Home / Uttatakhand Districts / Dehradun / जावलकर होंगे स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के सीईओ

जावलकर होंगे स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के सीईओ

सरकार ने गढ़वाल मंडलायुक्त पद की जिम्मेदारी भी सौंपी
कई आईएएस अधिकारियों के दायित्वों में फेरबदल
देहरादून। उत्तराखंड में एक बार फिर कई आईएएस और पीसीसी अधिकारियों के दायित्वों में फेरबदल किया गया है। इस फेरबदल में तेजतर्रार आईएएस दिलीप जावलकर को अहम दायित्व सौंपे गए हैं। अब तक बाध्य प्रतीक्षा सूची में चल रहे दिलीप जावलकर को मोदी सरकार के ड्रीम प्रोजेक्ट स्मार्ट सिटी देहरादून के लिए मुख्य कार्यकारी अधिकारी नियुक्त किया गया है। इसके अलावा उन्हें गढ़वाल मंडलायुक्त और प्रभारी सचिव गन्ना व चीनी के भी अहम दायित्व सौंपे गए हैं। गुरुवार को शासन ने इस फेरबदल को लेकर सूची जारी की।
अपर मुख्य सचिव, उच्च शिक्षा, कृषि एवं कृषि विपणन, कृषि शिक्षा, दुग्ध विकास, भेड़ एवं बकरी पालन, वर्षा जल संग्रहण, उद्यान एवं खाद्य प्रसंस्करण, आबकारी, अध्यक्ष, ब्रिडकुल, कृषि उत्पादन आयुक्त, उत्तराखण्ड तथा अवस्थापना विकास आयुक्त, उत्तराखण्ड डॉ. रणबीर सिंह को अब अपर मुख्य सचिव, कृषि एवं कृषि विपणन, कृषि शिक्षा तथा उद्यान एवं खाद्य प्रसंस्करण के दायित्व से अवमुक्त किया गया है। डॉ.रणबीर सिंह के शेष पदभार यथावत रहेंगे। कार्मिक अनुभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार सचिव, मुख्यमंत्री, वित्त, आपदा प्रबन्धन, बाह्य सहायतित परियोजनायें (ई0ए0पी0), गोपन, गन्ना चीनी उद्योग, आवास, कार्यक्रम निदेशक, पीएमयू, आयुक्त, आवास तथा मुख्य प्रशासक, उत्तराखण्ड आवास एवं नगर विकास प्राधिकरण अमित सिंह नेगी को सचिव, गन्ना चीनी उद्योग के पदभार से अवमुक्त किया गया है।

सचिव (प्रभारी), आयुष एवं आयुष शिक्षा, राजस्व तथा रोजगार सृजन, कौशल विकास, श्रम एवं सेवायोजन हरबंस सिंह चुघ को वर्तमान पदभार के साथ-साथ सचिव(प्रभारी) प्रोटोकॉल, खेल/युवा कल्याण के पद पर तैनात किया गया है। सचिव (प्रभारी), सामान्य प्रशासन विजय कुमार ढौंडियाल को वर्तमान पदभार के साथ-साथ सचिव (प्रभारी) अल्पसंख्यक कल्याण, अध्यक्ष, बहउद्देशीय वित्त विकास निगम तथा अध्यक्ष, अल्पसंख्यक कल्याण एवं वक्फ विकास निगम के पद पर तैनात किया गया है। सचिव (प्रभारी) राज्यपाल विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी तथा बायोटेक्नलॉजी रविनाथ रमन को वर्तमान पदभार के साथ-साथ सचिव (प्रभारी), समाज कल्याण, गृह तथा कारागार के पद पर तैनात किया गया है।
जिलाधिकारी, हरिद्वार, मेलाधिकारी, हरिद्वार तथा उपाध्यक्ष, हरिद्वार विकास प्राधिकरण दीपक रावत को उपाध्यक्ष, हरिद्वार विकास प्राधिकरण के पदभार से अवमुक्त किया गया है। अपर सचिव, आपदा प्रबन्धन, शहरी विकास, खनन, अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी, राज्य आपदा प्रबन्धन प्राधिकरण विनोद कुमार सुमन को अपर सचिव, आपदा प्रबंधन के पदभार से अवमुक्त करते हुए निदेशक, शहरी विकास के पद पर तैनात किया गया है। अपर सचिव, पर्यटन, संस्कृति, धर्मस्व तथा अपर मुख्य कार्यकारी अधिकारी, पर्यटन विकास परिषद सविन बंसल को वर्तमान पदभार के साथ-साथ अपर सचिव, आपदा प्रबन्धन विभाग, परियोजना निदेशक, बाह्य सहायतित परियोजनायें-2 तथा अपर मुख्य प्रशासक, उत्तराखंड आवास एवं नगर विकास प्राधिकरण के पद पर तैनात किया गया है। मुख्य विकास अधिकारी, हरिद्वार नितिन सिंह भदौरिया को वर्तमान पदभार के साथ-साथ उपाध्यक्ष, हरिद्वार विकास प्राधिकरण तथा मुख्य नगर अधिकारी, नगर निगम, हरिद्वार के पद पर तैनात किया गया है।
अपर सचिव, ग्राम्य विकास तथा आयुक्त ग्राम्य विकास तुलसी राम को वर्तमान पदभार के साथ-साथ अपर सचिव, सहकारिता के पद पर तैनात किया गया है। अपर सचिव, राजस्व, दुग्ध विकास एवं महिला डेयरी तथा निबन्धक, सहकारिता बाल मयंक मिश्रा को वर्तमान पदभार के साथ-साथ अपर सचिव, पशुपालन एवं मत्स्य के पद पर तैनात किया गया है। अपर सचिव, सहकारिता, पशुपालन एवं मत्स्य तथा निदेशक, दुग्ध विकास एवं महिला डेयरी आनन्द स्वरूप को उनके वर्तमान पदभार से अवमुक्त करते हुए सचिव, उत्तराखंड, लोक सेवा आयोग, हरिद्वार के पद पर तैनात किया गया है। सचिव, उत्तराखण्ड, लोक सेवा आयोग, हरिद्वार तथा सचिव, हरिद्वार विकास प्राधिकरण बंशीधर तिवारी को सचिव, उत्तराखण्ड, लोक सेवा आयोग, हरिद्वार के पदभार से अवमुक्त किया गया है। अपर आयुक्त, नैनीताल संजय कुमार को वर्तमान पदभार के साथ-साथ निदेशक, दुग्ध विकास एवं महिला डेयरी, नैनीताल के पद पर तैनात किया गया है। अधिशासी निदेशक, चीनी मिल, किच्छा, उधमसिंहनगर तथा मुख्य नगर अधिकारी, रूद्रपुर सुश्री दीप्ति सिंह को मुख्य नगर अधिकारी, रूद्रपुर के पदभार से अवमुक्त किया गया है। मुख्य नगर अधिकारी, नगर निगम, हरिद्वार तथा मुख्य नगर अधिकारी, नगर निगम, रुडक़ी अशोक पांडेय को मुख्य नगर अधिकारी, नगर निगम, हरिद्वार के पदभार से अवमुक्त किया गया है। सिटी मजिस्ट्रेट, हरिद्वार जय भारत सिंह को सिटी मजिस्ट्रेट, हरिद्वार के पद से अवमुक्त करते हुए मुख्य नगर अधिकारी रूद्रपुर के पद पर तैनात किया गया है।

सीनियर आईएएस उमाकांत पंवार ने लिया वीआरएस
देहरादून। प्रमुख सचिव गृह और सीनियर आईएएस अधिकारी उमाकांत पंवार ने सर्विस से इस्तीफा दे दिया है। बताया जा रहा है कि उन्होंने निजी कारणों की वजह से वीआरएस लिया है। इस बीच, आईएएस उमाकांत पंवार को उत्तराखंडी नीति आयोग का अध्यक्ष बनाए जाने संभावना जताई जा रही है। गुरुवार को उनके इस्तीफे के साथ ही राजधानी में सत्ता के गलियारों में इसे लेकर चर्चाओं का बाजार गर्म रहा। उल्लेखनीय है कि 1991 बैच के आईएएस अधिकारी डा. उमाकांत पंवार प्रमुख सचिव, केंद्रीय पोषित योजनाएं, कार्यक्रम क्रियान्वयन, जलागम खेल एंव परिवहन आयुक्त परिवहन तथा मुख्य परियोजना निदेशक,जलागम के विभाग थे। बताया जा रहा है कि अभी उनका नौ वर्ष का सेवाकाल बाकी था। बता दें कि वरिष्ठ आईएएस डॉ. उमाकांत पंवार पहले ऊर्जा के तीनों निगमों के अध्यक्ष बनाए जा चुके हैं, इसके अलावा वह उत्तराखंड जल विद्युत निगम का अध्यक्ष बनाया गया था। उमाकांत पंवार सचिव ऊर्जा भी रहे हैं और इससे पहले पारेषण निगम और ऊर्जा निगम दोनों के अध्यक्ष भी थे।

About madan lakhera

Check Also

हड़ताल पर रहे कर्मचारी, बैंकों में लटके ताले

केंद्र की नीतियों के खिलाफ किया जोरदार प्रदर्शन पांच सौ करोड़ का लेन-देन प्रभावित देहरादून। …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *