Home / Breaking News / हल्द्वानी: प्रशासन की ढिलाई, बैंक्वेट हॉल स्वामियों के शोरगुल पर अंकुश नहीं

हल्द्वानी: प्रशासन की ढिलाई, बैंक्वेट हॉल स्वामियों के शोरगुल पर अंकुश नहीं

नरेन्द्र देव सिंह, हल्द्वानी। शहर में बैंक्वट हॉल स्वामियों पर प्रशासन की तरफ से कोई नकेल न होने की वजह से शहरवासियों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। जहां तहां खुल रहे बैंक्वट हॉल की वजह से रिहायशी इलाकों में परेशानियां हो रहीं हैं, इसके साथ ही पार्किंग की समस्या होने की वजह से सड़कों पर जाम भी लग रहा है। यही नहीं कुछ बैंक्वट हॉल स्वामी कूड़ा निस्तारण के लिये सही नियमों का इस्तेमाल नहीं कर रहे हैं। जिन बैंक्वट हॉल के पास सिंचाई नहर है वहां यह भी देखने में आया है कि बैंक्वट हॉल स्वामी बचा हुआ कूड़ा नहरों में ही डाल रहे हैं। होने को तो हर बैंक्वट हॉल स्वामी की तरफ से इस बात के दावे किये जा रहे हैं कि सभी नियमों का पालन किया जा रहा है लेकिन रात के समय जब बैंक्वट हॉल के बाहर वाहनों की कतारें खड़ी होतीं हैं वहीं से इन दावों की पोल खुल जाती है।

सड़कों पर वाहनों की पार्किंग
शहर में खुले तमाम बैंक्वट हॉल में वाहन पार्किंग की समुचित व्यवस्था नहीं है। इस वजह से वाहनों की पार्किंग बाहर सड़कों पर करनी पड़ती है। शादियों के सीजन में सड़कों पर वाहनों की बेतरतीब पार्किंग की वजह से जाम लग जाता है। यह समस्या आम बन चुकी है। और लोगों को इस समस्या से दो चार होना पड़ता है। यह समझ से पर हैं कि प्रशासन इस बात की निगरानी क्यों नहीं करता है कि जिन बैंक्वट हॉल स्वामियों के पास पार्किंग की समुचित व्यवस्था नहीं है उन पर कार्रवाई की जाये।

रिहायशी इलाकों में बैंक्वट हॉल
रिहायशी इलाकों में कुकरमुत्तों की तरह बैंक्वट हॉल खुल गये हैं। आलम यह है कि कई जगह पर तो आधा किलोमीटर के दायरे में दस-दस बैंक्वट हॉल खुले हुये हैं। इतनी ज्यादा तादाद में बैंक्वट हॉल खुलने की वजह से आबादी वाले इलाकों में परेशानियां हो रहीं हैं। शादियों के सीजन में तो जाम की फजीहत के साथ ही जमकर ध्वनि प्रदूषण भी होता है।

कम चौड़ाई वाली सड़कों पर भी बैंक्वट हॉल
लगता है कि प्रशासन बैंक्वट हॉल स्वामियों की तरफ से पूरी तरह से आंख बंद करके बैठा हुआ है। कम चौड़ाई वाली सड़कों पर भी बैंक्वट हॉल बने हुये हैं। सोचने वाली बात यह कि जिला विकास प्रधिकरण के वजूद में होने के बाद भी इस तरह से बैंक्वट हॉल के निर्माण की स्वीकृति कौन दे रहा है।
यह भी नहीं देखा जा रहा है कि कम चौड़ाई वाली सड़कों पर बैंक्वट हॉल का संचालन किस तरह से हो पायेगा।

जरूरी प्रक्रिया भी अधूरी
बैंक्वट हॉल के संचालन में जरूरी मानकों को भी पूरा नहीं किया जा रहा है। इसी तरह से कई बैंक्वट हॉल स्वामियों के पास अग्निशमन कार्यालय से एनओसी भी नहीं है। आबादी वाले इलाकों में कम चौड़ाई वाली सड़कों पर किसी बैंक्वट हॉल में अगर कोई आगजनी की घटना हो जाये तो सोचने वाली बात यहै कि इस पर काबू कैसे पाया जायेगा।

जिला विकास प्राधिकरण के नियमों का जो बैंक्वट हॉल स्वामी पालन नहीं कर रहे हैं उन पर कार्यवाही की जायेगी। – प्रत्युष सिंह, सिटी मजिस्ट्रेट हल्द्वानी।

About saket aggarwal

Check Also

नैनीताल: गुरुनानक जंयती पर कीर्तन व लंगर का आयोजन

मृत रागी बलविंदर ने श्रद्धालुओं को किया मंत्र मुग्ध उत्तरांचल दीप ब्यूरो, नैनीताल। मंगलवार को …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *