Home / Breaking News / हल्द्वानी : ज्योति बजेली बनी मिसेस इंडिया ग्लोबल थर्ड रनर अप

हल्द्वानी : ज्योति बजेली बनी मिसेस इंडिया ग्लोबल थर्ड रनर अप

हल्द्वानी। कहते हैं प्रतिभा किसी की मोहताज नहीं होती, कुछ ऐसा ही कर दिखाया मूल रूप से रानीखेत के टाना पिलखोली निवासी 30 वर्षीय ज्योति बजेली ने। विदेश में अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया है। ज्योति ने दुबई में आयोजित मिसेज इंडिया ग्लोबल 2019 कांटेस्ट में थर्ड रनरअप का खिताब जीता है। 18 साल की उम्र में माता-पिता ने उसका विवाह 2007 में सुंदर सिंह से कर दिया था। सुंदर आर्मी के 5 गाड्र्स रेजिमेंट में तैनात थे। ज्योति पति व एक बेटे के साथ अपनी दुनिया में खुश थीं कि अचानक उन पर दु:ख का पहाड़ टूट गया। पंजाब के गुरदासपुर में सुंदर सिंह शहीद हो गए। फिर क्या था ज्योति की खुशियां मातम में बदल गयीं। धीरे-धीरे ज्योति ने अपने आपको संभालना शुरू किया। लेकिन समाज के रूढि़वादी लोगों ने ज्योति को आगे बढऩे से रोकने के कई प्रयत्न किये। फिर भी ज्योति ने समाज की परवाह किये बिना मुंबई से मेकप ऑर्टिस्ट का कोर्स किया। वर्तमान में ज्योति हल्द्वानी स्थित उत्तराखंड ओपन यूनिवर्सिटी से एमबीए कर रही हैं। 26 मई को मिसेस इंडिया ग्लोबल 2019 के उत्तराखंड ऑडिशन हल्द्वानी में टॉप-5 में सलेक्ट होने के बाद दुबई में आयोजित 22 जून को ग्रांड फिनाले मिसेज इंडिया ग्लोबल 2019 कांटेस्ट में उन्होंने कई देशों से आई प्रतिभागियों को धूल चटाते हुए तीसरा स्थान प्राप्त किया है। उन्होंने बताया कि दुबई में उनका ऑडिशन एक मूवी के लिए हुआ था। जिसमें उन्हें कामयाबी भी मिली है। कुछ दिन बाद वह मुंबई के लिए रवाना होने जा रही हैं। 15 दिनों की ट्रेनिग के बाद 25 जुलाई से वह यशराज फिल्म के बैनर तले एक मूवी के लिए काम करेंगी। रेडविंग प्रोडक्शन हाउस की उत्तराखंड स्टेट डायरेक्टर हिमांशी बिष्ट वर्मा ने ज्योति को इस मुकाम में पहुंचने की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि उत्तराखंड में प्रतिभाओं की कमी नहीं है, कमी हैं बस प्लेटफॉर्म की। जहां पर प्रतिभाओं को तराशने का काम किया जाता है। उन्होंने बताया कि आगे भी वह इस तरह के आयोजन करती रहेंगी। स्वागत समारोह में उत्तरांचलदीप के महाप्रबंधक इवेंट नागेश दुबे, हिमांशी बिष्ट वर्मा, पूजा भट्ट सुयाल, भावेश पांडेय, उत्कृष्ट स्टूडियो के दीपक थापा, विकास, क्रेजी किचन के निदेशक नागेंद्र ढेला और किशोर बिष्ट उपस्थित थे।

About saket aggarwal

Check Also

हल्द्वानी: पुलिस कर्मियों के सामने ‘बेघर’  होने का संकट

कोतवाली में बैरक खाली करने के फरमान से मची खलबली सलीम खान हल्द्वानी। जहां एक …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *