Breaking News
Home / Breaking News / कलियर: बकाया रकम देने में ठेकेदार कर रहे आनकानी

कलियर: बकाया रकम देने में ठेकेदार कर रहे आनकानी

कलियर। दरगाह पिरान कलियर साबिर-ए-पाक क्षेत्र के विभिन्न तरीके के वार्षिक ठेके प्रतिवर्ष मार्च महीने में छोड़े जाते हैं। ठेकेदारो द्वारा दरगाह की शर्तों पर ठेके आवंटित किए जाते हैं। दरगाह की शर्तों के आधार पर पचास प्रतिशत धनराशि ठेका छुड़ाने के साथ ही जमा करनी होती हैं और बाकी की रकम की जिला प्रशासन के द्वारा ठेकेदारो से तीन-तीन महीने के लिए दो चेक लिए जाते हैं। यदि ठेकेदारो द्वारा समय पर ठेके की रकम जमा नहीं की जाती तो दरगाह प्रशासन ठेकेदारों के द्वारा दिये गए जमानती चेक को बैंक खाते में लगाकर धनराशि वसूल करने का हक रखता है। तीन माह पूर्व से ही करोड़ों की वार्षिक धनराशि इस साल के ठेकेदारों पर दरगाह की बकाया चल रही है लेकिन ठेकेदार अपनी पूर्व की नीति के तहत तरह-तरह के हथकंडे अपनाकर बकाया राशि देने का नाम नहीं ले रहे हैं। जबकि दरगाह प्रशासन ने पूर्व में दो नोटिस देकर दरगाह का करोड़ों रुपये तुरन्त दरगाह कार्यालय में जमा कराने के आदेश दे दिए थे, इसके बावजूद ठेकेदारों द्वारा बकाया धनराशि जमा नहीं करायी गयी। अब दरगाह प्रबंधक ने ठेकेदारों को एक सप्ताह का समय देते हुए तीसरा नोटिस भी दे दिया है। नोटिस के माध्यम से ठेकेदारों को अवगत कराया गया है कि यदि किसी भी ठेके की पूर्ण धनराशि दस जनवरी तक कार्यालय में जमा नही कराई गई तो ठेका निरस्त कर दरगाह अपने कब्जे में लेने का अधिकार रखती है। अब देखने वाली बात यह है कि बार-बार नोटिस मिलने के बावजूद ठेकेदार बकाया धनराशि जमा करते है या नहीं। यहां यह भी बताना जरूरी है कि कुछ ठेकेदारों व उनके परिवार वालों पर पूर्व का करोड़ों रुपये बकाया चला आ रहा है। जिसको वसूलना भी जिला प्रशासन के लिए टेढ़ी खीर बना हुआ है।

About saket aggarwal

Check Also

हल्द्वानी:व्यापार मंडल का पर्यावरण संरक्षण अभियान अक्टूबर से

हल्द्वानी। प्रान्तीय उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल उत्तराखंड द्वारा पर्यावरण संरक्षण एवं हिमालय संवर्धन हेतु हिमालय …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *