Home / Breaking News / रामनगर: दहेज के लिए पत्नी को पीटा, ससुरालियों पर कार्रवाई की मांग

रामनगर: दहेज के लिए पत्नी को पीटा, ससुरालियों पर कार्रवाई की मांग

रामनगर। दहेज के लिये एक व्यक्ति द्वारा अपनी पत्नी को तीन दिन से कमरे में बंद करके उसके साथ मारपीट का मामला प्रकाश में आया है। साथ ही पत्नी के सिर पर हमला बोलते हुये उसे घायल कर दिया। सूचना मिलने पर मायके वाले बेटी को छुड़ाकर कोतवाली में पहुंचे। जहां उन्होंने आपबीती बताते हुये पुत्री के ससुरालियों पर कार्रवाई करने की मांग की।
जानकारी के अनुसार उप्र के ठाकुरद्वारा तहसील के गांव मलपुरा निवासी जाबिर हुसैन की पुत्री अंजुम परवीन का विवाह चार माह पूर्व बसई निवासी आशिक अली के पुत्र तसलीम के साथ हुआ था। विवाह के बाद से ही तसलीम अंजुम के परिवार से दहेज के नाम पर पैसों की मांग करता रहता था। अंजुम के पिता ने बेटी का घर बसाने की नीयत से उसे कुछ समय पूर्व तीस हजार रुपये भी दिये थे। लेकिन तसलीम की भूख तीस हजार से शांत नहीं हुई थी वह लगातार चार लाख रुपये की मांग करता रहा। ससुराल से पैसे न मिलने पर तसलीम ने अपनी पत्नी को तीन दिन पूर्व मारपीट करते हुये एक कमरे में बंद दिया। इसके साथ ही उसने उसका खाना-पीना भी बंद कर दिया। लगातार तीन दिन भूखी-प्यासी अंजुम से उसका पति उसके साथ मारपीट भी करता रहा। इस बीच अंजुम को किसी तरह से अपने मायके बात करने का मौका मिला तो उसने सारी बात अपने पिता को बताई। सूचना मिलने पर उसके माता-पिता बेटी की ससुराल आ गये। जहां पर उनका दामाद उनके साथ भी मारपीट करते हुये तसलीम ने अपनी के पत्नी के कपड़े फाड़ते हुये उसके साथ मारपीट कर चाकू से प्रहार करके उसके हाथ व सिर में भी जख्म कर दिये। साथ ही उसे जलाने का भी प्रयास किया। बेटी की जान बचाते हुये अंजुम के माता-पिता उसे किसी तरह कोतवाली लेकर पहुंचे जहां पर पुलिस से अपने दामाद की करतूत बतानी शुरू कर दी। पुलिस ने अंजुम को पुलिस टीम के साथ संयुक्त चिकित्सालय भेजकर उसका स्वास्थ्य परीक्षण करवाया। इसके साथ ही पुलिस ने एक टीम आरोपी को पकडऩे के लिये बसई गांव के लिये रवाना भी कर दी है। मामले में पुलिस जांच में जुटी है।

 

About saket aggarwal

Check Also

डेंगू : बकरी का दूध बना अमृत

हल्द्वानी। अगर आपके पास बकरी है और वह भी दूध देने वाली तो इन दिनों …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *