Home / Uttatakhand Districts / Dehradun / रास्तेभर जनता से मेल-मुलाकात कर आगे बढ़े सीएम

रास्तेभर जनता से मेल-मुलाकात कर आगे बढ़े सीएम

ऑल वेदर रोड के कार्यों का स्थलीय निरीक्षण किया
सीमान्त क्षेत्रों को जोडऩे के लिए 13 हजार करोड़ से बनेंगी सडक़ें
नई टिहरी/देहरादून। राज्य निर्माण के 17 वर्ष बाद प्रदेश के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ऐसे पहले मुख्यमंत्री है जो मंत्रिमंडल के सदस्यों, विधायकों व अधिकारियों के साथ सडक़ मार्ग से गैरसैंण पहुंचे। इस दौरान उन्होने ऑल वेदर रोड के कार्यों का स्थलीय निरीक्षण के साथ ही जनता से सीधा संवाद भी किया। मुख्यमंत्री का क्षेत्र के लोगों द्वारा विभिन्न स्थानों पर जोरदार स्वागत किया गया।
मुख्यमंत्री त्रिवेन्द ने ऋषिकेश से कीर्तिनगर तक ऑल वेदर रोड के विभिन्न संवेदनशील स्थलों के निरीक्षण के दौरान सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश दिये कि इन स्थानों पर सुरक्षा के पुख्ता इन्तजाम किये जाए। उन्होंने कहा कि राज्य के सीमान्त क्षेत्रों को जोडऩे के लिए भारतमाला परियोजना के अन्तर्गत 13 हजार करोड़ की लागत से सडक़ों का निर्माण किया जायेगा।
मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने श्रीनगर में 3637.43 लाख की लागत से निर्मित चैरास सेतु का लोकार्पण एवं श्रीनगर व चैरास पुल को जोडऩे के लिए देवप्रयाग विधानसभा के अन्तर्गत चैरास में 9 करोड 41 लाख 36 हजार की लागत से दो किमी सडक़ का शिलान्यास किया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि इस पुल तथा मोटर मार्ग के बन जाने से गढवाल विश्वविद्यालय परिसर चैरास में आने वाले छात्रों को सुविधा होगी वहीं इस क्षेत्र के विकास में भी मदद मिलेगी तथा स्थानीय लोगों को भी आवागमन की सुविधा होगी। मुख्यमंत्री ने कौढियाला स्थित गंगा क्षेत्र में पर्यटन विभाग तथा मूल्यागॉव में ऑल वेदर रोड की कार्यदायी संस्था को व्यू प्वाईन्ट बनाने के भी निर्देश दिये।
इस अवसर पर पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने कहा कि बद्रीनाथ व केदारनाथ तक के पंहुच मार्ग के अन्तर्गत 44 संवेदनशील स्थानों को चिन्हित किया गया है जहॉ पर यातायात को सूचारु करने के लिए 40 जेसीबी तैनात रहेंगी। उन्होंने कहा कि ऑल वेदर रोड में सडक़ कटान का कार्य 31 मार्च 2018 तक पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है तथा 30 जून तक सडक़ों पर सुरक्षा दिवार लगाने की समयसीमा सुनिश्चित की गई है। इस अवसर पर उच्च शिक्षा राज्य मंत्री डा धन सिंह रावत, विधायक खजान दास, विधायक मुकेश कोहली, देवप्रयाग विनोद कंडारी, मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह, अपर मुख्य सचिव ओम प्रकाश, आयुक्त गढ़वाल एवं पर्यटन सविच दिलीप जावलकर, जिलाधिकारी सोनिका, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक बिमला गुंजियाल सहित एनएच के अधिकारी भी मौजूद रहे।

About madan lakhera

Check Also

उत्कृष्ट रेटिंग बिजली उत्पादन हासिल करेगा टीएचडीसी

टीएचडीसी इंडिया और विद्युत मंत्रालय के बीच हुआ करार वित्त वर्ष 2018-19 के लिए तय …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *