Breaking News
Home / Breaking News / हल्द्वानी: बंद घर का दरवाजा खुला, पत्नी का नग्न शव पति बेहोश मिला

हल्द्वानी: बंद घर का दरवाजा खुला, पत्नी का नग्न शव पति बेहोश मिला

-हल्द्वानी के रामपुर रोड स्थित बेड़पोखड़ा (पंचायत घर) की घटना
-पूरे हल्द्वानी के थाना प्रभारी एसएसपी समेत मौके पर डटे
-घर का हर सामान मिला अस्त व्यस्त, आलमारियां टूटी मिलीं
-घर में अकेले थी पति पत्नी, पत्नी से रेप की आशंका

हल्द्वानी। यहां के रामपुर रोड स्थित बेड़पोखड़ा (पंचायत घर) क्षेत्र में दो दिन से बंद एक मकान में मकान मालकिन का शव व उसके पति मूर्छित अवस्था में पड़ा मिला है। गृह स्वामिनी का शव नग्न अवस्था में बेड पर पड़ा मिला है। इससे आशंका जताई जा रही है कि मौत से पहले उसका शारीरिक शोषण भी किया गया होगा। फिलहाल गृहस्वामी को बृजलाल चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है जहां उसकी हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है। जिले के एसएसपी जन्मेजय खंडूड़ी, एसपी, सीओ तथा आधा दर्जन थानों के प्रभारी भारी पुलिसबल के साथ मौके पर डटा है। डॉग स्क्वायड और फॉरेसिंक एक्सपर्ट भी घटना स्थल की जांच पड़ताल में जुटे हैं।


बेड़पोखड़ा (पंचायत घर) क्षेत्र में मूलत: बागेश्वर निवासी भुवन चंद भट्ट (46) ने 12 साल पहले अपना मकान बनाया था। इसके बाद से ही वे अपनी मां, पत्नी राधा भट्ट(36) व सात साल की बेटी के साथ रहने लगे थे। भुवन डिग्री कालेज के पास स्थित किसी कोचिंग सेंटर में पढ़ाते हैं। उनके दो बड़े भाई बसंत भट्ट अपने परिवार के साथ जवाहर नगर नंगला में रहते हैं जबकि उनसे छोटा भाई नवीन भट्ट आंचल डेयरी में काम करता है। जबकि बसंत भट्ट सेंचुरी पेपर मिल में नौकरी करते हैं। इधर भुवन भट्ट के मकान के ऊपरी हिस्से में एसटीएच में जीआरएफ में तैनात गुरविंदर सिंह किराय पर रहता है।
गुरविंदर का कहना है कि मंगलवार से भुवन भट्ट के मुख्य द्वार अंदर से बंद था। आज सुबह जब उसने दरवाजा खोलने का प्रयास किया तो दरवाजा नहीं खुला जबकि अंदर से तीखी गंध आ रही थी। उसने इसकी जानकारी भुवन के साले को दी। उसने आकर घर का मुख्य द्वार तोड़ दिया। अंदर के सारे दरवाजे खुले हुए थे। बेडरूम के बेड में राधा का नग्न शव पड़ा था जबकि फर्श पर भुवन पड़ा हुआ था।


उन्होंने तुरंत घटना की जानकारी पुलिस को दी। पुलिस ने मौके पर पहुंच कर घटना की जांच शुरु कर दी। राधा के शव को अंत: वस्त्र पहनाए गए। उसके शरीर पर खरोचों और चोटों के निशान देखे जाने से आशंका जताई जा रही है कि उनका शारीरिक शोषण भी हुआ हो सकता है। पुलिस ने पाया कि भुवन की सांसें अभी भी चल रही हैं। उन्हें तुरंत चिकित्सालय पहुंचाया गया। इस बीच तमाम वरिष्ठ पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचने लगे। जांच में पाया गया कि कमरे में सारा सामान अस्त-व्यस्त पड़ा हुआ है। कमरे में रखी आलमारी खुली हुई है और उसमें रखा सामान बिखरा पड़ा है। मकान की एक खिडक़ी की जाली निकली हुई है जबकि उसके सरिये भी टूटे हुए हैं। इससे कमरे में फोर्स एंट्री की संभावना बढ़ जाती है।
इस बीच भुवन भट्ट के दोनों भाई व मां भी वहां पहुंच गई भुवन के बड़े भाई बसंत के अनुसार भुवन हर साल अपने घर में पूजा का आयोजन करते थे। इस वर्ष में मई महीने में उन्होंने पूजा रखी थी, लेकिन दोनों बड़े भाई उसमें शामिल नहीं हो सके। इसलिए भुवन के साथ रहने वाली मां प्रसाद लेकर उनके घर चली गई थी। उधर बेटी के पेपर निपटने के बाद वह भी नानी के साथ उनके घर चली गई। इन दिनों भुवन और राधा अकेले ही घर पर रह रहे थे।
अभी यह पता नहीं चल सका है कि घर में लूटपाट हुई है या फिर लूट का दिखावा किया गया है। एसएसपी जन्मेजय खंडूड़ी के अनुसार अभी इस मामले में कुछ भी कहना जल्दीबाजी होगी। हम पोस्टमार्टम रिपोर्ट और भुवन भट्ट के होश में आने का इंतजार कर रहे हैं।
खेत खंगाल रही पुलिस
पुलिस ने भुवन भट्ट के आसपास खेतों को छानना शुरू कर दिया है। लेकिन अभी तक कोई भी संदिग्ध चीज पुलिस के हाथ नहीं लगी है।
क्या चोरी गया पता नहीं
अभी यह पता नहीं चल सका है कि भुवन के घर से किस किस सामान की लूट हुई है। भुवन के होश में आने के बाद ही चोरी गए सामान का पता चल सकेगा।

About saket aggarwal

Check Also

पुंछ जाकर शहीद औरंगजेब के परिवार से मिले सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत

नई दिल्ली (एजेंसी)। जम्मू-कश्मीर में सीजफायर खत्म होने से एक दिन पहले ही आतंकियों ने …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *