Breaking News
Home / Breaking News / पांच सौ मीटर की दूरी से हो सकेंगे भोलेनाथ के दीदार

पांच सौ मीटर की दूरी से हो सकेंगे भोलेनाथ के दीदार

पीएम मोदी का सपना हो रहा है साकार
इस बार केदार बाबा के दर्शन में नहीं होगी परेशानी
 
रुद्रप्रयाग। पीएम मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट की बदौलत इस बार बाबा भोलेनाथ की नगरी नये कलेवर में नजर आयेगी। पांच सौ मीटर की दूरी से ही यात्रियों को केदारनाथ के दर्शन हो सकेंगे। मंदिर से लेकर सरस्वती नदी पर बने पुल तक पैदल मार्ग को 50 फीट तक चौड़ा किया गया है।
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट के तहत केदारपुरी को और सुंदर बनाया जा रहा है। पिछले वर्ष केदारनाथ कपाट खुलने के मौके पर पीएम मोदी केदारपुरी पहुंचे थे और कपाट बंद होने के एक दिन पहले भी उन्होंने केदारपुरी का दौरा किया था। इसके बाद से मोदी लगातार केदारनाथ में हो रहे रि-डेवलपमेंट कार्य पर नजर बनाए हुए हैं।
बता दें कि 2013 की भीषण आपदा से तहस-नहस हुई यात्रा अब फिर से पटरी पर लौट आई है। इन दिनों केदारनाथ में सौंदर्यीकरण कार्य चल रहा है और यात्रा को लेकर व्यवस्थाएं जुटाई जा रही हैं।
इसी क्रम में केदारनाथ मंदिर से आधा किमी दूर पैदल मार्ग को 50 फीट चौड़ा किया गया है। स्थानीय शैली से तैयार किये गये पठालों को इस पैदल रास्ते पर लगाया जा रहा है। इन पठालों पर चलने में तीर्थयात्रियों को कोई दिक्कत नहीं होगी। इन्हें सोनप्रयाग में निम के मजदूरों द्वारा तैयार किया जा रहा है।
केदारनाथ धाम में हो रहे इस पुर्ननिर्माण कार्य के लिए पैदल मार्ग के दायरे में आने वाले सभी भवनों और दुकानों को तोड़ा गया। अब इस नए मार्ग से तीर्थयात्री आधा किमी दूर से ही बाबा का मंदिर साफ-साफ देख सकेंगे। इसके अलावा मंदिर के आगे एवं पीछे के परिसर को भी चौड़ा किया गया है। चौड़ाई बढऩे से मंदिर का स्वरूप और भी भव्य नजर आ रहा है।
अक्सर देखा जाता है कि यात्री लंबी पैदल यात्रा करने के बाद थक जाते हैं। ऐसे में अगर यात्रियों को दूर से ही मंदिर दिखेगा तो उनकी थकान दूर हो जायेगी।

About saket aggarwal

Check Also

पुंछ जाकर शहीद औरंगजेब के परिवार से मिले सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत

नई दिल्ली (एजेंसी)। जम्मू-कश्मीर में सीजफायर खत्म होने से एक दिन पहले ही आतंकियों ने …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *