Breaking News
Home / Breaking News / हरिद्वार में कौशिक व महाराज समर्थक भिड़े ,मेयर के खिलाफ मुकदमा दर्ज

हरिद्वार में कौशिक व महाराज समर्थक भिड़े ,मेयर के खिलाफ मुकदमा दर्ज

जमकर चले लाठी-डंडे व पत्थर, मेयर घायल, आश्रम का अतिक्रमण तोडऩे पर बवाल, नाराज निगम कर्मियों ने आश्रम के बाहर कूड़ा डाला
हरिद्वार। मूसलाधार बारिश की वजह से जलभराव से जूझ रहे बाशिंदों को राहत दिलाने के लिए अतिक्रमण हटाने गए मेयर और कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक के समर्थकों पर कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज के श्री प्रेमनगर आश्रम के समर्थकों ने लाठी-डंडा और सरिया आदि से हमला बोल दिया। हमले में मेयर सहित छह से अधिक लोग घायल हो गए। मेयर के सिर में छह टांके लगे हैं और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। हमला करने वालों ने जमकर पथराव किया। दोनों ओर से फिर पत्थरबाजी हुई। इसमें तीन मीडिया कर्मी भी चोटिल हुए हैं। हमले से नाराज कैबिनेट मंत्री शहरी विकास मंत्री मदन कौशिक समर्थक, मेयर समर्थक और निगम के कर्मियों ने जमकर कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज के खिलाफ नारेबाजी की और उनसे इस्तीफे की मांग की। नाराज निगम कर्मियों ने श्री प्रेमनगर आश्रम के मुख्य द्वार पर कूड़ा डाल दिया। तनावपूर्ण स्थिति से पार पाने को पुलिस को खासी मशक्कत करनी पड़ी। पीएसी सहित एसपी सिटी सहित कई सीओ सहित कई थानों की पुलिस पहुंची और उपद्रव कर रहे लोगों को हल्का बलप्रयोग कर खदेड़ा। मामले में राजनीति हरिद्वार की बेहद गरमा गई है। इस बीच देर शाम प्रेम आश्रम के प्रबंधकों की ओर से मेयर मनोज गर्ग के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर दिया गया है।
धर्मनगरी में सुबह से मूसलाधार बारिश हुई। बारिश की वजह से हरिद्वार पानी-पानी हो गया। रानीपुर मोड़ सहित कई इलाके जलमग्न हो गए। इसी दौरान शहरी विकास मंत्री मदन कौशिक के खन्ना नगर सहित अन्य कालोनियों में भी जबरदस्त जलभराव हो गया। बारिश थमने पर मेयर मनोज गर्ग अपनी नगर निगम की टीम और समर्थकों के साथ जलभराव से निजात दिलाने के लिए शहर में निकले। बताया जाता है कि जलभराव की स्थिति का जायजा लेने पहुंचे मेयर मनोज गर्ग को मौके पर पहुंचे लोगों ने कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज के श्री प्रेमनगर आश्रम के अतिक्रमण के चलते ही कालोनी में जलभराव होने की बात बताई। कालोनीवासियों ने आरोप यह भी लगाया कि आश्रम की ओर से नाले पर भी कब्जा किया गया है। इससे पानी की निकासी रुक गई है। मौके पर नगर निगम की टीम जैसे ही आश्रम के अतिक्रमण को तोडऩे लगी तो आश्रम के लोगों ने विरोध शुरू कर दिया। मेयर गर्ग के साथ शहरी विकास मंत्री मंत्री मदन कौशिक के समर्थक मौजूद थे। देखते ही देखते दोनों पक्षों में विवाद बढ़ गया। आरोप है कि आश्रम से सतपाल महाराज के समर्थक डंडे लेकर आए और उन्होंने मेयर मनोज गर्ग के साथ ही नगर निगम कर्मचारियों और कौशिक समर्थकों पर हमला बोल दिया। इससे मेयर को चोट आई है। उन्हें किसी तरह बचाकर अस्पताल पहुंचाया गया। इस दौरान निगम कर्मियों ने जेसीबी चला कर अतिक्रमण तुड़वा दिया। इससे गुस्साए महाराज समर्थकों ने पथराव किया तो जवाब में दोनों ओर से पत्थरबाजी हुई। इसमें दोनों पक्ष से करीब आधा दर्जन लोग घायल बताए जा रहे हैं। मंत्री मदन कौशिक के समर्थक महाराज के समर्थकों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग को लेकर वहां प्रदर्शन करने लगे। प्रशासन और पुलिस की टीम ने उपद्रवियों को लाठी फटकार कर खदेड़ा। मौके पर एसपी सिटी ममता वोहरा, सीओ जेपी जुयाल सहित कई पुलिस अधिकारी पहुंचे। पीएसी को तैनात कर दिया गया।

जलभराव की समस्या को देखने और निकासी को लेकर श्री प्रेमनगर आश्रम गया था। उसी दौरान आश्रम के सामने से अतिक्रमण हटाने के दौरान सैकड़ों की तादाद में लाठी-डंडे, सरिया और भाला लेकर आए लोगों ने हमला बोल दिया। इसमें मैं और कई लोग घायल हो गए।
– मनोज गर्ग, मेयर, हरिद्वार

 

About saket aggarwal

Check Also

डीआईजी ने पढ़ाया ईमानदारी, कर्तव्यनिष्ठा का पाठ महिला थाने एवं फायर स्टेशन का लोकार्पण

अल्मोड़ा। पूरन सिंह रावत, पुलिस उपमहानिरीक्षक कुमांऊं परिक्षेत्र नैनीताल के द्वारा मंगलवार को वरिष्ठ पुलिस …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *