Home / Breaking News / भारत रत्न पंडित गोविंद बल्लभ पंत की 132वीं जयंती

भारत रत्न पंडित गोविंद बल्लभ पंत की 132वीं जयंती

हल्द्वानी। भारत रत्न पंडित गोविंद बल्लभ पंत की 132वीं जयंती के अवसर पर तिकोनिया स्थित पंत पार्क में कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस दौरान स्कूली बच्चों ने कई रंगारंग कार्यक्रम भी प्रस्तुत किये।


गोविंद बल्लभ पंत समारोह समिति के तत्वाधान में जयंती समारोह में पूर्व सीएम हरीश रावत, नेता प्रतिपक्ष डा. इंदिरा हृदयेश, मेयर जोगेन्द्र सिंह रौतेला, पूर्व केन्द्रीय मंत्री बची सिंह रावत ने अपने विचार रखे। इस दौरान वक्ताओं ने कहा कि देश की आजादी में पंडित जी का अहम योगदान था। आज की राजनीति के दौर में उनके आदर्शों पर चलने पर आवश्यकता है। कार्यक्रम में नन्हें मुन्ने बच्चों ने कई प्रस्तुतियां दीं।

इससे पूर्व उपस्थित लोगों ने गोविंद पंत की फोटो पर दीप प्रज्जवलन किया तथा मूर्ति पर माल्यापर्ण किया। मौके पर हेमंत बगडवाल, हुकुम सिंह कुंवर, अशोक खुल्बे, डीके पंत, रेनू जोशी, गोपाल रावत, विनोद दानी, नेत्र बल्लभ जोशी, प्रमोद बोरा, कमला नेगी, लता कुंजवाल, अनीता पांडे, गौरव आर्या, हेमंत बिष्टï, धु्रव कश्यप, विशाल नेगी, ममता दानी, योगेश कांडपाल, सुरेश पंत, नंदन सिंह देऊपा आदि मौजूद रहे।

 

 

 

गोविन्द बल्लभ पंत का 132 वां जन्म दिवस समारोह रोडवेज कर्मचारी संयुक्त परिषद ने मनाया। इस दौरान वक्ताओं ने उनके जीवन पर प्रकाश डालते हुये उन्हें महान अमर स्वतन्त्रता सेनानी बताया और कहा कि उनके द्वारा उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री पद पर रहते उन्होंने 1 मई 1948 को लखनऊ से बाराबंकी गाड़ी चलाकर राजकीय रोडवेज का गठन किया था, जो आज परिवहन निगम में तब्दील हो गया है।

इस दौरान रमेश चन्द्र पांडे, महेन्द्र सिंह जीना, महेन्द्र सिंह जीना, जेसी शर्मा, दीन दयाल जोशी, भूपाल दत्त जोशी, हरीश खुल्बे, गंगा राम, शंकर लाल, शंकर गिरी, गोकुला नन्द जोशी, सरस्वती राणा, चम्पा, धर्मेंद्र, भास्कर आदि उपस्थित थे ।

About saket aggarwal

Check Also

हल्द्वानी: पुलिस कर्मियों के सामने ‘बेघर’  होने का संकट

कोतवाली में बैरक खाली करने के फरमान से मची खलबली सलीम खान हल्द्वानी। जहां एक …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *