Home / Breaking News / गौलापार खेड़ा में ग्रामीणों ने लगाया जाम, छह माह से फुंका ट्यूबवेल दुरुस्त न करने से भड़के ग्रामीण

गौलापार खेड़ा में ग्रामीणों ने लगाया जाम, छह माह से फुंका ट्यूबवेल दुरुस्त न करने से भड़के ग्रामीण

हल्द्वानी। गौलापार खेड़ा में छह माह से फुंका ट्यूबवेल दुरुस्त न किये जाने से भड़के ग्रामीणों ने जाम लगा दिया। उन्होंने जल संस्थान के अफसरों पर अनदेखी का आरोप भी लगाया। बाद में जल संस्थान के अफसर मौके पर पहुंचे और पेयजलापूर्ति दुरुस्त करवाने का आश्वासन दिया। इस पर ग्रामीणों ने जाम खोल दिया। करीब दो घंटे तक लगे जाम के कारण सड़क पर वाहनों की लंबी कतार लगी रही। इस बीच काठगोदाम पुलिस को भी यातायात सामान्य करवाने में खासी मशक्कत करनी पड़ी। गौलापार खेड़ा में लगा ट्यूबवेल पिछले छह माह से ठप पड़ा है। इसके कारण नवाड़खेड़ा समेत तमाम गांवों में पेयजलापूर्ति भी खासी प्रभावित हो रही है। इधर बार-बार अवगत कराने के बावजूद समस्या का समाधान न होने पर सोमवार को ग्रामीणों के सब्र का बांध टूटा गया। गुस्साये ग्रामीणों ने खेड़ा में ट्यूबवेल परिसर के पास ही स्थित सड़क पर जाम लगा दिया। तमाम महिला व पुरुष सड़क पर बैठ गये। इधर मामले की सूचना मिलने पर काठगोदाम पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। बाद में जल संस्थान के सहायक अभियंता आरपी डोबवाल व जेई प्रमोद पांडे भी मौके पर पहुंचे और ग्रामीणों को शांत कराने का प्रयास किया। ग्रामीण ट्यूबवेल को दुरुस्त किये जाने की मांग पर अड़े रहे। इस पर जल संस्थान के अफसरों ने अतिशीघ्र पेयजलापूर्ति दुरुस्त करने का आश्वासन दिया। इस पर ग्रामीण शांत हो गये और जाम खोल दिया। इस बीच बीडीसी अर्जुन सिंह बिष्टï ने बताया कि बीडीसी बैठक में यह मामला उठाये जाने के बावजूद कोई सुनवाई नहीं हुई। जल संस्थान के अफसर भी बार-बार कोरे आश्वासन देते रहे। इस दौरान प्रधान चंदन नेगी, नितिन जोशी, चंदन नैथानी, महेंद्र बिष्टï, गणेश, तारा देवी, भगवती देवी, सरोजनी बृजवासी, उमा देवी, खष्टïी देवी, भुवन बृजवासी, जगदीश बृजवासी समेत तमाम ग्रामीण मौजूद थे। इधर ईई संतोष उपाध्याय ने बताया कि खेड़ा में जल स्तर गिरने के कारण ट्यूबवेल सुचारु ढंग से नहीं चल पा रहा है। पूर्व में इसे दुरुस्त कराने के बावजूद इससे आपूर्ति नहीं हो पाई।

 
संगम विहार में पेयजल संकट, ईई से मिलीं महिलायें
हल्द्वानी। संगम विहार दमुवाढूंगा में पेयजल संकट से गुस्सायी महिलायें सोमवार को जल संस्थान जा धमकीं और अधिशासी अभियंता संतोष उपाध्याय से मिलीं। इस दौरान महिलाओं का कहना था कि वहां बिछाई गई पेयजल लाइन से कुछ लोगों ने अवैध संयोजन लिये हैं। इस वजह से उन्हें पानी नहीं मिल पा रहा है। इधर पॉलीशिट वार्ड के तुलसीनगर क्षेत्र में पेयजलापूर्ति बाधित होने के मामले में वार्ड पार्षद मुन्ना पोखरिया के नेतृत्व में तमाम लोग ईई से मिले। पार्षद पोखरिया ने बताया कि तुलसीनगर में दो दिन से पेयजलापूर्ति ठप है। इस दौरान दीपक पंत, कैलाश जोशी, मनोज बल्यूटिया, पप्पू चौहान, दीपक फत्र्याल आदि शामिल थे।

About saket aggarwal

Check Also

तिवारी का अंतिम संस्कार कल, पुलिस मुस्तैद

हल्द्वानी। पूर्व सीएम नारायण दत्त तिवारी के अन्तिम दर्शन/अन्तेष्टि हेतु सुरक्षा एवं यातायात व्यवस्था को …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *