Breaking News
Home / Uttatakhand Districts / Dehradun / आरोपियों के बैंक खाते पुलिस ने कराए सीज

आरोपियों के बैंक खाते पुलिस ने कराए सीज

दून का किडनी कांड
नौ संदिज्ध बैंक खातों में जमा है 74 लाख की राशि
गंगोत्री अस्पताल से बरामद हुई दवाएं
देहरादून। राजधानी देहरादून के लालतप्पड़ क्षेत्र में सामने आए किडनी कांड के फरार आरोपियों के बैंक खाते सीज कर दिए गए हैं। इन खातों में लाखों रुपए की रकम जमा है। साथ ही, संबंधित गंगोत्री चैरिटेबल अस्पताल की छानबीन में किडनी निकालने के बाद दी जाने वाली दवाएं बरामद हुई हैं। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक निवेदिता कुकरेती कुमार ने को बताया कि बीती 11 सितम्बर को डोईवाला थाना क्षेत्र के उत्तरांचल डेंटल कॉलेज, लाल तप्पड़ परिसर में स्थित गंगोत्री चैरिटेबल हॉस्पिटल में किडनी की अवैध खरीद-फरोख्त के कारोबार का भंडाफोड़ हुआ था। इस मामले में एक एजेंट पुलिस की गिरफ्त में आया है, जबकि इस गोरखधंधे का मुख्य सरगना डा अमित राउत, अस्पताल संचालक सहित अन्य करीब सात लोग अभी फरार चल रहे हैं। फरार आरोपियों में चार लोग ओमान के भी हैं। इन सभी की गिरफ्तारी के लिए लुक आउट नोटिस जारी किया गया है।
उन्होंने बताया कि अस्पताल में की गई छानबीन के आधार पर अलग-अलग बैंकों के नौ संदिज्ध बैंक खातों के संबंध में जानकारी प्राप्त हुई है। इन खातों में लगभग 74,50,000/-रुपए की धनराशि जमा है। पुलिस ने उक्त खातों को सीज करा दिया है। अभिलेखों के आधार पर उक्त बैंक खातों की प्रमाणिकता की जांच की जा रही है। उन्होंने बताया कि मामले में मुख्य चिकित्सा अधिकारी देहरादून ने चिकित्सकों का तीन सदस्यीय दल नियुक्त किया गया था, जिनके द्वारा गंगोत्री चैरिटेबल हॉस्पिटल में जांच के दौरान गुर्दा प्रत्यारोपण के उपरांत उपयोग में आने वाली 4 औषधियों को बरामद किया गया है।
उन्होंने बताया कि पूछताछ के आधार पर आरोपी डॉक्टरों का लाल तप्पड़ स्थित नेचर विला रिसोर्ट में रुकना प्रकाश में आया है। रिसोर्ट के एंट्री रजिस्टर को पुलिस ने कब्जे में लेकर उक्त कमरों की तलाशी के लिए सर्च वारंट प्राप्त किया गया। साथ ही पीडि़त व्यक्तियों के मंगलवार को मजिस्ट्रेट के समक्ष 164 के बयान अंकित कराये गये। साथ ही फरार आरोपियों के करीबी रिश्तेदारों से पुलिस द्वारा उनके संबंध में जानकारी प्राप्त की जा रही है। उनकी गिरफ्तारी के लिए पांच अलग-अलग टीमें बनाकर उत्तराखंड से बाहर अन्य राज्यों में भेजी गई है।

About madan lakhera

Check Also

पीएमओ के आश्वासन पर मेडिकल विद्यार्थियों का धरना-प्रदर्शन समाप्त

मेडिकल विद्यार्थियों का 31 दिनों से चल रहा धर-प्रदर्शन समाप्त डोईवाला/ब्यूरो। पीएमओ द्वारा जारी पत्र …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *