Breaking News
Home / Breaking News / नैनीताल: बारिश ने खोली पालिका की सफाई व्यवस्था की पोल

नैनीताल: बारिश ने खोली पालिका की सफाई व्यवस्था की पोल

उत्तरांचल दीप ब्यूरो, नैनीताल। शुक्रवार को यहां सुबह से ही आसमान में बादल छा गये। इस दौरान कभी-कभी धूप भी निकली। नैनीताल आये सैलानियों में बदलते मौसम का आनन्द उठाया। सरोवर नगरी नैनीताल में बीते दिन हुई मूसलाधार बारिश की वजह से नगर पालिका की सफाई व्यवस्था की पोल खुलकर सामने आ गई। बारिश की वजह से जहां एक ओर नालों से काफी मात्रा में कूड़ा जीवनदायिनी नैनी झील में समा गया वहीं दूसरी ओर बाजारों की नालियों की सफाई नहीं होने से सभी नालियां चोक हो गई और पूरा कूड़ा जालीदार नालियों के ऊपर जमा हो गया इतना ही नहीं कई स्थानों में तो नालियों का कूड़ा मुख्य मार्गों में जमा हो गया। हरिनगर, तल्लीताल, नया बाजार, तल्लीताल मस्जिद क्षेत्र, चार्टन लॉज, अयारपाटा सहित विभिन्न स्थानों पर नालियां चोक होने से पानी घरों व दुकानों में घुस गया जिससे अफरा तफरी का माहौल रहा। कुल मिलाकर गुरुवार को हुई बारिश ने पूरी तरह से शहर की सफाई व्यवस्था की सही तस्वीर को सामने रख दिया। दूसरी ओर भले ही जिला विकास प्राधिकरण की ओर से नगर में अवैध निर्माण कार्यों पर पूरी तरह से रोक लगाने का दावा किया जा रहा है लेकिन गुरुवार को हुई बारिश के दौरान नैनी झील में गिरने वाले नालों के मुहानों में काफी मात्रा में बारिश के पानी के साथ निर्माण सामग्री भी जमा हो गयी। संबंधित विभागों ने अवकाश होने के कारण सफाई भी नहीं की। नगर के अधिकांश पर्यटन स्थलों में पर्यटकों की उपस्थिति अन्य दिनों की तुलना के समान ही रही। वीकेंड के चलते नैनीताल समेत दर्शनीय स्थलों में पर्यटकों की भीड़-भाड़ से रौनक बनी रही। कुमाऊं मंडल विकास निगम की ओर से संचालित केबिल कार के मुख्य प्रबंधक दिनेश चंद्र उपाध्याय ने बताया कि में 650 पर्यटकों ने केबिल कार का आनंद लिया। नैनीताल वन प्रभाग की ओर से नैनीताल-कालाढूंगी मोटर मार्ग में स्थित वाटर फाल के संचालक दलीप सिंह ने बताया कि बारिश के बाद भी वहां 462 पर्यटक पहुंचे। हिमालय दर्शन, टिफिनटाप, बारापत्थर, किलबरी, सातताल, स्नोव्यू समेत अन्य पर्यटक स्थल पर्यटकों से गुलजार रहे। जीआईसी स्थित मौसम विज्ञान केंद्र के प्रभारी प्रताप सिंह बिष्ट की मानें तो अधिकतम तापमान 14 तथा न्यूनतम तापमान 10 डिग्री सेल्सियस जबकि अधिकतम आद्र्रता 90 तथा न्यूनतम आद्र्रता 70 फीसदी दर्ज की गई।

 

 
सीवर व गंदे पानी से लबालब हुई सडक़ें
नैनीताल। बीते दिन नैनीताल में हुई मूसलाधार वर्षा के दौरान शहर की नालियां व सीवर लाइन चोक हो गई और यह गन्दा पानी सडक़ों में आ गया जो बाद में झील में समा गया। बीते दिन नैनीताल में दिन में दो बजे बाद मूसलाधार वर्षा हुई जो करीब डेढ़ घण्टे तक जारी रही जिससे शहर के सभी छोटे बड़े नाले व सीवर लाइनें उफन आये और सडक़ें गन्दे पानी से लबालब हो गईं। यह गन्दा पानी झील में समा गई जिससे झील का पानी मटमैला हो गया। मल्लीताल बलरामपुर हाउस से शेरवानी को जाने वाली सडक़ वर्षा के दौरान नाले में तब्दील हो गई और रोड के किनारे लगी लोहे की जालियां पानी के तेज बहाव से सडक़ में आ गई साथ ही सीवर लाइन के ढक्कन भी बह गए जिन्हें आसपास के लोग ढूढक़र उनके स्थानों पर लाये हैं।

About saket aggarwal

Check Also

रामनगर : भाजपा नेता स्वामी के खिलाफ दी तहरीर

रामनगर। कांग्रेस के युवराज व सांसद राहुल गांधी को नशेड़ी कहे जाने से नाराज एनएसयूआई …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *