Home / Breaking News / किच्छा: नालियों में बह रहा पेयजल, सुधलेवा कोई नहीं

किच्छा: नालियों में बह रहा पेयजल, सुधलेवा कोई नहीं

राजू सहगल
किच्छा।
जल संस्थान की लापरवाही के चलते नगर के तमाम स्थानों पर टूटी पाइप लाइन के चलते प्रतिदिन हजारों लीटर पानी बर्बाद हो रहा है । बावजूद इसके जल संस्थान द्वारा कोई कार्रावाई न किए जाने से जनता में भारी रोष व्याप्त है। जहां एक ओर प्रतिदिन हजारों लीटर पानी टूटी पाइप लाइन के कारण बर्बाद हो रहा है वहीं दूसरी ओर क्षेत्र की जनता गंदा पानी पीने को विवश हो रही है। क्षेत्र में बढ़ते डेंगू के प्रकोप के बावजूद भी जल संस्थान की कुंभकरण की नींद खुलने का नाम नहीं ले रही है । नगर के विभिन्न स्थानों पर पानी की पाइप लाइन क्षतिग्रस्त होने से सैकड़ों लीटर पीने का पानी नालियों में बह रहा है क्षतिग्रस्त पाइप लाइन के कारण लोगों को पीने का पानी भी नही मिल पा रहा है। लगभग एक माह से लगातार हो रही शिकायतों के बाद भी जल विभाग किसी भी प्रकार की सुध लेने को तैयार नही है। सरकार एवं संस्थाओं द्वारा पीने के पानी को बचाने को लेकर बड़े स्तर पर अभियान चला कर जनता को जागरूक करने का काम किया जा रहा है बावजूद इसके जल विभाग द्वारा इन अभियानों की धज्जियां उड़ाने का काम किया जा रहा है । नगर के बरेली रोड पर रवि पेंट स्टोर के सामने , सुनहरी वार्ड , वार्ड न0 16 , विकास कॉलौनी एवं टीचर्स कॉलौनी मे पीने के पानी की पाईप लाईन करीब पिछले एक माह से टूटी हुई है जिससे रोजाना सैकड़ों लीटर पानी नष्ट हो रहा है । स्थानीय लोगों द्वारा क्षतिग्रस्त पाइप लाइन की शिकायत विभाग को कई बार दी गयी है जिसके बाद भी जल विभाग द्वारा इन टूटी पाईप लाईन को सही नही किया गया है जिस कारण वार्ड वासियों को साफ पानी भी नही मिल पा रहा है ।

टूटी पाइप लाइन तथा बर्बाद होते पानी के बारे में जब जल संस्थान के अधिकारियों से जानकारी ली गई तो उन्होंने अपना पल्ला झाड़ते हुए छोटे कर्मचारी के सिर पर ही ठीकरा फोड़ दिया । उनका कहना है कि जल विभाग के फिटर (लाईन मैन) राजकुमार को पिछले एक माह से पाईप लाईन टूटे होने की जानकारी दी जा रही है लेकिन हर बार वह शहर से बाहर होने का बहाना बनाकर बात को टाल देते हैं । अब सवाल यह उठता है कि ऐसी स्थिति में दोषी कौन ?


नगर के तमाम स्थानों पर सडकों के बीचों बीच टूटी पाईप लाईन के कारण सड़क के बीच में बड़े-बड़े गड्ढे हो गए हैं जिस कारण वाहन चालकों को गड्ढे की गहराई का सही अनुमान ना होने के चलते आए दिन मौके पर वाहन चालक चोटिल हो रहे हैं । देश के तमाम हिस्सों में छोटे-छोटे बच्चों के गड्ढे में गिरकर हुई घटनाओं पर भी किच्छा का जल संस्थान कोई सबक लेता नजर नहीं आ रहा है और जनता के स्वास्थ्य व उनके जीवन के साथ जल संस्थान के अधिकारी व कर्मचारी खिलवाड़ करते नजर आ रहे हैं।

कांग्रेस के नगर अध्यक्ष व पूर्व सभासद अरुण तनेजा ने जल संस्थान के अधिकारियों से नगर के तमाम स्थानों पर टूटी हुई क्षतिग्रस्त पाइप लाइनों को जल्द दुरुस्त किए जाने की मांग करते हुए कहा कि दूषित जल के कारण डेंगू का प्रकोप किच्छा में तेजी से बढ़ रहा है अब तक क्षेत्र में करीब 1 दर्जन से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है । उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा जल को बचाने के लिए बड़े-बड़े अभियान चलाकर लाखों रुपए खर्च कर जनता को जागरूक किया जा रहा है । उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि अगर जल्द ही पाइपलाइन को दुरुस्त न किया गया तो कांग्रेसी उग्र आंदोलन से भी पीछे नहीं हटेंगे । उन्होंने कहा कि पीने के पानी की बर्बादी किसी सूरत में बर्दाश्त नहीं की जाएगी ।

About saket aggarwal

Check Also

नैनीताल: गुरुनानक जंयती पर कीर्तन व लंगर का आयोजन

मृत रागी बलविंदर ने श्रद्धालुओं को किया मंत्र मुग्ध उत्तरांचल दीप ब्यूरो, नैनीताल। मंगलवार को …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *