Home / Breaking News / रुद्रपुर:नजूल पर विरोध से ‘सहमी’ भाजपा

रुद्रपुर:नजूल पर विरोध से ‘सहमी’ भाजपा

अभिषेक आनंद/रुद्रपुर। नजूल मुद्दे पर शहर में भाजपा सहमी सी नजर आ रही है। यही कारण है कि विरोध की आशंका के चलते सोमवार को अचानक कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक की जनसभा का स्थान बदल दिया गया। दोनों जनसभाएं ट्रांजिट कैंप क्षेत्र में रखी गईं जहां पर नजूल मुद्दा नहीं है।
शहर में नजूल इस बार बड़ा मुद्दा है। हाईकोर्ट नजूल भूमि पर बैठे लोगों को अतिक्रमणकारी बताकर इन्हें हटाने का आदेश जारी कर चुका है। पूर्व में कोर्ट के एक आदेश के अनुपालन में सरकार निवर्तमान मेयर समेत 16 पार्षदों को चुनाव लडऩे के लिए अयोग्य ठहरा चुकी है। इस बार नजूल पर बैठे लोगों को भी चुनाव लडऩे से अयोग्य बता दिया गया। इनके नामांकन खारिज हो चुके हैं। तकरीबन हर बस्ती में इस बार मालिकाना हक नहीं तो वोट नहीं के बैनर लगे हुए हैं। रम्पुरा में तो विरोध उग्र हो गया है। लगातार धरना चल रहा है। पार्षद पद के प्रत्याशी के चुनाव कार्यालय का उद्घाटन करने पहुंचे शहर विधायक राजकुमार ठुकराल को विरोध झेलना पड़ा था। ठुकराल को विरोध के चलते अपने वाहन में बैठकर निकलना पड़ा। सोमवार को कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक की शहर में दो जनसभाएं प्रस्तावित थीं। पहली जनसभा जगतपुरा में होनी थी। इसको लेकर पूरा प्रचार भी किया गया। बाजार तक में लाउडस्पीकर के जरिये सूचना प्रसारित की गई लेकिन ऐन मौके पर जगतपुरा की जनसभा का स्थान बदल दिया गया। इसे आजाद नगर में खिसका दिया गया। कहा जा रहा है कि विरोध की आशंका के चलते जनसभा का स्थान बदला गया। दूसरी ओर कहा ये भी जा रहा है कि ट्रांजिट कैंप में बागी हुए पूर्व सभासद दिलीप अधिकारी का असर कम करने के लिए कैबिनेट मंत्री की दोनों सभाएं ट्रांजिट कैंप में करा दी गईं। यहां बता दें कि पिछले 15 साल से क्षेत्र की नुमाइंदगी करने वाले दिलीप अधिकारी इस बार पार्टी से बागी हो गए हैं। अधिकारी ने सात वार्डों में अपने प्रत्याशी उतार रखे हैं।

 

 

कौशिक ने फिर पिलाई आश्वासन की ‘घुट्टी’
रुद्रपुर। नजूल के मुद्दे पर प्रदेश सरकार की ओर से शासन के प्रवक्ता शहरी विकास मंत्री मदन कौशिक ने मोर्चा संभाला। सोमवार को कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक ने दो जनसभाओं के माध्यम से कहा कि किसी भी सूरत में किसी को भी उजडऩे नहीं दिया जाएगा। कौशिक ने कहा कि नजूल भूमि के मुद्दे को लेकर सरकार गंभीर है। इसके लिए सुप्रीम कोर्ट में लड़ाई लड़ी जायेगी। नजूल भूमि से एक भी घर उजडऩे नहीं दिया जायेगा।
काबीना मंत्री मदन कौशिक सोमवार शाम ट्रांजिट कैम्प और आजादनगर में भाजपा मेयर प्रत्याशी रामपाल सिंह एवं पार्षद प्रत्याशियों के समर्थन में चुनावी सभाओं को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि रुद्रपुर में नजूल भूमि पर बसे लोगों को किसी भी हालत में उजडऩे नहीं दिया जायेगा। इसके लिए भाजपा पूरी तरह गंभीर है। चुनाव के बाद इस समस्या का समाधान प्राथमिकता से किया जायेगा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस लगातार निकाय चुनाव को टालने का प्रयास कर रही थी। कांग्रेस ने नजूल भूमि को लेकर हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी जिसके चलते यह नौबत आई है भाजपा सरकार लगातार इस समस्या को सुलझाने का प्रयास कर रही है। नजूल को लेकर हाईकोर्ट के आदेश के बाद भाजपा सुप्रीम कोर्ट पहुंच चुकी है और इस समस्या को सुलझाने का लगातार प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि जनता को यह सोचना होगा कि नजूल भूमि को लेकर राजनीति करने वाले लोग आखिर कौन हैं। कौशिक ने कहा कि भाजपा सरकार के रहते नजूल भूमि से एक भी घर नहीं उजड़ेगा। सरकार मालिकाना हक दिलाने के लिए विकल्प ढूंढ रही है। कौशिक ने कहा कि निकाय चुनाव में माहौल भाजपा के पक्ष में है। रुद्रपुर सहित अन्य स्थानों पर भी निकाय चुनाव में एक बार फिर भाजपा का परचम लहरायेगा। कौशिक ने सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए कहा कि प्रदेश सरकार ने राज्य वित्त को करीब दो साल में तीन गुना कर विकास कार्यों को गति प्रदान की है। सरकार जीरो टॉलरेंस की नीति पर काम कर रही है। कई भ्रष्टाचारियों को सरकार जेल पहुंचा चुकी है। सरकार की नीति स्पष्ट है। कांग्रेस ने राज्य को विकास अवरुद्ध कर दिया था जिसे गति देने के लिए सरकार धरातल पर कार्य कर रही है। घोषणायें करने के बजाय सरकार का ध्यान काम करने पर है। जनसभा में विधायक राजकुमार ठुकराल ने कहा कि नजूल पर बसे लोगों को मालिकाना हक नही दिला सके तो वह अगला विधानसभा चुनाव नहीं लड़ेंगे। उन्होंने कहा कि भाजपा में सभी के हित सुरक्षित है। गरीबों को उजाडऩे की साजिश कांग्रेस ने रची थी ,इस साजिश को कामयाब नहीं होने दिया जायेगा। इस दौरान मेयर प्रत्याशी रामपाल सिंह, प्रदेश उपाध्यक्ष राजू भंडारी, राजकुमारी गिरी, जिलाध्यक्ष शिव अरोरा, सुरेश परिहार, भारत भूषण चुघ, उत्तम दत्ता, तरूण दत्ता, ललित मिगलानी, किरन विर्क, अजीत साहा, जमुना साना, अर्जुन विश्वास, राधेश शर्मा, राकेश सिंह, विजय फुटेला मौजूद थे।

About saket aggarwal

Check Also

हल्द्वानी : अज्ञात वाहन चालक के खिलाफ केस दर्ज

हल्द्वानी। सडक़ हादसे में अधेड़ की मौत के मामले में परिजनों ने अज्ञात वाहन चालक …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *