Home / Breaking News / नैनीताल : कीनिया के स्टीफन ने सबसे तेज दौड़े
रविवार को नैनीताल में आयोजित मानसून मैराथन रेस को रवाना करते मुख्य अतिथि।

नैनीताल : कीनिया के स्टीफन ने सबसे तेज दौड़े

नैनीताल। रविवार को रन टू लिव संस्था की दसवीं नैनीताल मानसून मैराथन आयोजित की गई। जिसके अलग अलग वर्गों के लिए 600 से अधिक धावकों ने इस रेस में हिस्सा लिया। रन प्रतियोगिता का उद्घाटन एलआईसी के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर विनय साह ने किया। मुख्य 21 किलोमीटर की मैराथन में कीनिया के स्टीफन पहल, विपिन दूसरे व अनिल यादव तीसरे स्थान पर रहे। जबकि महिला केटेगरी में अर्पिता पहले रेनू दूसरे तथा सीमा पटेल तीसरे स्थान पर रही। बालक वर्ग में अनिल कुमार अव्वल रहे। जूनियर बालिका वर्ग में अर्पिता तथा बालक वर्ग में प्रत्यूष प्रथम रहा। सीनियर कैटेगरी बालक वर्ग में गिरीश शाही पहले तथा बालिका वर्ग में करना अव्वल रही। पुरस्कार वितरण एलआईसी के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर विनय साह ने किया।
आयोजित मानसून मैराथन की थीम नशे को न कहें (से नो टू ड्रग्स) रखी गई थी। दसवीं नैनीताल मानसून मैराथन प्रतियोगिता सुबह सात बजे से मल्लीताल बैंड स्टैंड से शुरू हुई। जो मालरोड, स्नोव्यू मार्ग, राजभवन मार्ग, बारापत्थर से माल रोड होते हुए वापस पंत पार्क पहुंची। वर्षा होने के बावजूद 600 धावकों ने उत्साह के साथ दौड़ में हिस्सा लिया। दौड़ समाप्त होने के बाद विजेताओं को पुरस्कार वितरित किये गये। नैनीताल मानसून मैराथन 21 किलोमीटर की दौड़ में किनिया, केरल, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, जम्मू कश्मीर, पंजाब, दिल्ली, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, उत्तराखंड समेत विभिन्न राज्यों के धावक अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया। इतना ही नहीं पहली मर्तबा प्रतियोगिता में कुमाऊं के बागेश्वर जिले के एक सीमांत गांव के 18 बच्चों के अलावा नैब हल्द्वानी (गौलापार) के 10 बच्चों ने रन फार फन प्रतियोगिता में प्रतिभाग किया। वर्षा के दौरान भी प्रतिभागियों ने उत्साह से आयोजन में हिस्सा लिया। प्रतियोगिता के तहत दो बच्चों को डीएन स्मृति पुरस्कार दिए गये। जबकि प्यारे लाल साह की स्मृति में आदर्श राजकीय कन्या इंटर कालेज की छात्राओं को भी पुरस्कृत किया गया। बुजुर्ग वर्ग के खिलाडियों को नैनीताल के जाने-माने अधिवक्ता रहे स्व. नंद प्रसाद की स्मृित में पुरस्कार दिए गये। प्रतियोगिता के पुरस्कार वितरण समारोह के मुख्य अतिथि भारतीय जीवन बीमा निगम के एक्ज्यूकेटिव डायरेक्टर विनय साह जबकि बिशिष्ट अतिथि अर्जुन अवार्डी गुलाब चंद थे। बुजुर्ग वर्ग की खिलाडियों में पूणे की दुर्गा सिंह ने भी भाग लिया। आयोजन को सफल बनाने में आयोजक सचिव हरीश तिवारी, रघुवीर कालाकोटी, विरेमिया, मनीष जोशी, बाशा, भोपाल नयाल, हरीश नयाल, चंद्र विजय सिंह बिष्ट, एनके दीक्षित, एके सिंह, एसके छाबड़ा, वीरू ह्यांकी, विनय चौहान ,वासु साह, मनीष जोशी, जितेंद्र काला, योगेंद्र, खुशाल सिंह बिष्ट समेत कई खेल प्रेमियों ने सहयोग प्रदान किया।

About saket aggarwal

Check Also

हल्द्वानी: पुलिस कर्मियों के सामने ‘बेघर’  होने का संकट

कोतवाली में बैरक खाली करने के फरमान से मची खलबली सलीम खान हल्द्वानी। जहां एक …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *