Home / Breaking News / किच्छा: प्रधान के पति ने साथियों संग मीडिकर्मी पर बोला हमला

किच्छा: प्रधान के पति ने साथियों संग मीडिकर्मी पर बोला हमला

किच्छा। भाजपा नेत्री व ग्राम प्रधान के पति ने साथियों के साथ दबंगई दिखाते हुये मीडियाकर्मी पर हमला बोल दिया। इस दौरान बीच-बचाव करने आयी मीडियाकर्मी की पत्नी व पुत्र से भी दबंगों ने मारपीट कर उन्हें घायल कर दिया। घटना में मीडियाकर्मी उसकी पत्नी व पुत्र गंभीर रूप से घायल हो गये। इसी बीच हमले के आरोपी धमकी देते हुये मौके से फरार हो गये। घायल अवस्था में तीनों को उपचार के लिये नगर के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र लाया गया। घटना की जानकारी पर क्षेत्र के तमाम मीडिया कर्मियों में रोष पनप गया। तमाम मीडियाकर्मी के साथ कोतवाली पहुंचे पीडि़त ने आरोपियों के खिलाफ नामजद तहरीर देते हुये कार्रवाई किये जाने की मांग की। पुलिस ने तहरीर के आधार पर मामले की जांच शुरू कर दी है। वहीं दूसरी ओर मामला सत्ता पक्ष की महिला नेत्री से जुड़ा होने के चलते कुछ भाजपा नेताओं द्वारा मामले को समझौता कर निपटाने का प्रयास किया जा रहा है। जानकारी के अनुसार निकटवर्ती ग्राम नारायणपुर कोठा किच्छा निवासी मीडियाकर्मी शम्भूनाथ चौधरी पुत्र बीरबल चौधरी ने कोतवाली पुलिस को दी तहरीर में कहा कि गत दिवस ग्राम प्रधान पति रामायन प्रजापति व ग्राम निवासी जगदीश प्रजापति के बीच किसी बात को लेकर विवाद हो गया था। उसी विवाद को निपटाने के लिये लालपुर पुलिस चौकी के सिपाही भी मौके पर पहुंचे थे। पीडि़त शम्भूनाथ ने कहा कि इसी दौरान ईटों से भरे ट्रैक्टर ट्राली ने मौके से गुजरने के दौरान उनके घर का नाला तोड़ दिया। प्रार्थी ने भविष्य में नाले को बचाने के लिये मौके पर बड़े पत्थर को रख दिया। आरोप है कि रखे गये पत्थर से बौखलाये रामायन प्रजापति पुत्र शिवनाथ, रामायण साधू पुत्र लालमोहर, रजनीश पुत्र रामहरख, अभिषेक प्रजापति पुत्र रामायन प्रजापति ने प्रार्थी के ऊपर लाठी-डंडों से हमला बोल दिया। इस दौरान प्रार्थी को बचाने के लिये आयी उसकी पत्नी सुषमा रानी व पुत्र अभिनव से भी आरोपियों ने मारपीट शुरू कर दी। घटना में प्रार्थी के सिर, आंख, हाथ व पैर पर गंभीर चोटें लगी है और वह गंभीर रूप से घायल हो गया। पीडि़त ने कहा कि मारपीट के बाद जान से मारने की धमकी देते हुये आरोपीगण मौके से फरार हो गये। घटना में घायल तीनों को उपचार के लिये नगर के सरकारी अस्पताल लाया गया। इधर घटना की जानकारी पर क्षेत्र के सभी मीडियाकर्मी भी सरकारी अस्पताल पहुंच गये। प्राथमिक उपचार के बाद पीडि़त शम्भूनाथ के साथ सभी मीडियाकर्मी कोतवाली पहुंचे और घटना की कड़े शब्दों में निंदा करते हुये आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर कड़ी कार्यवाही किये जाने की मांग की। मीडियाकर्मियों ने चेतावनी देते हुये कहा कि अगर आरोपियों के खिलाफ जल्द कार्यवाही कर उन्हें गिरफ्तार न किया गया तो मीडियाकर्मी आन्दोलन से भी पीछे नहीं हटेंगे। इस मौके पर सुरेन्द्र खुराना, संदीप जुनेजा, सुरजीत कामरा, राजू सहगल, शिवम शर्मा, रंजीत सिंह, राज सक्सेना, विशाल शर्मा, विकास छाबड़ा, मो. यासीन, नरेश जोशी, हर्ष तनेजा, अब्दुल अली, वेद प्रकाश आदि मौजूद थे।

 

 

About saket aggarwal

Check Also

तिवारी का अंतिम संस्कार कल, पुलिस मुस्तैद

हल्द्वानी। पूर्व सीएम नारायण दत्त तिवारी के अन्तिम दर्शन/अन्तेष्टि हेतु सुरक्षा एवं यातायात व्यवस्था को …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *