Breaking News
Home / Breaking News / जीरो टॉलरेंस में वन विकास निगम का करोड़ों का खेल
प्रतीकात्मक।।।

जीरो टॉलरेंस में वन विकास निगम का करोड़ों का खेल

वैद्य खनन की आड़ में वन विकास निगम की मोटी कमाई

डोईवाला/ब्यूरो। प्रदेश की जीरो टॉलरेंस सरकार में वन विकास निगम का भ्रष्टाचार चरम पर है।

वैद्य खनन की आड़ में अवैध खनन से वन विकास निगम के अधिकारी और कर्मचारी एक दिन में करोड़ों की काली कमाई करके वारे-न्यारे कर रहे हैं। मुख्यमंत्री की विधानसभा डोईवाला क्षेत्र में जितने भी खनन तौल कांटे हैं। उनमें कार्यरत वन विकास निगम के कर्मचारी और अधिकारी खनन तौल में भारी गड़बड़ी करके एक दिन में सरकार को कम और खुद को बड़ा फायदा पहुंचा रहे हैं।

सौंग, जाखन आदि नदियों से खनन परिवहन कर रहे वाहनों में निर्धारित क्षमता से कई अधिक खनन  का माल भरा जाता है। फिर खनन तौल कांटे पर उसकों जानबूझकर वन विकास निगम के कर्मचारी कम तौलते हैं। जिसमें कुछ फायदा खनन परिवहन करने वाले वाहनों के मालिकों व अधिक फायदा वन विकास निगम के कर्मचारियों व अधिकारियों को होता है।

इससे एक ही दिन में सरकार को करोड़ों को नुकसान हो रहा है। और ये खेल लंबे समय से अधिकारियों की मिलीभगत से खेला जा रहा है। बताया जा रहा है कि इसका पैसा ऊपर तक बैठे अधिकारियों और सरकार में बैठे कुछ लोगों की जेब में जा रहा है। वन विकास निगम द्वारा नियमों की अनदेखी कर भारी से बहुत भारी वाहनों को नदियों में खनन परिवहन के लिए घुसने दिया जा रहा है। जिससे राजस्व नुकसान के साथ ही नदियों व पर्यावरण को भी नुकसान पहुंच रहा है। इस संबध में अधिकारियों के दिखावे के उपाय नाकाफी साबित हो रहे हैं।

इन्होंने कहा

वन विकास निगम के खनन तौल कांटों पर गड़बड़ी की शिकायतें आ रही हैं। जिसको रोकने के लिए सीसी टीवी भी लगाए गए हैं। इस मामले में सख्ती से काम लिया जाएगा। एके यादव, डीएलएम वन विकास निगम।

About madan lakhera

Check Also

फॉक्सवैगन इंडिया ने पुणे संयंत्र में बनाई दस लाखवीं कार

– सेलेब्रेटरी कार मेड-फॉर-इंडिया थी और फॉक्सवैगन एमियो को खूबसूरत कार्बन स्टील रंग में पेश …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *