Breaking News
Home / Breaking News / मोटाहल्दू : गैस टैंकर में लगी आग, मची अफरातफरी

मोटाहल्दू : गैस टैंकर में लगी आग, मची अफरातफरी

मोटाहल्दू। हल्दूचौड़ पुलिस चौकी क्षेत्र में इण्डेन गैस प्लांट गोदाम के बाहर आज प्रात: करीब 3:20 बजे गैस से भरे हुए कैप्सूल ट्रक में आग लग गई। आग लगते ही आसपास के इलाके में अफरा-तफरी मच गई। ट्रक ड्राइवर से लेकर गोदाम कर्मियों ने मिलकर जैसे-तैसे आग बुझाने की कोशिश की मगर जब आग की लपट बढऩे लगी तो फौरन इसकी सूचना फायर ब्रिगेड व क्षेत्रीय पुलिस को दी गई। फायर ब्रिगेड को जैसे ही इसकी सूचना मिली फौरन घटनास्थल पर पहुंचकर आग पर काबू पाने की कोशिश की। जब तक आसपास के ग्रामीणों व दूसरी गाडिय़ों के ड्राइवरों ने आग को कुछ हद तक रोकने के प्रयास किए 2 घण्टे की भारी मशक्कत के बाद बमुश्किल आग पर काबू पाया गया। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि कैप्सूल(ट्रक) संख्या यूपी17 एटी 3978 लोनी दिल्ली से यहां पहुंचा था जिस वजह से गाड़ी अत्यधिक गर्म हो जाने से उसमें शार्ट शर्किट हो गया और देखते ही देखते ट्रक के चक्के से आग उठने लगी। इसके बाद बालू और मिट्टी डालकर जैसे-तैसे आग को काबू करने की कोशिश की गयी। वहीं गैस से भरे कैप्सूल के पीछे लगभग 20 के करीब ट्रक लाइन में खड़े हुए थे जिनकी तरफ आग की लपटें जाने लगी मगर एन वक्त पर फायर ब्रिगेड की टीम ने पहुंचकर आग पर फॉग करके धीरे-धीरे काबू पा लिया। स्थानीय लोगों ने बताया कि आग की लपट अगर और ऊपर उठती तो एक साथ 15-20 के करीब ट्रक जो गैस और सिलेंडर से भरे हुए थे, देखते-देखते इसकी चपेट में आ जाते और बड़ा हादसा हो सकता था।

 
पार्किंग होने के बावजूद लापरवाही
इण्डेन गैस प्लांट गोदाम की अपनी 32 वाहनों की पार्किंग होने के बावजूद प्लांट प्रबंधन लापरवाह बना हुआ है। विदित हो कि यहां खाली व भरी गाडिय़ों को खड़ा करने के लिए पार्किंग भी उपलब्ध है लेकिन यहां पूरी तरह से लापरवाही की जा रही है। जिस वक्त हादसा हुआ पार्किंग में कुल 15 गाडिय़ा ही पार्क थी, बाकी गाडिय़ां हाइवे किनारे कतार लगाकर खड़ी हुई थी।

 

 
फेल हो गए फायर उपकरण
गैस से भरे हुए कैप्सूल में आग लगने की सूचना मिलते ही प्लांट स्टाफ के हाथ-पांव फूल गए। प्लांट प्रबंधन द्वारा आग पर काबू पाने की काफी कोशिश की गई लेकिन कुछ हद तक कामयाबी तो मिली लेकिन फायर उपकरण जिससे आग पर आसानी से काबू पाया जाता है उन सिलेंडरों की आउटपुट लाइन ही फट गई जिससे आग ने विकराल रूप ले लिया।

 

 

रिसीव नहीं हुआ फोन
प्लांट के मेन गेट के बाहर भीषण हादसा होने के बाद जब पूरे प्रकरण की जानकारी प्राप्त करने को दूरभाष से हेड प्लांट मैनेजर अनुराग सिन्हा से वार्ता करनी चाही तो उनका फोन रिसीव नहीं हुआ।

 
ड्राइवर-कंडक्टर दोनों फरार
हल्दूचौड़ चौकी प्रभारी विमल मिश्रा ने बताया कि आग लगने के प्रत्यक्ष कारण अभी सामने नहीं आए हैं। ड्राइवर व कंडक्टर दोनों ही गाड़ी छोडक़र फरार हैं। मामले को लेकर प्लांट प्रबंधन से वार्ता की जा रही। लापरवाही करने वालों के खिलाफ कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

About saket aggarwal

Check Also

रामनगर : भाजपा नेता स्वामी के खिलाफ दी तहरीर

रामनगर। कांग्रेस के युवराज व सांसद राहुल गांधी को नशेड़ी कहे जाने से नाराज एनएसयूआई …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *