Home / Breaking News / कवायद-वन विभाग, एयरपोर्ट और तहसील प्रशासन ने किया मंथन

कवायद-वन विभाग, एयरपोर्ट और तहसील प्रशासन ने किया मंथन

एयरपोर्ट के पास रास्ते के लिए ज्वाइंट सर्वे
डोईवाला। जौलीग्रांट के लोगों के लिए एयरपोर्ट और एसडीआरएफ के पास से रास्ते को लेकर एक ज्वाइंट सर्वे किया गया।
इस सर्वे में एयरपोर्ट प्रशासन, वन विभाग और तहसील प्रशासन के अधिकारियों ने भाग लिया। एयरपोर्ट और हिमालयन अस्पताल के कारण लोगों को ऋ षिकेश मुख्य मार्ग तक जाने के लिए रास्ते की समस्या खड़ी हो गई है। खासकर कोठारी मोहल्ला, बागी, सैनिक मोहल्ला आदि के लोगों के लिए गांव से मुख्य मार्ग तक जाना बड़ी समस्या बन चुका है। वर्तमान में अस्पताल और एयरपोर्ट की बाउंड्री के बीच से जो रास्ता ग्रामीणों को दिया गया है। उसमें आमने-सामने से आ रही दो कार भी क्रास नहीं हो पाती हैं। इसलिए लोग वन विभाग के कच्चे रास्ते से होकर एयरपोर्ट मार्ग से होते हुए मुख्य मार्ग तक आवाजाही कर रहे थे।
लेकिन वन भूमि पर बसे एसडीआरएफ के भी अपनी बाउंड्री करने से लोगों को रास्ते की समस्या खड़ी हो गई है। जिस कारण लोगों ने क्षेत्रीय विधायक और सीएम रावत से गुहार लगाई थी। जिसके बाद शनिवार के दिन तीनों विभागों ने मौके पर सर्वे किया। मौके पर मौजूद ग्रामीणों ने कहा कि उन्हें चौड़ा रास्ता दिया जाए। पूर्व उपप्रधान राजेश भट्ट ने कहा कि रास्ता इतना चैाड़ा होना चाहिए कि आपात स्थिति में एंबुलेंस, फायर ब्रिगेड आदि आसानी से गांव में आ सके। तीनों विभागों की ग्रामीणों के साथ सकारात्मक बातचीत हुई है और ग्रामीणों को रास्ता देने का आश्वासन दिया गया है। मौके पर एसडीओ भारत भूषण मर्तोलिया, तहसीलदार अनुप कंडारी, कानूनगो पदमदत्त नौटियाल, एजीएम सिविल अनिल गुप्ता, मैनेजर राजीव कुमार, रेंजर उमानंद गौड़, बीर सिंह, अर्जुन रावत, जबर सिंह, स्वरूप उनाल, सुभाष भट्ट, युद्धवीर चौहान आदि उपस्थित रहे।

एयरपोर्ट प्रशासन ने संबधित विभागों के साथ ग्रामीणों के लिए रास्ते का सर्वे किया है। ग्रामीणों के हितों को प्रभावित नहीं होने दिया जाएगा। -विनोद कुमार शर्मा, निदेशक देहरादून एयरपोर्ट

About saket aggarwal

Check Also

पूर्व स्वास्थ्य मंत्री बेहड़ प्रकरण में एसएसपी सख्त

रुद्रपुर। पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तिलक राज बेहड़ को फोन पर जान से मारने की धमकी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *