Home / Breaking News / देहरादून में आसमान से बरसी आफत, 7 की मौत

देहरादून में आसमान से बरसी आफत, 7 की मौत

शास्त्री नगर इलाके में मकान पर पुश्ता गिरने से 4 की मौत
शहर में भारी बारिश ने मचाई तबाही

देहरादून। राजधानी देहरादून में बुधवार को आसमान से बरसी आफत ने तबाही मचा दी। तड़के सुबह हुई भारी बारिश के चलते 4 लोगो की मकान में दबने से मौत हो गई, जबकि उफान पर आई नदियों में बहने से भी 3 लोगो की मौत की खबर है। भारी बारिश से देहरादून पानी पानी हो गया है। कई इलकोमे बारिश के पानी ने भारी नुकसान पहुचाया है। मुशीबत की इस बारिश से शहर में जान जीवन अस्त व्यस्त हो गया है। हालांकि, सुबह 9 बजे के करीब बारिश थम जाने पर लोगो ने राहत की सांस ली है।

बुधवार ड़के शुरू हुई मुसलाधार बारिश ने शहर ककई हिस्सों में जमकर कहर कबरपाया। भारी बारिश के चलते शहर के कई घरों में बरसाती पानी घुस गया जबकि कॉलोनियों में चल रही कई दुकानों को भी क्षति पहुंची है। प्राप्त जानकारी के अनुसारए थाना बसंत विहार को कंट्रोल रूम के माध्यम से सूचना मिली कि शास्त्री नगर खाला क्षेत्र में एक मकान का पुश्ता ढहने से उसमें कुछ लोग दब गए हैं। उक्त सूचना पर थाना बसंत विहार से पुलिस बल मय आपदा उपकरणों के तत्काल मौके पर पहुंचे तथा राहत एवं बचाव कार्य प्रारंभ किया। पुलिस रेस्क्यू टीम द्वारा आपदा उपकरणों की सहायता से मौके से मलबे को हटाकर उसमें दबे 06 लोगों को निकालकर थाने के सरकारी वाहन से तत्काल उपचार हेतु दून अस्पताल पहुंचाया गयाए जिनमें से 04 लोगों को डॉक्टर द्वारा मृत घोषित किया गयाए शेष दो घायलों का वर्तमान में दून अस्पताल में उपचार चल रहा है। मृतकों की पहचान संतोष साहनी उम्र 35 वर्ष पुत्र रामचंद्र साहनी निवासी शास्त्रीनगर खालाए वसंत विहारएसुलेखा देवी उम्र 30 वर्ष पत्नी संतोष साहनीए धीरज कुमार उम्र 5 वर्ष पुत्र संतोष साहनी और नीरज कुमार उम्र 3 वर्ष पुत्र संतोष साहनी। सभी मृतक तारसराय गुडयि़ा जिला दरभंगाए बिहार के मूल निवासी हैं जबकि प्रमोद साहनी पुत्र सखीलाल साहनीए उम्र 35 वर्ष और जगदीश साहनीए उम्र 70 वर्ष गंभीर रूप से घायल हो गए हैं जिनका इलाज दून अस्पताल में चल रहा है। वहीं दूसरी ओरए बिन्दाल नदी में भयंकर पानी आने से बिन्दाल बस्ती में विधुत टावर गिर गया। राहत की बात है कि टावर गिरने से इसकी चपेट में कोई नहीं आया वरना बड़ा हादसा हो सकता था। टावर गिरने से बिन्दाल बस्ती और आस.पास के क्षेत्रों में बिजली गुल हो गई। भारी बारिश के चलते हिल व्यू कॉलोनी में सबसे ज्यादा नुकसान पहुंचा है। लोगों ने सहस्त्रधारा रोडए डीएल रोडए गोविंदगढ़एराजपुर रोडएबिंदालए रिस्पनाएमन्नूगंज आदि क्षेत्रों में आदि क्षेत्रों में पानी घुसने की शिकायत की है जबकि दुकानों में बरसाती पानी घुसने से दुकानों में रखा सामान भी खराब हो गया। कई जगह घरों में दो.दो फुट तक पानी घुस गया। भारी बारिश के चलते जन जीवन पूरी तरह से अस्त.व्यस्त हो गया। पानी निकासी की व्यवस्था न होने के कारण बरसात ने शहर के कई हिस्सों में काफी नुकसान पहुंचाया है।
हीं अलग.अलग स्थानों पर नदियों में बहने से तीन की मौत हो गई। बारिश के दौरान राजधानी देहरादून की सड़कों ने नालों का रूप ले लिया

इसमें कई दोपहिया वाहन भी वह गए। इसके रिस्पना नदी के किनारे कई घरों में पानी घुसने की सूचना भी है। साथ ही दीवार व पुश्ते ध्वस्त होने की भी सूचना है। पुलिस ने पानी के तेज बहाव से रेस्क्यू कर व्यक्ति के शव को निकाल लिया। मृतक की पहचान अब्दुल अजीज ;65 वर्षद्ध पुत्र मखदूम निवासी ग्राम छरबा थाना सहसपुर देहरादुन के रूप में हुई। वह आम के बाग में चौकीदारी करता था और सुवह बाग में जा रहा था। तभी पानी के तेज बहाव की चपेट में आ गया।
थाना नेहरू कॉलोनी को सूचना मिली की मोथरोवाला क्षेत्र में दौड़वाला के पास रिस्पना नदी में एक व्यक्ति का शव पड़ा है। उक्त सूचना पर थाना नेहरू कॉलोनी से पुलिस बल तत्काल मौके पर पहुंचा। मृतक के संबंध में जानकारी करने पर ज्ञात हुआ की उक्त व्यक्ति राजेश पुत्र बलदेव बलवीर रोडए डालनवाला निवासी है। वह आज प्रात: थाना डालनवाला क्षेत्र से रिस्पना नदी के तेज बहाव की चपेट में आने से बह गया था।

वहींए थाना रायपुर क्षेत्र में नफीस अहमद ;50 वर्षद्ध पुत्र मुस्तफा अहमद निवासी एलआइजी ब्लाक एमडीडीए कालोनी रिस्पना के तेज बहाव में बह गए। सूचना पर पुलिस ने रेस्क्यू अभियान चलाया और थाना क्लेमंटाउन क्षेत्र में दूधली से शव को बरामद किया।

इसके साथ भी बिंदाल के पास जलभराव से पांच मवेशियों की मौत हो गई। प्रेमनगर के कोटला संतूर में नदी का बहाव बढऩे से मजदूरों की चार झोपडिय़ां बही। यहां कोई जनहानि की सूचना नहीं है ।पुलिस कंट्रोल रूप से मिली सूचना के मुताबिक दून स्कूल की दीवारए गढ़वाल यूनिवर्सिटी की पुलिया भी टूट गई।

देहरादून के वसंत विहार स्थित हिल व्यू कालोनी में एशियन स्कूल के पास जलभराव हो गया। इस दौरान दीवार ढह गई। ओएनजीसी से मदद मांगने पर सीआईएसएफ की दमकल की गाडिय़ां मौके पर पहुंचकर पानी निकालने में जुटी रही।

About saket aggarwal

Check Also

‘आप’ की हुई मैडम या मैडम की हुई ‘आप’!

‘आप’ की हुई मैडम या मैडम की हुई ‘आप’! पार्टी का कैडर और अधिकांश पदाधिकारियों …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *