Home / Breaking News / हल्द्वानी: शराबी ने खुद का गला रेता, मौत

हल्द्वानी: शराबी ने खुद का गला रेता, मौत

हल्द्वानी। शराब की लत के चलते एक युवक को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा। मरने से पहले उसने अपनी पत्नी व सास पर भी चाकू से हमला किया। जिन्हें आस-पास के लोगों के हस्तक्षेप के चलते बचा लिया गया। पुलिस ने शव का पंचनामा भर उसे पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।
जानकारी के अनुसार मूलरूप से दन्या निवासी 36 वर्षीय प्रेम सिंह गैड़ा पुत्र भूप सिंह गैड़ा यहां दमुवाढूंगा में रहता था और दमुवाढूंगा चौराहे पर चाउमीन का ठेला लगाता था। बताया जाता है कि उसे शराब की लत थी और वह अक्सर नशे में रहता था। शराब के नशे में रहने के कारण उसके परिवार में भी कलह होती रहती थी। जिसके चलते उसकी पत्नी कमला अपनी 8 वर्षीय पुत्री के साथ करीब एक माह से घर से कुछ ही दूरी पर स्थित अपने मायके में रह रही थी। बताया जा रहा है कि मंगलवार की प्रात: प्रेम सिंह शराब के नशे में धुत होकर अपनी ससुराल पहुंचा और अपनी पत्नी पर वापस घर चलने का दबाव बनाने लगा। पत्नी ने जब उसके शराब के नशे में होने के कारण साथ न चलने की बात कही तो वह तैश में आ गया और हाथापाई पर उतारू हो गया। स्थानीय लोगों की मानें तो प्रेम सिंह जबरन कमला को घर ले जाने लगा और काफी दूर तक कमला के बाल पकड़ कर घसीटता हुआ भी ले गया। इसके बाद प्रेम सिंह ने अचानक चाकू निकाल लिया और कमला पर हमला करने लगा। इस पर आस-पास के लोगों ने कमला को उसके हमले से बचा लिया। इसके बाद तैश में आये प्रेम सिंह अपनी पत्नी की 80 वर्षीय दादी कुंती देवी पर चाकू से हमला करने दौड़ पड़ा। इस पर लोगों ने उसके हाथ से चाकू छीनकर फेंक दिया। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार इसके बाद प्रेम सिंह वहां से वापस जाने लगा। अभी वह कुछ ही दूरी पर पहुंचा ही था कि तभी उसने अपनी जेब से एक अन्य चाकू निकाला और खुद का गला रेत लिया। जिससे वह लहूलुहान होकर जमीन पर गिर पड़ा। इस घटना से वहां मौजूद लोगों में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में प्रेम सिंह को उपचार के लिए डा. सुशीला तिवारी राजकीय चिकित्सालय ले जाया गया। जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। इस घटना की सूचना पुलिस को दी गई। मौके पर पहुंची काठगोदाम थाना पुलिस ने शव को कब्जे में लिया और जानकारी जुटाई। पुलिस ने शव का पंचनामा भर उसे पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।


कमला के पिता बहादुर सिंह सब्जी का ठेला लगाते हैं। उन्होंने बताया कि घटना के समय वह मंडी सब्जी लेने गये हुए थे। उन्होंने बताया कि करीब 15 दिन पूर्व प्रेम सिंह काठगोदाम थाने में कमला की शिकायत करने पहुंचा था। जहां उसने कमला पर बदचलनी का आरोप लगाया था। उसने कहा था कि कमला बदचलनी के चलते उसके घर में नहीं रूकती है और मायके में रहती है। बाद में उसी दिन जब कमला अपने घर चली गई तो प्रेम सिंह ने उसके साथ मारपीट की और रात में वह ससुराल पहुंच गया और कहा कि उनकी पुत्री घर से गायब हो गई है। जब वह वहां गये तो देखा कि कमला सो रही थी।


काठगोदाम थानाध्यक्ष नंदन सिंह रावत का कहना है कि पूरे मामले की गहनता से छानबीन की जा रही है। अभी तक इस मामले में कोई तहरीर नहीं आई है। साथ ही मृतक के परिवारजनों के यहां पहुंचने का इंतजार किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि घटना की वास्तविकता जानने के लिए आस-पास लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाली जा रही है।


इस घटना के समय मृतक की 8 वर्षीय पुत्री काफी सहम गई। पिता द्वारा मां के साथ की जा रही मारपीट के दौरान वह घर के अंदर जाकर छिप गई।

About saket aggarwal

Check Also

नागरिक संशोधन बिल के विरोध में भाकपा(माले) का प्रदर्शन

हल्द्वानी। मानवाधिकार दिवस के अवसर पर भाकपा(माले) द्वारा घोषित राष्ट्रीय प्रतिवाद दिवस पर बुद्धपार्क में …