Breaking News
Home / Breaking News / किच्छा: जमीनी विवाद में दो पक्षों में भिड़ंत, प्रशासनिक टीम के सामने ही मारपीट शुरू

किच्छा: जमीनी विवाद में दो पक्षों में भिड़ंत, प्रशासनिक टीम के सामने ही मारपीट शुरू

किच्छा। नगर के आजादनगर क्षेत्र में दो पक्षों के बीच चल रहे जमीनी विवाद के चलते विवादित जमीन की नपत करने आयी प्रशासन की टीम के सामने ही दोनों पक्षों के बीच जमकर मारपीट हो गयी। अचानक मारपीट शुरू होने से मौके पर हड़कम्प मच गया। इस दौरान व्यापार मंडल कोषाध्यक्ष व भाजयुमो के नगर अध्यक्ष सहित दोनों पक्षों के कई लोग मारपीट में चोटिल हो गये। घटना की सूचना पर एसएसआई खुशवंत सिंह पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। पुलिस के पहुंचने से पूर्व ही एक पक्ष के लोग मौके से चले गये। दोनों पक्षों ने कोतवाली पुलिस को एक-दूसरे के खिलाफ तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की है। फिलहाल पुलिस ने तहरीर के आधार पर मामले की जांच शुरू कर दी है। दोनों पक्षों के बीच चल रहे जमीनी विवाद से तनाव की स्थिति बनी हुई है तथा भविष्य में भी टकराव की स्थिति से इंकार नहीं किया जा सकता। जानकारी के अनुसार निकटवर्ती ग्राम आजादनगर स्थित सुन्दर बारातघर सहित अन्य कृषि भूमि पर कब्जे को लेकर दो पक्षों के बीच लम्बे समय से विवाद चल रहा है और मामला न्यायालय में विचाराधीन है। पीडि़त महिला रुद्रपुर निवासी संतोष रानी पत्नी स्व. जगदीश छाबड़ा ने बारात घर पर काबिज ग्राम आजादनगर निवासी सुन्दर लाल पुत्र ज्ञानचंद व उनके पुत्रों गगन भुसरी व सन्नी भुसरी पर दस्तावेजों में छेड़छाड़ कर कर्मचारियों से मिलीभगत करते हुये उनकी पुश्तैनी जमीन पर अवैध रूप से कब्जा करने तथा जमीन को खुर्द-बुर्द किये जाने का आरोप लगाते हुये प्रशासन से कार्रवाई की मांग की थी। इसी जमीन को लेकर पीडि़त महिला द्वारा उच्च न्यायालय में भी मुकदमा दर्ज कराया गया है जो कि न्यायालय में विचाराधीन है। महिला संतोष रानी का आरोप है कि उच्च न्यायालय ने निर्माणाधीन बारातघर में निर्माण सहित अन्य कृषि भूमि की खरीद फरोख्त पर रोक लगाने के बाद भी आरोपी सुन्दर लाल द्वारा निर्माण कार्य किया जा रहा है और अवैध रूप से कृषि भूमि को भी खुर्द-बुर्द कर जमीन को बेचा जा रहा है। इसी विवाद के चलते तहसील प्रशासन के पटवारी मो. यासीन, कानूनगो सतीश चंद, सर्वे अमीन बोहरन सिंह की टीम विवादित भूमि की नपत के लिये मौके पर पहुंची। इस दौरान टीम ने सरकारी नक्शे व कागजातों के आधार पर मौके का निरीक्षण प्रारम्भ कर दिया। मौके पर पहुंची टीम के सामने ही दोनों पक्षों द्वारा आरोप-प्रत्यारोप लगाये जाने के बाद मामला तूल पकड़ गया और गाली गलौंज शुरू हो गयी। आरोप है कि इसी बीच दूसरे पक्ष के सुन्दर लाल व उनके एक दर्जन साथियों ने मौके पर मौजूद उद्योग व्यापार मंडल कोषाध्यक्ष राजकुमार बजाज व भारतीय जनता युवा मोर्चा के नगर अध्यक्ष मनीष बजाज पर हमला बोल दिया। जिसके बाद मौके पर दोनों पक्षों के बीच जमकर मारपीट शुरू हो गयी। व्यापारी नेता राजकुमार बजाज द्वारा दूरभाष पर सूचना दिये जाने पर एसएसआई खुशवंत सिंह, एसआई मनोज कोठारी पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंचे और घटना की जानकारी ली। घटना में व्यापारी नेता राजकुमार बजाज, भाजयुमो नेता मनीष बजाज सहित करीब आधा दर्जन लोग चोटिल हो गये। पुलिस के मौके पर पहुंचने से पूर्व ही एक पक्ष कोतवाली पहुंच गया। कोतवाली में दोनों पक्ष पुन: आमने-सामने हो गये जिसके बाद पुलिस ने कड़ी फटकार लगाते हुये दोनों पक्षों को शांत कराया। कोतवाली में दोनों पक्षों ने एक-दूसरे के खिलाफ तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की। फिलहाल पुलिस ने तहरीर के आधार पर कार्यवाही शुरू कर दी है।

About saket aggarwal

Check Also

हल्द्वानी:व्यापार मंडल का पर्यावरण संरक्षण अभियान अक्टूबर से

हल्द्वानी। प्रान्तीय उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल उत्तराखंड द्वारा पर्यावरण संरक्षण एवं हिमालय संवर्धन हेतु हिमालय …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *