Home / Uttatakhand Districts / Dehradun / फैशन इंडस्ट्री में भविष्य संवरेगा एनआईएफटी पंजाब

फैशन इंडस्ट्री में भविष्य संवरेगा एनआईएफटी पंजाब

उत्तराखंड के युवाओं के लिए पेश किए बेहतर विकल्प
डिजाइन, प्रबन्धन एवं प्रोद्यौगिकी में शिक्षा प्रदान करता है संस्था-केएस बरार
अन्तरराष्ट्रीय स्तर पर प्रशिक्षित करने के लिए कटिबद्ध है एनआईएफटी- इंद्रजीत सिंह
देहरादून। कैरियर के मोर्चे पर तेजी से आगे बढ़ रही फैशन रही फैशन इंडस्ट्री में भविष्य बनाने में नॉर्दर्न इंडिया इंस्टीटूट ऑफ फैशन टेक्नोलॉजी (एनआईएफटी) पंजाब युवाओं को राह दिखा रहा है। एनआईएफटी पंजाब इस सेक्टर में मजबूती से आगे बढ़ते हुए उत्तराखंड के युवाओं को भी फैशन इंडस्ट्री में स्थापित करने के लिए आगे आया है।
संस्थान ने उत्तराखंड के युवाओं के लिए किफायती फीस में बेहतर कोर्सेज के विकल्प पेश किए है। संस्थान में दाखिले के लिए एक प्रवेश परीक्षा देनी होती है जिसका आयोजन तीन जून, 2018 को किया जाएगा। इस परीक्षा के लिए ऑनलाइन पंजीकरण अप्रैल 2018 से शुरू हो गये हैं और आवेदन जमा करने की अंतिम तारीख 25 मई 2018 रखी गई है। परिणामों की घोषणा 20 जून को होगी।
मंगलवार को देहरादून में पत्रकार वार्ता के दौरान संस्थान के निदेशक के एस बरार और रजिस्ट्रार इंदरजीत सिंह ने एनआईएफटी पंजाब की गतिविधियों और उपलब्धियों के बारे में विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने कहा कि एनआईएफटी पंजाब देश के टॉप टेन फैशन एजुकेशन संस्थानों में अग्रणी है। पंजाब सरकार के अधीन संचालित ये संस्थान हर साल सैकड़ो युवाओं को अच्छे भविष्य की ओर अग्रसर कर रहा है।
उन्होंने कहा उत्तराखंड के युवाओं की एनआईएफटी पंजाब पहले से ही पसंद रहा है, इसलिए संस्थान देवभूमि में युवाओ के लिए ओर बेहतर विकल्प लेकर फोकस कर रहा है। उन्होंने कहा कि नॉर्दन इण्डिया इन्सटीट्यूट ऑफ फैशन टेकनोलोजी (एनआईएफटी) फैशन, वस्त्र, प्रबंधन और प्रौद्योगिकी के छात्रों के करियर को संवारने के साथ उनके संचार कौशल को बढ़ाने में हर संभव प्रयास करता है।
निदेशक केएस बरार ने जानकारी देते हुए बताया कि एनआईएफटी पंजाब के फैशन उद्योग की आवश्यकता के अनुसार फैशन डिजाइन एवं क्लोदिंग टेकनोलॉजी, अपेरेल मर्चेन्डाइजिंग के क्षेत्र में नए पेशेवर पाठ्यक्रम, अल्पकालिक सर्टिफिकेट प्रोग्राम तथा व्यवसायिक प्रोग्राम भी पेश कर रहा है। उन्होंने बताया कि एनआईएफटी की स्थापना मोहाली में 1995 में पंजाब सरकार के द्वारा उद्योग एवं वाणिज्य मंत्रालय के तहत की गई। एनआईएफटी डिजाइन, प्रबन्धन एवं प्रोद्यौगिकी के क्षेत्र में शिक्षा प्रदान करता है। साल दर साल यह संस्थान अपने प्रोग्राम में नए पाठ्यक्रमों को शामिल कर रहा है और परिधान उद्योग के साथ इसके लगातार बेहतर संबंध स्थापित हो रहें है।
रजिस्ट्रार इंद्रजीत सिंह ने बताया कि आउटलुक पत्रिका द्वारा किए गए एक सर्वेक्षण के अनुसार यह संस्थान आज देश में नवें स्थान पर है। उन्होंने बताया कि संस्थान बारहवीं के बाद फैशन डिजाइन में बीएससी, बारहवीं के बाद टेक्सटाइल डिजाइन में बीएससी, फैशन डिजाइन (निट्स) में बीएससी, स्नातक के बाद परिधान विनिर्माण प्रोद्यौगिकी (गारमेन्ट मैनुफैक्चरिंग टेकनोलॉजी) में एमएससी और फैशन विपणन एवं प्रबन्धन (फैशन मार्केटिंग एंड मैनेजमेन्ट) में एमएससी पाठ्यक्रम प्रमुखता से उपलब्ध करा रहा है।

About madan lakhera

Check Also

अधिशासी अभियंता की कार्यप्रणाली पर उठाए सवाल

डोईवाला/ब्यूरो। उत्तरांचल बिजली कर्मचारी संघ ने अधिशासी अभियंता की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाते हुए विद्युत …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *