Breaking News
Home / Breaking News / उत्तराखंड रोडवेज की बसों से हो रहा है डीजल चोरी

उत्तराखंड रोडवेज की बसों से हो रहा है डीजल चोरी

हल्द्वानी। घाटे में चल रहे उत्तराखंड परिवहन निगम की बसों में तेल चोरी के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। अब काठगोदाम डिपो से संचालित वाल्वो बसों से तेल चोरी होने का वीडियो वायरल होने के बाद निगम के अधिकारियों के होश उड़ गये हैं।
काठगोदाम डिपो से छह वाल्वो बस रोजाना दिल्ली रूट पर चलती हैं। इनके अलावा दो बसें यात्रियों की मांगों को देखते हुए अतिरिक्त चलाई जाती हैं। ये वाल्वो निजी कंपनियों की हैं। सूत्रों के अनुसार वाल्वो बस से तेल के इस खेल में कंपनी के कर्मचारी लिप्त हैं। काठगोदाम रेलवे स्टेशन की पार्किंग के पास तेल निकाला जाता है। बाद में तेल बेचकर उत्तराखंड परिवहन निगम को चूना लगाया जा रहा। निगम के कुछ कर्मचारी नेताओं का कहना हैं कि बीते दिनों वाल्वो बसें 150 से 180 लीटर तक तेल ले रही हैं, जबकि वाल्वो बसों में दिल्ली आना-जाने में 120-125 लीटर तेल की खपत हैं, पर बस में 50-60 लीटर तेल चोरी की जा रही है जिसका प्रमाण वीडियो में भरते गेलन से स्पष्ट हो रहा है। रोडवेज कर्मचारियों ने बताया कि तेल के इस खेल के बारे में निगम के आला अधिकारियों को पता है। मंडलीय महाप्रबंधक संचालन और सहायक महाप्रबंधक काठगोदाम का कार्यालय तेल चोरी होने वाले स्थान से 500 मीटर की दूरी पर ही है। इनकी चुप्पी भी तेल चोरों के हौंसलों को बुलंद कर रही है। निगम के कर्मचारीं नेताओं की मानें तो अनुबंधित वॉल्वो, एसी, साधारण सेवाओं में जमकर तेल चोरी कर विभाग को घाटे के लिए जिम्मेदार हैं। उन्होंने कहा कि इन अनुबंधित बसों का अनुबंध समाप्त कर निगम में तेल चोरी की घटनाओं पर विराम लगाया जाना चाहिए।

 
विभागीय अधिकारियों की मिलीभगत से हो रही है चोरी
हल्द्वानी। निगम से रिटायर कर्मचारी नेता की मानें तो तेल चोरी का आंकड़ा करोड़ो में है। अगर 50 लीटर से छह बसों का आंकड़ा प्रतिदिन जोड़ा जाये तो 300 लीटर से 18000 रुपये की प्रतिदिन चोरी हो रही है।

About saket aggarwal

Check Also

नैनीदून जनशताब्दी एक्सप्रेस के चलने से रोडवेज को लाखों का नुकसान

कर्मचारी यूनियन की बैठक में उठा मुद्दा यूपी रूट पर बंद पड़ी बसों को पुन: …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *