Breaking News
Home / Uttatakhand Districts / Dehradun / अब दून के मैक्स अस्पताल में भी किडनी ट्रांसप्लांट उपलब्ध

अब दून के मैक्स अस्पताल में भी किडनी ट्रांसप्लांट उपलब्ध

अनुभवी चिकित्सकों की टीम करेगी ट्रांसप्लांट
देहरादून। मैक्स सुपर स्पेशलटी अस्पताल देहरादून अब से किडनी ट्रांसप्लान्ट (गुर्दा प्रत्यारोपण) की सुविधा भी उपलब्ध कराएगा। किडनी ट्रांसप्लन्ट प्रोग्राम का संचालन ट्रांसप्लांट में अनुभवी चिकित्सक यूरोलोजिस्ट (ट्रांसप्लान्ट संर्जन्स) की टीम करेगी। इस टीम में डॉ वाहीद जमन, सीनियर कन्लटेन्ट यूरोलोजी एवं रीनल ट्रांसप्लान्टेशन डॉ (कर्नल) दारेश डोड्डामनी, सीनियर कन्सलटेन्ट एवं एचओडी यूरोलोजीए डॉ दीपक गर्ग कन्सलटेन्ट यूरोलोजी (ट्रांसप्लान्ट फिजिशियन) डॉ पुनीत अरोड़ा, कन्सलटेन्ट एवं एचओडी नेफ्रोलॉजी शामिल हैं।
बुधवार को सुभाष रोड स्थित एक होटल में आयोजित पत्रकार वार्ता में नेफ्रेोलोजिस्ट डॉ पुनीत अरोड़ा ने बताया कि तकरीबन 10 फीसदी आबादी क्रोनिक किडनी रोगों से पीडि़त हैं, जिसके कई कारण हो सकते हैं जैसे डायबिटीज (मधुमेह), हाइपरटेंशन (उच्च रक्तचाप), पथरी और कुछ आनुवांशिक बीमारियां आदि। बीमारी लगातार बढ़ती जाती है, जिसके चलते मरीज एंड स्टेज रीनल डीजीज (अंतिम अवस्था के गुर्दा रोग) की स्थिति तक पहुंच जाता है। जिसके बाद मरीज को जीवित रहने और गुणवत्तापूर्ण जिंदगी जीने के लिए आरआरटी (रीनल रीप्लेसमेन्ट थेरेपी) की जरूरत होती है। आरआरटी में रीनल ट्रांसप्लान्ट (सबसे अच्छा विकल्प), हीमोडायलिसिस और पेरिटोनियल डायलिसिस (सीएपीडी) शामिल हैं। डॉ वाहीद जमान और डॉ दरेश डोड्डामनी ने कहा कि सीकेडी (क्रोनिक गुर्दा रोग) आज महामारी का रूप ले चुका है। अस्वास्थ्यप्रद जीवनशैली के चलते इन मरीजों की संख्या दिन-बदिन बढ़ रही है। उन्होंने कहा कि मैक्स अस्पताल में कामयाब ट्रांसप्लान्ट सर्जरियां अब नियमित रूप से की जा रही हैं।
अंगदान के बारे में बात करते हुए डॉ दीपक गर्ग ने कहाए ष्ष्जब भी किसी व्यक्ति को गुर्दा दान में देने के लिए कहा जाता हैए व्यक्ति अपने स्वास्थ्य को लेकर उलझन में पड़ जाता है। हमें समझना होगा कि एक किडनी (गुर्दा) दान में देने से व्यक्ति की शारीरिक क्षमताए जीवन की गुणवत्ता या उम्र पर कोई असर नहीं पड़ता। आजकल डोनर की नेफ्रेक्टोमी लैप्रोस्कोपी से की जाती हैए जिससे डोनर जल्दी ठीक होकर काम पर लौट सकता है। आमतौर पर डोनर को ऑपरेशन के 3 दिनों के अंदर छुट्टी मिल जाती है। इस मौके पर डॉ संदीप सिंह तंवर, वाइस प्रेजीडेन्ट ऑपरेशन्स एंड युनिट हैड मैक्स अस्पतालए देहरादून ने कहाए देश का अग्रणी स्वास्थ्यसेवा प्रदाता होने के नाते मैक्स अस्पताल हमेशा से मरीजों को सर्वश्रेष्ठ सेवाएं उपलब्ध कराने के लिए प्रयासरत रहा है। यह प्रोग्राम किडनी रोगों के मरीजों को डायलिसिस के साथ-साथ अब हर तरह के इलाज मुहैया कराएगा।

About madan lakhera

Check Also

हल्द्वानी:नेत्र शिविर 27 अक्टूबर से

हल्द्वानी। ज्वाला दत्त बेलवाल स्मृजि नेत्र रोग शिविर का इस वर्ष भी आयोजन किया जा …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *