Breaking News
Home / Agriculture / किच्छा:दो एकड़ धान की फसल में नहीं आई बालियां
धान की बिना बालियों की फसल दिखाते पीडि़त किसान कश्मीर सिंह।

किच्छा:दो एकड़ धान की फसल में नहीं आई बालियां

राजू सहगल/किच्छा। निकटवर्ती ग्राम भगवानपुर में सोसाइटी से कर्ज लेकर खेतीबाड़ी करने वाले किसान की दो एकड़ धान की फसल में अनाज की बालियां न आने का मामला क्षेत्र में चर्चा का विषय बना हुआ है। वहीं दूसरी ओर पीडि़त किसान के माथे पर कर्ज चुकाने को लेकर चिंता देखने को मिल रही है। जानकारी के अनुसार ग्राम भगवानपुर निवासी कश्मीर सिंह पुत्र पाल सिंह की ग्राम में करीब डेढ़ एकड़ निजी भूमि है और दो एकड़ भूमि को ठेके पर लेकर खेतीबाड़ी कर अपना व परिवार का गुजर बसर कर रहा है। किसान कश्मीर सिंह ने अन्य किसानों की तरह अपनी भूमि पर धान की फसल लगायी और अच्छी फसल आने की उम्मीद कर तमाम सपने संजोए थे। कश्मीर सिंह के अनुसार उसके द्वारा फसल की पैदावार के लिए ग्राम बरा स्थित सोसाइटी से करीब 45 हजार रुपए का लोन भी लिया गया था। वर्तमान में जहां आम तौर पर किसान अपनी धान की फसल काटकर उसे बेचने का काम कर रहे हैं वहीं दूसरी ओर अपनी फसल को देखकर कश्मीर सिंह के होश उड़ गए हैं। दो एकड़ भूमि पर पैदा हुई धान की फसल में दैवीय आपदा की मार पडऩे से अनाज की बालियां ही पैदा नहीं हुई है जिससे पीडि़त किसान कश्मीर सिंह बदहाली के आंसू बहाने को मजबूर है। फसल की पैदावार न होने से जहां एक ओर कश्मीर सिंह के सामने लिए गए कर्ज को चुकाने की समस्या खड़ी हो गयी, वहीं दूसरी ओर पूरे परिवार के सामने रोजी रोटी का भी संकट खड़ा हो गया है। फिलहाल धान की खडी फसल में बालियां न आने का मामला क्षेत्र में चर्चा का विषय बना हुआ है और स्थानीय किसानों द्वारा तमाम प्रकार के कयास लगाए जा रहे हैं। किसानों का मानना है कि संभवत: कीटनाशक दवाओं के दुष्प्रभाव के चलते यह घटना हुई है वहीं दूसरी ओर कुछ लोग घटना को दैवीय आपदा से जोडक़र देख रहे हैं। इस संबंध में बरा सोसाइटी के अध्यक्ष गुलशन सिंधी से भी सम्पर्क करने का प्रयास किया गया परन्तु उनका फोन रिसीव नहीं हो पाया। ग्राम भगवानपुर में दो एकड़ भूमि पर धान की बाली न आने का मामला चर्चा का विषय बना हुआ है।

About saket aggarwal

Check Also

किच्छा:गोल्ड मेडल जीतकर पहुंचे कराटे चैम्पियनों का स्वागत

किच्छा। ऑल इंडिया एंड इंडो नेपाल इंटरैनेशनल ओपन कराटे चैम्पियनशिप 2018 प्रतियोगिता में गोल्ड मैडल …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *