Home / Breaking News / उत्तराखंड : मौसम के तेवर तल्ख, सर्दी फिर लौटी

उत्तराखंड : मौसम के तेवर तल्ख, सर्दी फिर लौटी

हल्द्वानी। बसंत के मौसम में भी सर्दी का अहसास लौट आया है। उत्तराखंड में मौसम ने करवट ले ली। सुबह से ही बारिश का दौर शुरू हो गया है इससे तापमान में गिरावट दर्ज की गई है। हल्द्वानी में रुक-रुक कर बारिश हो रही है।
मौसम विज्ञान केंद्र के मुताबिक, चारधाम समेत साढ़े तीन हजार मीटर से अधिक ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बर्फबारी की संभावना बन रही है, जबकि गढ़वाल और कुमाऊं के निचले इलाकों में दिनभर बारिश के आसार हैं। राज्य मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि आने वाले 24 घंटों में देहरादून, हरिद्वार, टिहरी, पौड़ी, नैनीताल एवं ऊधमसिंह नगर में ओलावृष्टि के साथ तेज हवाएं चल सकती हैं। विभाग ने स्थानीय प्रशासन को एहतियात बरतने की सलाह दी है। इधर हल्द्वानी में आज सुबह से ही रुक-रुक कर बारिश हो रही है। बारिश की वजह से यहां का तापमान गिर गया है। अनुमान है कि आने वाले 24 घंटे के दौरान मौसम का मिजाज इसी तरह बना रहेगा। शुक्रवार को मौसम साफ होने का अनुमान है।

 

 
19 फरवरी से फिर होगी बारिश
हल्द्वानी। 19 फरवरी से एक बार फिर पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने का अनुमान है। पहाड़ मैदान सभी जगह बारिश की संभावना है। अधिक ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बर्फबारी के भी आसार हैं।

 

 

 

 

 
पहाड़ी क्षेत्रों में बारिश से फिर पारा धड़ाम
नैनीताल। गुरुवार को सुबह से घने बादल छाने व वर्षा होने से नैनीताल सहित पहाड़ों में तापमान में भारी गिरावट आ गई जिस कारण पूरा जन-जीवन प्रभावित रहा। चार दिन मौसम सामान्य रहने के बाद मौसम ने पलटी मार ली। इस दौरान लोगों ने आग व हीटर जलाकर ठंड दूर की। इस दौरान रुक-रुक कर वर्षा होती रही। वर्षा के दौरान नैनीताल पहुंचे सैलानी होटलों में दुबके रहे। पर्वतीय क्षेत्र सहित नैनीताल में सुबह व रात्रि में कड़ाके की ठंड जारी है। बीते दिनों से पर्वतीय क्षेत्रों में हो रही यह वर्षा रबी की फसल के लिए लाभकारी मानी जा रही है। दूसरी ओर नैनीताल सहित पहाड़ी इलाकों में पर्याप्त बर्फबारी नहीं होने से लोगों में निराशा व्याप्त है। खासतौर पर बागवानों में चिन्ता बनी हुई है। मौसम विभाग के अनुसार अगले 24 घंटों में पहाड़ी क्षेत्रों में वर्षा व हिमपात होने की संभावना है। नगर के हिमालय दर्शन, टिफिन टॉप, अयारपाटा की ऊंची पहाडिय़ों में जहां पर धूप नहीं पहुंचती है वहां पर अभी भी बीते एक सप्ताह पूर्व पड़ी बर्फ काफी मात्रा में मौजूद है। मौसम विज्ञान केंद्र के प्रभारी प्रताप सिंह बिष्ट ने बताया कि गुरुवार को अधिकतम तापमान 12 तथा न्यूनतम तापमान पांच डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

About saket aggarwal

Check Also

ग्राम पंचायत में न जोड़ा तो चुनाव का बहिष्कार करेंगे लोग

हल्द्वानी। जीतपुर नेगी ग्राम पंचायत के ग्रामीणों को मतदाता न बनाये जाने का मामला तूल …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *