दर्शाया गया है।
इस मौके पर मुख्यमंत्री ने कहा कि डेस्टीनेशन उत्तराखण्ड अंतरराष्ट्रीय व घरेलू निवेशकों को उत्तराखंड में निवेश के लिए प्लेटफार्म उपलब्ध कराएगा। इसमें दुनियाभर से निवेशक, निर्माता, उत्पादक, नीति निर्माता व औद्योगिक संगठन हिस्सा लेंगे। राज्य में निवेश से विभिन्न क्षेत्रो में स्थानीय युवाओं को बड़ी संख्या में रोजगार मिलेगा। इससे राज्य के उद्यमियों को भी अवसर मिलेंगे।
मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में बाहर से आने वाले निवेशकर्ताओं के साथ स्थानीय उद्यमियों का टाई-अप कराया जाना चाहिए। इससे दोनों ही लाभान्वित होंगे। उन्होंने आशा व्यक्त की कि राज्य के युवा उद्यमी भी आगे आएंगे और प्रदेश में इनोवेशन व उद्यमशीलता को बढ़ावा मिलेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार राज्य में निवेश अनुकूल माहौल बनाने के लिए लगातार प्रयासरत है। हम ईज आॅफ डूईंग बिजनेस में हिमालयी राज्यों में पहले स्थान पर हैं। अन्य राज्यों में भी अच्छी रैंक पर हैं। हमारे यहां सिंगल विंडो सिस्टम, प्रभावी रूप से संचालित है। कानून व्यवस्था की स्थिति काफी बेहतर है। पिछले समय में बिजली की उपलब्धता बढ़ी है जबकि दरें लगभग सभी मदों में उत्तर भारत के अन्य राज्यों से कम है। राज्य में स्किल्ड श्रम की उपलब्धता अधिक है।
आयुक्त उद्योग श्रीमती सौजन्या ने बताया कि निवेशकों को आकर्षित करने के लिए निवेश के लिए 12 मुख्य क्षेत्रो को चिन्हित किया गया है। इनमें खाद्य प्रसंस्करण, हाॅर्टीकल्चर, हर्बल व एरोमेटिक, पर्यटन, वैलनेस एवं आयुष, फार्मास्युटिकल्स, आॅटोमोबाईल्स, सेरीकल्चर एवं प्राकृतिक फाइबर, आईटी, नवीकरणीय ऊर्जा, जैव प्रोद्यौगिकी व फिल्म शूटिंग शामिल हैं। इन्वेस्टर्स समिट से पूर्व निवेशकों को आकर्षित करने के लिए अनेक मिनी कान्क्लेव व रोड़ शो आयोजित किए जाएंगे। आुयष, आयुर्वेद, हर्बल, एरोमेटिक व फार्मा पर 12 जुलाई को हरिद्वार में मिनी कान्क्लेव आयोजित किया जा चुका है। जबकि 7 अगस्त को टिहरी में पर्यटन व वैलनेस, 10 अगस्त को भीमताल (नैनीताल) में फिल्म शूटिंग व पर्यटन, 11 अगस्त को रूद्रपुर में खाद्य प्रसंस्करण व आॅटोमोबाईल पर मिनी कान्क्लेव आयेाजित किए जा रहे हैं। इसी प्रकार रोड़ शो का आयोजन 22 अगस्त को बैंगलुरू, 23 अगस्त को हैदराबाद, 24 अगस्त को अहमदाबाद, 29 अगस्त को मुम्बई व 30 अगस्त को नई दिल्ली में किया जाएगा। 30 अगस्त को ही नई दिल्ली में विभिन्न देशों के राजदूतों के साथ राउन्ड टेबिल वार्ता की जाएगी। समिट में प्रतिभाग करने के लिए ूूूण्कमेजपदंजपवदनजजंतंाींदकण्पद वेबसाईट पर रजिस्ट्रेशन 15 अगस्त से प्रारम्भ हो जाएंगे। कार्यक्रम में विधायक गणेश जोशी, सचिव पर्यटन दिलीप जावलकर, निदेशक उद्योग सुधीर नौटियाल सहित अन्य अधिकारी व उद्यमी मौजूद थे।

About madan lakhera

Check Also

भारत रत्न अटल के निधन से शोक की लहर

डोईवाला/ब्यूरो। भारत रत्न से सम्मानित देश के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी के निधन पर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *