Breaking News
Home / Uttatakhand Districts / Chamoli / केदारनाथ में लेजर शो आस्था पर प्रहार: हरीश रावत

केदारनाथ में लेजर शो आस्था पर प्रहार: हरीश रावत

जीवंत रूपी शिव को प्रतीकात्मक रूप में दिखाना चाहती है भाजपा

सीएम कोठियाल/डोईवाला। देश और दुनिया में लाखों श्रद्धालुओं के आस्था के केंद्र केदारनाथ मंदिर की दीवार पर लेजर शो दिखाने का कांग्रेस ने कड़ा विरोध किया है।

पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा कि केदारनाथ करोड़ों लोगों की आस्था का केंद्र हैं। लेकिन राज्य सरकार आस्था के केंद्र को पर्यटक स्थली मानकर मंदिर की दिवारों पर लेजर शो दिखाना चाहती है। जो करोड़ों श्रद्धालुओं की आस्था पर कुठाराघात है। मंदिर की दीवारों पर लेजर शो दिखाने से इस प्रचीन मंदिर पर भी असर पड़ सकता है। लेजर शो के लिए प्राचीन मंदिर की दीवारों का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। जहां भगवान शिव खुद जीवंत रूप में विद्यामान हैं। वहां लेजर शो करवाकर भाजपा आखिर क्या साबित करना चाहती है। भाजपा करोड़ों श्रद्धालुओं की भावनाओं के साथ खिलवाड़ कर रही है।

हरीश रावत ने एयरपोर्ट पर कहा कि सरकार लेजर शो के माध्यम से भगवान शिव को त्रिनेत्रधारी शिव और ताडंव के रूप में दिखाना चाहती है। जबकि केदारनाथ में भगवान शिव कल्याणकारी शिव के रूप में विद्यामान हैं। डबल इंजन सरकार शिव के घर में ही शिव का अवमूल्यन करने पर तुली हुई है। पूर्व सीएम ने कहा कि कांग्रेस ने केदारनाथ में जो कार्य करवाए हैं। उनसे भाजपा घबराई और डरी हुई है। उन कार्यो का श्र्रेय कांग्रेस को न मिले इसलिए राज्य सरकार केदारनाथ में सारे उल्टे कार्य करवा रही है। लेकिन भाजपा को अपयश से बचना चाहिए। और प्रधानमंत्री को हस्तक्षेप करके केदारनाथ में लेजर शो को बंद करवाना चाहिए।

 

About madan lakhera

Check Also

हल्द्वानी:आयुक्त कल करेंगे जन प्रतिनिधियों व अधिकारियों के साथ बैठक

हल्द्वानी। राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा कुमायंू आयुक्त राजीव रौतेला को विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण हेतु निर्वाचक …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *