Breaking News
Home / Accident / आशियाना उजड़ने से दर्जनों बगुलों की मौत

आशियाना उजड़ने से दर्जनों बगुलों की मौत

प्राथमिक विद्यालय बुल्लावाला का मामला

डोईवाला/ब्यूरो। वर्षो पुराने एक पेड़ पर बगुओं का घोषला उजड़ने से दर्जनों बगुलों की मौत का मामला सामने आया है।

डोईवाला के प्राथामिक विद्यालय बुल्लावाला प्रथम में वर्षो पुराना एक पिलखन का पेड़ खड़ा था। इस पेड़ की टहनियों पर काफी संख्या में बगुलों ने अपना आशियाना बना रखा था। लेकिन किसी ने पिलखन के इस पेड़ की डीप लोपिंग कर दी। जिस कारण पेड़ की शाखाएं नीचे गिरने से बगुलों के घोषले उजड़ गए। और बड़ी संख्या में बगुले मारे गए। स्कूल की प्रधानाचार्य रेखा ध्यानी ने कहा कि ये सच है कि बगुलों के कारण स्कूल में पढने वाले बच्चों का दुर्गंध से बुरा हाल था। और बच्चों में बिमारियों फैल रही थी। आसपास के लोगों को भी इससे परेशानियों का सामना करना पड़ रहा था।

लेकिन इसके बावजूद उन्होंने पेड़ को नहीं कटवाया है। स्कूल बंद होने के बाद पेड़ को काटा गया है। उधर मारखमग्रांट प्रधान परमिंदर सिंह ने कहा कि बगुओं के कारण स्कूल और आसपास के क्षेत्र में भयंकर दुर्गंध उठ रही थी। बच्चों और लोगों में बिमारियां फैलने का खतरा काफी बढ़ गया था। लेकिन पेड़ की लोपिंग किसने करवाई इस बारे में भी उन्हे कोई जानकारी नहीं है।

इन्होंने कहा

बुल्लावाला स्कूल में पेड़ कटने के कारण बगुलों की मौत हुई है। इस मामले में जांच की जा रही है। जांच के बाद ही कोई कार्रवाई की जाएगी। घनानंद उनियाल, रेंजर लच्छीवाला।

About madan lakhera

Check Also

नैनीदून जनशताब्दी एक्सप्रेस के चलने से रोडवेज को लाखों का नुकसान

कर्मचारी यूनियन की बैठक में उठा मुद्दा यूपी रूट पर बंद पड़ी बसों को पुन: …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *