Home / Breaking News / डोईवाला: राजनीति-सियासी बिसात पर शह-मात का खेल शुरू

डोईवाला: राजनीति-सियासी बिसात पर शह-मात का खेल शुरू

चंद्रमोहन कोठियाल, डोईवाला। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के चुनावी क्षेत्र डोईवाला में नगर पालिका विस्तारीकरण के बाद होने वाले पहले चुनाव को लेकर सियासी गोटियां बिछनी शुरू हो गई हैं।
मुख्यमंत्री रावत और उनकी टीम ने डोईवाला नगर पालिका के पहले चुनाव में रणनीति बनाकर कार्य करना शुरू कर दिया है। 25 दिसंबर को थानों में आयोजित एक बड़े कार्यक्रम में सीएम सूर्यधार बांध का शिलान्यास कर विरोधियों में खलबली मचा चुके हैं। वहीं आगामी 14 जनवरी को मुख्यमंत्री द्वारा भानियावाला में सेंट्रल इंस्टीट्यूट फॉर प्लास्टिक इंजीनियरिंग एंड टेक्नॉलाजी संस्थान की नींव भी रखी जा रही है। भाजपाइयों का दावा है कि यह आईआईटी स्तर का संस्थान होगा। कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए भाजपा ने पूरा दम लगा रखा है। खासकर मुख्यमंत्री के ओएसडी 14 जनवरी के कार्यक्रम को लेकर कार्यकर्ताओं के साथ कई बैठकें कर चुके हैं। इन दोनों बड़ी योजनाओं का कार्य कब तक पूरा हो पाएगा। ये तो समय बताएगा, लेकिन भाजपा की पूरी कोशिश है कि आने वाले नगर पालिका चुनावों में इसका लाभ लिया जाए।
सीएम की विधानसभा होने का लाभ भी नगर चुनावों में भाजपा को मिल सकता है। वहीं कांग्रेस की बात करें तो कांग्रेस के पास भी मजबूत कद वाले कई स्थानीय नेता हैं, लेकिन फिलहाल कांग्रेस धीमी रफ्तार से आगे बढ़ रही है। कांग्रेस हाईकमान के ढुलमुल रवैये के कारण कार्यकर्ता डोईवाला के किसी भी मुद्दे को लपकने में नाकाम रहे हैं। कांग्रेस चाहती तो तमाम ऐसे मुद्दे हैं। जिन पर मुख्यमंत्री को डोईवाला में घेरा जा सकता है, लेकिन फिलहाल कांग्रेस का हाईकमान सहयोगी दल की भूमिका में नजर आ रहा है। हांलाकि दोनों पाटियों से जुड़े कार्यकर्ता क्षेत्र में घुमकर जनसंपर्क में जुटे हुए हैं।

 
पहले थे 7 अब हैं 20 वार्ड
डोईवाला। नगर पंचायत से नगर पालिका बनी डोईवाला में पहले 7 वार्ड थे, लेकिन विस्तारीकरण के बाद मारखमग्रांट, लच्छीवाला, भानियावाला, कांडरवाला, अठुरवाला और जौलीग्रांट ग्राम सभाओं के इसमें शामिल होने से अब 20 वार्ड बनाए गए हैं। डोईवाला नगर पालिका की मौजूदा जनसंख्या 10 हजार के लगभग है। जबकि विस्तारीकरण के बाद 65000 के लगभग जनसंख्या हो जाएगी और 3500 की आबादी पर एक वार्ड बनाया जाएगा। इसलिए अब सियासी समीकरण भी पहले से अलग होगा।

 
वार्डो के गठन की प्रक्रिया की जा रही है। विस्तारीकरण के बाद डोईवाला में कुल 20 वार्ड होंगे।
-विजय प्रताप सिंह चौहान, नगर अधिकारी डोईवाला।

About saket aggarwal

Check Also

हेमकुंड के लिए यात्रियों का पहला जत्था रवाना

मुनि महाराज ने जत्थेदारों को दिया पर्यावरण संरक्षण का संदेश स्वामी चिदानन्द व केन्द्रिय मंत्री …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *