Home / Breaking News / एयरपोर्ट पर स्पीड कंट्रोलर डिवाइस को लेकर हंगामा, टैक्सी सेवाएं बाधित

एयरपोर्ट पर स्पीड कंट्रोलर डिवाइस को लेकर हंगामा, टैक्सी सेवाएं बाधित

कार चालकों का आरोप, परिवहन विभाग मनमाने रेट वलूसकर लगा रहा डिवाइस

जौलीग्रांट/ब्यूरो। एयरपोर्ट पर संचालित सभी कार चालकों ने कार में लगाए जाने वाले स्पीड गवर्नर डिवाइस का विरोध करते हुए अपनी टैक्सी सेवाएं बंद कर दी।

एयरपोर्ट पर कार रेंटल और प्रीपेड कार सर्विस से जुड़ी हुई लगभग चार सौ टैक्सी प्रतिदिन संचालित की जाती हैं। जिनमें हर रोज हजारों हवाई यात्री एयरपोर्ट के लिए आवाजाही करते हैं। कार चालकों का आरोप है कि हाईकोर्ट द्वारा नई कामर्शियल वाहनों के लिए गति नियंत्रक डिवाइस अनिवार्य कर दी गई है। लेकिन उत्तराखंड सरकार और परिवहन विभाग द्वारा पुराने कामर्शियल वाहनों में भी इस डिवाइस को जबरन लगाया जा रहा है। पुराने वाहनों में स्पीड गवर्नर लगाए जाने के बाद गाड़ियां पहाड़ी मार्गो में नहीं चढ पा रही हैं।

 

प्रीपेड कार यूनियन के अध्यक्ष संजय सिंधवाल ने कहा कि परिवहन विभाग द्वारा 1500 रूपये के डिवाइस को दस हजार रूपये में लगाया जा रहा है। गढवाल मंडल टैक्सी-मैक्सी कैब चालक मालिकों ने सरकार को अल्टीमेटम दे दिया है कि जब तक पुराने वाहनों में स्पीड गवर्नर डिवाइस को लगाने का आदेश रद्द नहीं किया जाता तब तक टैक्सी चालक अपनी सेवाएं ठप रखेंगे। सचिव दिनेश कोठियाल ने कहा कि सरकार और परिवहन विभाग केवल कामर्शियल वाहनों में डिवाइस लगाना चाहता है। जबकि प्राईवेट कारों को इस नियम से दूर रखा गया है। मौके पर अनीस अहमद, अजीत सजवाण, सुमित किशोर जोशी, धर्मवीर भंडारी, प्रदीप पाल, दीपक पांडे, रणवीर सिंह, योगेश शर्मा, सुरेंद्र सिंह, राजकिशोर, राकेश शाह आदि उपस्थित रहे।

हवाई यात्रियों की हुई फजीयत

जौलीग्रांट। एयरपोर्ट पर कार सेवाएं ठप होने से हवाई यात्रियों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ा। एयरपोर्ट पर उतरने के बाद काफी हवाई यात्री अपना सामान लेकर लगभग दो किलोमीटर दूर ऋषिकेश मुख्य मार्ग तक पैदल ही गए। वहीं हवाई यात्रियों को एयरपोर्ट तक पहुंचने के लिए भी काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा। हांलाकि प्रशासन के निर्देश के बाद ऋषिकेश से देहरादून और देहरादून से ऋषिकेश जाने वाली रोड़वेज की बसों को वाया एयरपोर्ट होकर भेजा गया। लेकिन इन बसों में पहले ही काफी पैसेंजर बैठे हुए थे। इसलिए इन बसों में कुछ हवाई यात्रियों को खड़े होकर जाना पड़ा।

टैक्सी चालकों में हुई नोक-झोक

जौलीग्रांट। एयरपोर्ट पर टैक्सी चालकों की हड़ताल के बावजूद कुछ टैक्सी चालक अपनी कारों में हवाई यात्रियों को बैठाकर ले जा रहे थे। जिन्हे एयरपोर्ट के टोल बैरियर वाले गेट पर रोक लिया गया। इस दौरान वहां काफी धक्का-मुक्की भी हुई। और प्रदर्शन कर रहे कार चालकों ने किसी भी टैक्सी को सवारी लेकर नहीं जाने दिया। मौके पर चौकी पुलिस व्यवस्था बनाने में लगी हुई थी। उधर इस मामले में परिवहन आयुक्त डी सेंन्थिल पांडियन से पांच बार फोन करने पर भी बातचीत नहीं हो पाई।

 

About madan lakhera

Check Also

मैडम रजनी ने थामा आप का दामन

दून में मेयर पद पर पार्टी की होंगी प्रत्याशी झाड़ू से साफ करूंगी भ्रष्टाचार की …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *