Home / Breaking News / हल्द्वानी के एमबीपीजी कालेज में एबीवीपी जीत की ओर

हल्द्वानी के एमबीपीजी कालेज में एबीवीपी जीत की ओर

हल्द्वानी। कुमाऊं के सबसे बड़े महाविद्यालय में तीन साल बाद एबीवीपी प्रत्याशी को अध्यक्ष पद पर जीत के करीब पहुंचते दिख रहे हैं। कांग्रेस की प्रत्याशी दस चरणों की मतगणना के बाद 324 वोट से आगे चल रहे हैं। हालांकि कॉलेज में इस बार बहुत ही कम मतदान हुआ।
एमबी महाविद्यालय छात्र संघ चुनाव के लिए मंगलवार मतदान हुआ। प्रात: 9 बजे से मतदान शुरू हुआ और विद्यार्थियों ने अपने मत का प्रयोग किया। अधिकांश पदों पर निर्विरोध निर्वाचन का असर आज मतदान पर भी दिखाई दिया। 12293 मतदाताओं में से कुल 4253 मतदाताओं ने मतदान किया। चुनाव अध्यक्ष पद पर केन्द्रित रहा। मतदान 34.5 प्रतिशत के करीब रहा। इधर चुनाव के दौरान पुलिस ने महाविद्यालय के आसपास चप्पे चप्पे पर पहरा तैनात रखा। उपद्रव मचाने वाले छात्रों पर लगाम कसी गयी लेकिन फिर भी छात्र बाज नहीं आ रहे थे। महाविद्यालय के प्राचार्य जगदीश प्रसाद, मुख्य चुनाव अधिकारी डॉ. डीसी पंत, चीफ प्रॉक्टर डॉ. एएस उनियाल, डॉ. सीएस जोशी, डॉ. विनय विद्यालंकार सहित महाविद्यालय प्रशासन व्यवस्था पर नजर रखे रहा।

छात्रसंघ चुनाव प्रक्रिया से दिनभर फजीहत
हल्द्वानी। देर शाम तक हल्द्वानी शहर के हजारों अभिवावकों समेत दूर-दराज से कुमाऊं की सैर क ो आने वाले लोगों को छात्रसंघ चुनाव कारण फजीहत झेलनी पड़ी, वहीं सभी स्कूलों में आकस्मिक अवकाश की घोषणा कर दी गयी थी।
उल्लेखनीय है कि मंगलवार को जिलाधिकारी के सोमवार को जारी आदेश के अनुपालन में सभी माध्यमिक स्कूलों में छात्र संघ चुनावों को देखते हुए मंगलवार को अवकाश की घोषणा कर दी गयी थी। साथ ही प्रशासनिक मुस्तैदी के लिए तिकोनिया से बीयरशिवा स्कूल तक मुख्य मार्ग बैरिकेटिंग लगा कर बंद कर दिया गया, जिसके चलते वैकल्पिक मार्ग ठंडी सड़क व एमबी इंटर कालेज रोड पर छात्रसंघ प्रत्याशियों के जुलूस व नारेबाजी के बीच वाहनों को दिनभर रेंगते हुए निकलना पड़ा।

वोट के लिए कुछ भी करेंगे
हल्द्वानी। छात्र संघ के चुनावों में प्रत्याशी छात्राओं के आगे गिड़गिड़ाकर नजर आये। इतना ही नहीं छात्रों ने अपनी जीत के लिए छात्राओं के पैरों पर गिर गये। इस छात्रसंघ चुनाव में छात्राएं ही निर्णायक स्थिति में हैं। हर प्रत्याशी ने अपनी जीत के लिए साम-दाम-दंड भेद की नीति अपनायी। कुमाऊं के सबसे बड़े कालेज में छात्राओं की संख्या छात्रों से अधिक है इसलिए छात्र छात्राओं के इर्द-गिर्द घूमते नजर आये।
बाक्स
पानी के लिये तरसे वोटर
हल्द्वानी। एमबीपीजी डिग्री कॉलेज में वोट डालने पहुंचे छात्र-छात्रायें काफी देर तक धूप में खड़े होकर अपनी बारी का इंतजार करते रहे लेकिन किसी भी प्रत्याशी ने उनके पानी पीने तक का इंतजाम नहीं किया था। अधिकतर प्रत्याशियों के समर्थक केवल अपने प्रत्याशी के समर्थन में नारे लगाने तक ही सीमित रहे।

वोटर लिस्ट में नाम नहीं
हल्द्वानी। कुछ छात्र-छात्राओं को वोटर लिस्ट में नाम न होने की वजह से भी मायूस होना पड़ा। काफी देर तक कतार में लगने के बाद जब वोट देने के लिये पहुंचे तब पता चला कि वोटर लिस्ट में उनका नाम ही नहीं है। इससे भी कई वोटरों को निराश होना पड़ा।

About saket aggarwal

Check Also

तीन माह में भी पुलिस के हाथ खाली

किच्छा। 3 माह पूर्व ग्राम छिनकी में पुलिया के नीचे मिले युवक की हत्या का …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *